मुखपृष्ठ > कियानन बुई और मियाओ स्वायत्त प्रान्त
Sourav Ganguly: लीजेंड्स लीग में गांगुली के खेलने की खबर का क्या है सच? सौरव ने खुद उठाया रहस्य से पर्दा
रिलीज़ की तारीख:2022-10-07 12:53:39
विचारों:364

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाWTC फाइनल में खिताबी भिड़ंत से भी ज्यादा होगी कोहली और विलियमसन पर नजर, ब्रेट ली ने बताई वजह******ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का कहना है कि इस महीने भारत और न्यूजीलैंड के बीच होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्लूटीसी) के फाइनल मुकाबले में अलग-अलग स्टाइल की कप्तानी के बीच जंग होगी। ब्रेट ली ने साथ ही कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का क्रिकेट को लेकर दिमाग और ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस की गेंद से ट्रिक्स इन्हें दुनिया का क्रमश: सवश्रेष्ठ बल्लेबाज और गेंदबाज बनाते हैं।ली ने कहा, "जब आप इस समय के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को देखते हैं तो कोहली पर से नजर हटाना मुश्किल हो जाता है। उनका रिकॉर्ड शानदार है। इस उम्र में वह लगातार अपने खेल में सुधार कर रहे हैं।"ऑस्ट्रेलिया के लिए 76 टेस्ट और 221 वनडे मैच खेलने वाले ली ने कहा, "कमिंस के पास अच्छी तकनीक है और मेरे ख्याल से वह भविष्य में ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान बनेंगे।"उन्होंने कहा, "कोहली गतिशील खिलाड़ी हैं और टीम के लिए प्रेरणास्रोत्र हैं। मेरे ख्याल यह इसलिए है क्योंकि उन्हें पता है कि टेस्ट क्रिकेट उनके लिए, टीम के लिए और देश के लिए कितना महत्वपूर्ण है।"तेज गेंदबाज ने कहा, "हमें पता है कि कोहली बड़े अवसर में अच्छा करते हैं और वह चाहेंगे कि उनकी टीम डब्ल्यूटीसी की पहली विजेता बने। उनके लिए यह बहुत मायने रखता है।"अपने करियर में 310 टेस्ट विकेट और 380 वनडे विकेट लेने वाले ली ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन और कोहली को अलग-अलग तरह का कप्तान बताया। ली के अनुसार, कोहली आक्रमक है और विलियम्सन बोर हुए बिना रूढ़ीवादी है।ब्रेटली ने कहा, "कोहली और विलियम्सन अलग खिलाड़ी हैं। विलियम्सन बोर हुए बिना ज्यादा रूढ़ीवादी हैं और उनके पास क्रिकेट का अच्छा दिमाग है। मुझे उनके संयम के स्तर का कायल हूं, इसलिए मैं कहता हूं कि वह बोरिंग कप्तान नहीं हैं।"उन्होंने कहा, "दूसरी तरफ कोहली हैं और एक आक्रमक कप्तान हैं। इन दोनों के लिए कोई सही या गलत जवाब नहीं है क्योंकि मैं ऐसे कप्तानों के साथ खेला हूं जो अपरिवर्तवादी भी थे और आक्रमक भी थे। लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि कौन बाजी मारेगा।"

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दासुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक को दिया बड़ा झटका, सितंबर तक 15 करोड़ रुपए जमा करने को कहा****** सुप्रीम कोर्ट ने समस्या में घिरी कंपनी यूनिटेक लि. को सितंबर तक 15 करोड़ रुपए जमा करने का निर्देश दिया है। कोर्ट उन निवेशकों को पैसा लौटाएगी जिन्होंने कंपनी की गुड़गांव की एक परियोजना में फ्लैट खरीदे लेकिन उन्हें समय पर उनका कब्जा नहीं दिया गया। न्यायाधीश दीपक मिश्र और न्यायाधीश यू यू ललित की पीठ ने 38 निवेशकों का पैसा लौटाने के लिए कंपनी को पांच करोड़ रुपए दो सप्ताह जमा करने को कहा है। वहीं बाकी 10 करोड़ रुपए अगले महीने के अंत तक कोर्ट की रजिस्ट्री के पास जमा करने का निर्देश देते हुए कहा हमें तकलीफ हो रही है।पीठ ने यूनिटेक की पैरवी कर रहे अधिवक्ता कपिल सिब्बल से कहा, आप हमें यह बताइये आप कैसे भुगतान करेंगे? क्या निवेशकों को ब्याज भी दिया जाएगा, इस पर हम बाद में विचार करेंगे। सवाल के जवाब में सिब्बल ने कहा, हम ग्राहकों की चिंता को समझते हैं। वे वैकल्पिक मकान ले सकते हैं। हम किराए का भुगतान करेंगे। पीठ ने इस पर तपाक से कहा, क्या वे किराए का मकान छोड़ कर फिर किराये में जाएंगे? कुछ नहीं हो रहा है। सिब्बल ने न्यायालय से कहा कि मुद्दे का कुछ समाधान होना चाहिए लेकिन पीठ ने कहा, आप धन (15 करोड़ रुपए) जमा कीजिए। पहले मूल राशि दीजिए।पीठ ने कहा, हम अपीलकर्ता (यूनिटेक) को अदालत की रजिस्ट्री में 15 करोड़ रुपए जमा करने का निर्देश देते हैं। वह पांच करोड़ रुपए दो सप्ताह में और शेष राशि सितंबर 2016 के अंत में जमा करेंगे। न्यायालय ने मामले की अगली सुनवाई के लिए चार अक्टूबर की तारीख मुकर्रर की। सुनवाई के दौरान कई निवेशक मौजूद थे। उनमें से कुछ की पैरवी कर रहे अधिवक्ता ब्रजेश कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय उपभोक्ता आयोग के समक्ष यूनिटेक लि. ने आश्वासन दिया था कि वे फ्लैट का कब्जा देंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने गुरूग्राम के सेक्टर 70 में यूनिटेक विस्टा परियोजना के निवेशकों के बारे में कहा, अब हम धन वापस चाहते हैं।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दा'Hera pheri 3' को लेकर मेकर्स की ओर से आया बड़ा अपडेट, एक बार फिर दिखेंगे अक्षय, परेश और सुनील शेट्टी******Highlightsकई सालों पहले बड़े पर्दे पर आई फिल्म 'हेराफेरी' (Hera Pheri) और 'फिर हेराफेरी' (Phir Hera Pheri) में बॉलीवुड अभिनेताओं की जादुई तिगड़ी ने दर्शकों का खूब मनोरंजन किया था। (Akshay Kumar), (Paresh Rawal) और (Suniel Shetty) स्टारर फिल्म ने सभी के चेहरों पर मुस्कुराहट ला दी थी। आज भी लोग श्याम, बाबूराव और राजू के किरदार को नहीं भूल नहीं पाए हैं।इस बीच फिल्म के तीसरे पार्ट को लेकर एक अच्छी खबर सामने आ रही है। दरअसल, 'हेराफेरी' और 'फिर हेराफेरी' की बंपर सफलता के बाद मेकर्स ने घोषणा की है कि इस सीरीज की तीसरी फिल्म जल्द ही प्लोर पर लाई जाएगी, जिसमें एक बार फिर अक्षय कुमार, परेश रावल और सुनील शेट्टी धमाल मचातेनजर आएंगे।'हेरा फेरी' के प्रोड्यूसर फिरोज नाडियाडवाला ( Firoz Nadiadwala ) ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि फैंस को 'हेराफेरी 3' बहुत जल्द उसी स्टार कास्ट अक्षय कुमार, सुनील शेट्टी और परेश रावल के साथ देखने को मिलेगी और इसकी आधिकारिक घोषणा भी जल्द ही की जाएगी।प्रोड्यूसर ने आगे कहा कि फिलहाल कहानी को डेव्लप किया जा रहा है। इसमें कुछ चेंजेस किए जाएंगे। फिल्म की टीम इसके कुछ तौर-तरीकों पर काम कर रही है।फिरोज नाडियाडवाला के बयान के बाद फैंस खुशी से झूमने लगे। ट्विटर पर फिल्म के मीम्स भी तेजी से वायरल हो रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर्स फिल्म के सीन्स की वीडियो शेयर कर अपना-अपना रिएक्शन्स दे रहे हैं।

Sourav Ganguly: लीजेंड्स लीग में गांगुली के खेलने की खबर का क्या है सच? सौरव ने खुद उठाया रहस्य से पर्दा

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाHuawei ने भारतीय बाजार में 2799 रुपए में उतारा ऑनर बैंड 3, इन बेमिसाल खूबियों से है लैस****** चीन की दिग्‍गज टेक्‍नोलॉजी कंपनी Huawei ने भारत के वियरेबल मार्केट में अपनी जोरदार पेशकश दी है। कंपनी ने अपने ऑनर बैंड 3 का भारत में लॉन्‍च कर दिया है। इसकी कीमत 2799 रुपए रखी गई है। फोन की बिक्री के लिए कंपनी ने ईकॉमर्स वेबसाइट अमेजन इंडिया के साथ करार किया है। यहां पर यह फोन एक्‍सक्‍लूसिव रूप से सेल में उपलब्‍ध कराया गया है। यह देखने में बेहद ट्रेंडी है। कंपनी ने इसे कार्बन ब्‍लैक, नेवी ब्‍लू और ऑरेंज कलर में उपलब्‍ध कराया है। अमेजन पर फिलहाल ब्‍लैक कलर का बैंड ही बिक्री के लिए उपलब्‍ध है। ऑरेंज और ब्‍लू बैंड अगले महीने रक्षाबंधन के मौके पर उपलब्‍ध कराए जाएंगे।कंपनी ने यह बैंड खास तौर पर फिटनेस की जरूरत को देखते हुए डिजाइन किया है। इसमें खास ट्रैकिंग फीचर्स दिए हैं, जिन्‍हें आप मोबाइल फोन की मदद से देख सकेंगे। फीचर्स की बात करें तो इसमें हार्ट रेट मॉनीटर, वॉकिंग एवं रनिंग ट्रैकिंग, कंटी‍न्‍युअस हार्टरेट मॉनीटरिंग, स्‍लीप ट्रैकिंग और नोटिफिकेशंस आदि दिए गए हैं। यह बैंड वॉटर रेजिस्‍टेंट है। इसमें दमदार बैटरी का प्रयोग किया गया है, जिसकी मदद से एक बार पूरी तरह से चार्ज करने पर आप 30 दिनों तक इसे आसानी से प्रयोग कर सकते हैं।इसके लुक की बात करें तो इसे थोड़ा घुमावदार आकार दिया गया है, जिसके चलते कलाई पर कस कर बांधने पर यह असहज महसूस नहीं होता है। इसका वजन केवल 18 ग्राम है। यह बैंड खुद ही कैलोरीज के घटने की दर को पहचानता है। साथ ही यह भी बताता है कि यूजर द्वारा की गई कौन सी एक्टिविटीज उसकी सेहत के लिए फायदेमंद है और कौन सी नहीं। इसे ध्‍यान में रखते हुए यह रियल टाइम रनिंग प्‍लान भी पेश करता है।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाभारत के श्रमबल में महिलाओं की हिस्सेदारी है केवल 25 प्रतिशत, वैश्विक औसत है 49 प्रतिशत******Women form only 25 pc of India's workforce against 49 pc globallyभारत के श्रमबल में महिलाओं की हिस्सेदारी मात्र 25 प्रतिशत ही है, जबकि इसका वैश्विक औसत 49 प्रतिशत है। गैर-लाभकारी संगठन वाधवानी फाउंडेशन ने गुरुवार को महिला उद्यमिता दिवस पर यह बात कही। फाउंडेशन ने कहा कि आज समय की जरूरत है कि महिला उद्यमियों की क्षमता का पूरा इस्तेमाल किया जाए, जो अभी तक नहीं हो पाया है। वाधवानी फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अजय केला ने कहा कि यह स्पष्ट है कि भारत के तेजी से बढ़ते उद्यमिता के क्षेत्र में महिलाएं पीछे छूट गई हैं। इन उद्यमियों को प्रणालीगत समर्थन दिए जाने की जरूरत है। इसके तहत एक एकीकृत नीतिगत रूपरेखा होनी चाहिए, जिसमें ग्रामीण भारत पर भी समान तरीके से ध्यान देने की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि के क्षेत्र में महिलाओं की हिस्सेदारी मात्र 14 प्रतिशत है, ऐसे में देश के लिए एक बड़ा अवसर है, जबकि वह महिला उद्यमियों के बहुमूल्य संसाधनों को आगे बढ़ा सकता है और उनकी क्षमता का इस्तेमाल कर सकता है। उन्होंने बताया कि भारत में 6.3 करोड़ सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उपक्रम (एमएसएमई) हैं। इनमें से मात्र छह प्रतिशत की अगुवाई महिलाओं के पास है, जो पूरी तरह प्रतिभा की बर्बादी है। वाधवानी फाउंडेशन की स्थापना अमेरिका के उद्यमी डॉ.रोमेश वाधवानी ने की है।वाधवानी फाउंडेशन एक विश्वव्यापी संगठन है जो आर्थिक लाभ से ऊपर उठ कर भारत और अन्य उभरती अर्थव्यवस्थाओं में उद्यमशीलता के परिवेश में नई जान डालता है। खासकर भारत में महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने के उपायों पर जोर देते हुए महिला के नेतृत्व वाले व्यवसायों में मौजूद तरक्की की असीम संभावना को साकार करने के मकसद से यह महिलाओं की क्षमता बढ़ाने का प्रयास करता है।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाSupreme Court on Stray Dogs: "आवारा कुत्तों को भी है खाने का अधिकार," सुप्रीम कोर्ट ने वापस लिया अंतरिम आदेश******Highlights सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को अपना वह अंतरिम आदेश वापस ले लिया, जिसके तहत उसने आवारा कुत्तों को खिलाने के अधिकार के संबंध में दिल्ली उच्च न्यायालय के 2021 के फैसले पर रोक लगाई थी। उच्च न्यायालय ने 2021 में अपने आदेश में कहा था कि आवारा कुत्तों को भी भोजन का अधिकार है और नागरिकों को उन्हें (कुत्तों को) खिलाने का अधिकार।शीर्ष अदालत ने एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) ‘ह्यूमैन फाउंडेशन फॉर पीपल एंड एनिमल्स’ की याचिका पर चार मार्च को इस आदेश पर यह कहते हुए रोक लगा दी थी कि इससे आवारा कुत्तों से खतरों की आशंका बढ़ेगी। न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित, न्यायमूर्ति एस.रवीन्द्र भट तथा न्यायमूर्ति सुधांशु धूलिया की पीठ ने इन दलीलों का संज्ञान लिया कि उच्च न्यायालय का आदेश एक दीवानी मामले में सुनाया गया था, जिसमें दो निजी पक्षकार आमने-सामने थे और एनजीओ को इस मुकदमे में हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है।पीठ ने इस तथ्य का भी संज्ञान लिया कि असली मुकदमे के दोनों पक्षों के बीच विवाद का निस्तारण हो चुका था, इसलिए तीसरे पक्ष के इशारे पर मुकदमे को जारी रखने की जरूरत नहीं थी। अपने आदेश में शीर्ष अदालत ने कहा, ‘‘यह विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) दिल्ली उच्च न्यायालय के 24 जून 2021 के फैसले से उत्पन्न होती है। अपने फैसले के तहत न्यायाधीश कई निष्कर्ष पर पहुंचे हैं।’’न्यायालय ने कहा कि बाद में इस फैसले पर रोक लगा दी गयी थी। पीठ ने अपने आदेश में कहा, ‘‘यह याचिका (उच्च न्यायालय के) फैसले के खिलाफ अपील की अनुमति के लिए दायर की गई थी, क्योंकि एनजीओ इस वाद में पक्षकार नहीं था। ऐसा समझा जाता है कि मूल वाद के दोनों पक्षों ने मामला सुलझा लिया था। चूंकि मामला दोनों निजी पक्षों के बीच विवाद को लेकर था, इसलिए एसएलपी दायर करने की अनुमति मांगने का याचिकाकर्ता का कोई अधिकार नहीं है। हम, इसलिए याचिका का निस्तारण करते हैं और अंतरिम आदेश वापस लेते हैं।’’इससे पहले शीर्ष अदालत ने एनजीओ की अपील पर नोटिस जारी करते हुए भारतीय पशु कल्याण बोर्ड, दिल्ली सरकार और अन्य से भी जवाब मांगा था। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा था कि आवारा कुत्तों को भोजन का अधिकार है और नागरिकों को सामुदायिक कुत्तों को खिलाने का अधिकार है। अदालत ने तब कहा था कि इस अधिकार का इस्तेमाल करते समय यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि इससे दूसरों के अधिकार का हनन न हो और उत्पीड़न न हो, साथ ही किसी के लिए यह परेशानी का सबब न बने।

Sourav Ganguly: लीजेंड्स लीग में गांगुली के खेलने की खबर का क्या है सच? सौरव ने खुद उठाया रहस्य से पर्दा

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दागुजरात: 10 अप्रैल तक शहरों में स्कूल किए गए बंद, परीक्षाओं की बदली गई डेट****** गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। गुजरात सरकार ने राज्य के 8 नगर निगमों में 10 अप्रैल तक सभी स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया है। इतना ही नहीं कॉलेज और युनिवर्सिटी में जो परीक्षाएं 19 मार्च से निर्धारित की गईं थी उन परीक्षाओं को अब अप्रैल में करवाया जाएगा। हालांकि ऑनलाइन परीक्षा और पढ़ाई पहले की तरह चालू रहेगी।गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1276 नए मामले सामने आए जबकि कुल 3 लोगों की मौत दर्ज की गई है। अहमदाबाद में कोरोना के 304 और सूरत में 395 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं।केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि कोरोना वायरस के 79.54% नए मामले महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु से हैं। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, भारत में कल (17 मार्च) तक कोरोना वायरस के लिए कुल 23,03,13,163 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 10,63,379 सैंपल कल टेस्ट किए गए।केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 35,871 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,14,74,605 हुई। 172 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,59,216 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या अब 2,52,364 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,10,63,025 है। देश में कुल 3,71,43,255 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाअरविंद केजरीवाल ने दाखिल किया नामांकन, 6 घंटे करना पड़ा इंतजार******दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आखिर 6 घंटे के लंबे इंतजार के बाद नई दिल्ली विधानसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए आज नामांकन का अंतिम दिन था और केजरीवाल को नामांकन दाखिल करने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा। दरअसल नामांकन का अंतिम दिन होने की वजह से आज नामांकन दाखिल करने वालों की भीड़ बहुत ज्यादा थी जिस वजह से नामांकन भरने के लिए अरविंद केजरीवाल का नंबर 45वां हो गया और उन्हें अपना नामांकन दाखिल करने के लिए शाम तक का इंतजार करना पड़ा।अरविंद केजरीवाल पहले सोमवार को अपना नामांकन दाखिल करने के लिए निकले थे, लेकिन नामांकन से पहले वे रोड शो में व्यस्त हो गए और जबतक कार्यालय पहुंचे तबतक समय निकल चुका था। मंगलवार को जब वे फिर नामांकन के लिए पहुंचे तो वहां पर नामांकन भरने वालों की लंबी भीड़ थी, ज्यादा भीड़ को देखते हुए अरविंद केजरीवाल की पार्टी के नेताओं ने आरोप लगाया कि भीड़ भाजपा की वजह से आई है।आम आदमी पार्टी नेतासौरभ भारद्वाज ने कहा कि जो लोग अरविंद केजरीवाल से पहलेनामांकन भरने के लिए खड़े हुए हैं उनके पास अपने नाम का प्रस्ताव देने के लिए 10 लोगों की मंजूरी भी नहीं है लेकिन वे फिर भी अधूरे दस्तावेज के बावजूद अपना नामांकन भरने की जिद पर अड़े हुए हैं, सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि ये लोग अरविंद केजरीवाल को नामांकन नहीं भरने देंगे और इन लोगों के पीछे भारतीय जनता पार्टी का हाथ है।

Sourav Ganguly: लीजेंड्स लीग में गांगुली के खेलने की खबर का क्या है सच? सौरव ने खुद उठाया रहस्य से पर्दा

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाDelhi Fire : दिल्ली के पटपड़गंज में अस्पताल में लगी आग, दमकल की पांच गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं******Highlights दिल्ली के पटपड़गंज में जैन अस्पताल में आग लगने की खबर है। पटपड़गंज के पुष्पांजलि इन्कलेव स्थित इस अस्पताल में आग की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की पांच गाड़ियां मौके पर रवाना कर दी गईं। बताया जाता है कि आग अस्पताल के दूसरे फ्लोर पर लगी है। फिलहाल आग पर काबू पाने की कोशिशें जारी हैं। किसी के हताहत होने की सूचना फिलहाल नहीं है।

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाअयोध्या विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट को 10 दिनों में पर्यवेक्षक नियुक्त करने को कहा****** अयोध्या जमीन विवाद केस में ने सोमवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट को चीफ जस्टिस से कहा है कि वह 10 दिनों के अंदर नए पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करें। पिछले कुछ महीनों से विभिन्न पक्षों ने अयोध्या की विवादित जमीन दावा किया है। हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने आदेश दिया था कि अयोध्या का 2.77 एकड़ का विवादित इलाके तो तीन भागों में बांटकर सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्माही अखाड़ा और रामलला को सौंप दी जाए।21 अगस्त को उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने कहा था कि बाबर की सेना के कमांडर मीर बाकी ने 16वीं शताब्दी में मंदिरों के बीच एक मस्जिद का निर्माण करके हिंदुओं और मुसलमानों की बीच एक कलह पैदा कर दिया। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने एक बयान में कहा, ' मीर बाकी बाबर की सेना का कमांडर था। वह एक शिया था और उसने हिंदुओं और मुसलमानों के बीच कलह के बीज बोने के लिे 1528-29 में मंदिरों के बीच मस्जिद का निर्माण कराया था।'आईएएनएस के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट 5 दिसंबर से बगैर किसी स्थगन के इस केस की लगातार सुनवाई करेगा। जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस अशोक भान और जस्टिस अब्दुल नसीर की बेंच ने संबंधित पक्षों से कहा है कि वह अपने दस्तावेजों को 12 हफ्ते के अंदर अंग्रेजी में ट्रांसलेट करा लें। ये दस्तावेज 8 विभिन्न भाषाओं में हैं।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाहरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 LIVE Updates: करनाल में राजनाथ ने कहा, पाकिस्तान को मजबूत करते हैं कांग्रेस के बयान******के मुख्यमंत्री औरनेता, 2 बार मुख्यमंत्री रहचुकेनेता,(JJP) के नेता और पूर्व लोकसभा सांसदसमेतदमामदिग्गज इस बारहरियाणाकेमेंएक-दूसरेकोपटखनीदेनेकीकोशिशमें हैं।इनकेअलावाबहुजन समाज पार्टी और इंडियन नेशनल लोकदलभीपूरेदमखमके साथमैदानमें डटे हुए हैं।इतनेकद्दावरनेताजबचुनावीअखाड़े मेंउतरेंगेतोखबरेंभीभरपूरआएंगी,इसलिएसे जुड़ी हर छोटी-बड़ी खबर केबारेमेंजाननेके लिएहमारेसाथ बनेरहें:

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाआखिर क्यों इन दिनों दवाब महसूस कर रही हैं अमायरा दस्तूर****** बॉलीवुड अभिनेत्री इन दिनों अपने शो 'द ट्रिप' के दूसरे सीजन को लेकर चर्चा में आ गई हैं। हालांकि इसे लेकर वह थोड़ी नर्वस भी हैं। दरअसल उनका कहना है कि वह 'द ट्रिप' के दूसरे सीजन में लीजा हेडन की जगह पर शामिल होने को लेकर नर्वस हैं। दरअसल पहले सीजन में लीजा के काम को काम को काफी पसंद किया था। अमायरा का कहना है कि शो के पहले सीजन में लीजा बेहतरीन प्रदर्शन कर चुकी हैं।मॉडल से अभिनेत्री बनीं अमायरा को 'द ट्रिप' के 4 मुख्य किरदारों में से एक के लिए लीजा की जगह चुना गया है। इसमें श्वेता त्रिपाठी, मल्लिका दुआ और सपना पब्बी भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं। वेब सीरीज की शूटिंग जुलाई में शुरू होगी।अमायरा ने कहा, "मैं कुछ समय से वेब सीरीज करना चाहती थी और अब 'द ट्रिप' के साथ यह मौका मिलने पर मैं उत्साहित हूं। मैं थोड़ी नर्वस हूं क्योंकि यह दूसरा सीजन है और मैं दवाब महसूस कर रही हूं क्योंकि शो के पहले सीजन में लीजा ने शानदार काम किया था। चूंकि यह हिदी में कॉमेडी का मेरा पहला प्रयास है, इसलिए मैं लोगों को अपनी यह प्रतिभा दिखाने के लिए उत्साहित हूं।" सोनाम नायर द्वारा निर्देशित नए सीजन की कहानी का खुलासा होना बाकी है।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाTerrorism In Karnataka: शिवमोगा में पुलिस ने ISIS टेरर मॉड्यूल का भंडाफोड़ कर किए चौंकाने वाले खुलासे, दो आरोपी गिरफ्तार******Highlightsकर्नाटक राज्य में ISIS टेरर मॉड्यूल केस को लेकर शिवमोगा (Shivamogga) जिले के SP ने चौंका देने वाले खुलासे किए हैं। सिटी के पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी प्रसाद के मुताबिक इस केस में गिरफ्तार किए गए दोनों युवक हाइली रेडिक्लाइस्ड थे। जो इस सिद्धांत पर चल रहे थे अंग्रेजों से जो आजादी मिली थी वो असली आज़ादी नहीं है, असली आजादी तभी मिलेगी जब भारत में शरिया लॉ लागू होगा। पुलिस के मुताबिक इस केस में अब तक फरार मुख्य आरोपी शारीक़ ने जबीउल्लाह को तैयार किया गया था। अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए इन्होंने प्रायोगिक तौर पर बम धमाके की ट्रैनिंग भी ली। इसके लिए इन्होंने अमेजॉन से टाइमर और अन्य बम बनाने की सामग्री खरीदी और कुछ धमाकों को अंजाम दिया था।ऐसे हुई थी आरोपियों की गिरफ्तारीदरअसल 15 अगस्त को वीर सावरकर पोस्टर विवाद को लेकर शिवमोग्गा में बवाल हुआ था और एक हिंदू युवक प्रेम सिंह पर चाकू से जान लेवा हमला किया था इस मामले में शिवमोग्गा ग्रामीण पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ी, शारिक नाम के एक व्यक्ति की भूमिका का खुलासा हुआ, और उसके सहयोगी माज और यासीन का नाम सामने आया। माज और शारिक 2020 मेंगलुरु ग्रैफिटी मामले में अरेस्ट हुए और जेल भी गए थे।आरोपी आतंकी गतिविधियों में थे शामिलपुलिस के मुताबिक बेल पर छूटने के इन्होंने प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) की आतंकी गतिविधियों को आगे बढ़ाने का फैसला किया, देश की एकता, सुरक्षा और संप्रभुता को भंग करने के लिए एक साजिश रची, विस्फोटक इक्कठा करना शुरू किया और क्रिप्टो करेंसी से पेमेंट किया। पुलिस की जांच में ये बात भी सामने आई कि इन लोगों ने भारत के राष्ट्रीय ध्वज को भी जलाया था।ऐसे हुई थी इन आरोपियों की मुलाकातसैयद यासीन पीयूसी की पढ़ाई कर रहा था जब उसकी मुलाकात माज मुनीर अहमद से हुई, जो उसके साथ पढ़ रहा था, माज़ मुनीर अहमद के माध्यम से यासीन शारिक से परिचित हो गया, जब भी यासीन माज़ से मिला वो और शारिक, यासीन से जिहाद की बात करते थे। शारिक ने जिहाद से जुड़ी फ़ाइलें, वीडियो/ऑडियो और उनके चरमपंथ, कट्टरवाद, ISIS के कार्यों और अन्य आतंक से संबंधित लिंक यासीन को टेलीग्राम, सिग्नल, इंस्टाग्राम, वायर, एलीमेंट आदि जैसे मैसेंजर ऐप के माध्यम से भेजना शुरू कर दिया।जांच में बरामद हुए ये सामानमामले की जांच को आगे बढ़ाते हुए तीनों आरोपियों और उनके रिश्तेदारों के घरों सहित शिवमोग्गा शहर, मंगलुरु शहर और तीर्थहल्ली में 11 जगहों पर एक साथ तलाशी ली गई। इस तलाशी में कुल 14 मोबाइल और 1 डोंगल, 2 लैपटॉप, 1 पेन ड्राइव और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, विस्फोट स्थल पर मिले। वहीं प्रायोगिक बम के अवशेष जिनमें बम बनाने के लिए आवश्यक सामग्री - रिले सर्किट, बल्ब, माचिस, तार, बैटरी, विस्फोटक सामग्री आदि और आधा जला भारत का तिरंगा और भड़काऊ दस्तावेज मिले हैं। मुख्य आरोपी शारिक की सघनता से तलाश की जा रही है।

लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाAkshay Kumar की फ्लॉप फिल्मों का 'कठपुतली' के बजट पर पड़ा असर, महज़ इतने करोड़ में फाइनल हुई डील******Highlights: बॉलीवुड की फिल्में इस वक्त बुरे दौर से गुज़र रही हैं। सोशल मीडिया पर जो भी फिल्म रिलीज़ हो रही है उसे लेकर यूजर्स बायकॉट करने की मांग करने लगते हैं। इन सब चीज़ों का असर पूरी एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री पर पड़ रहा है। फिल्में फ्लॉप हो रही हैं। मेकर्स को भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। कुछ ऐसा ही हाल है अक्षय कुमार (AKshay Kumar) की फिल्मों का।अक्षय कुमार (AKshay Kumar) की पिछली सभी फिल्में फ्लॉप साबित हुई हैं। एक्टर की बैक टू बैक तीन फिल्में बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप हुई हैं। बच्चन पांडे (Bachchhan Paandey), सम्राट पृथ्वीराज (Samrat Prithviraj) और फिर रक्षा बंधन (Raksha Bandhan) ने अक्षय कुमार की उम्मीदों के साथ-साथ उनका फीस का बजट भी हिलाकर रख दिया है। आलम ये है कि अब मेकर्स अक्षय के साथ फिल्में करने से पहले कई बार सोच-विचार करने पर मजबूर हैं।ऐसे में खिलाड़ी कुमार की अपकमिंग फिल्म कठपुतली (Cuttputlli) रिलीज के लिए तैयार है। फिल्म की कहानी सीरियल किलर मर्डर मिस्ट्री पर बेस्ड है। इस फिल्म को रंजीत एम तिवारी (Ranjit M Tewari ) ने डायरेक्ट किया है, जो इससे पहले अक्षय के साथ फिल्म बेल बॉटम (Bell Bottom) कर चुके हैं।अक्षय कुमार की फिल्म कठपुतली (Cuttputlli) 2 सितंबर को डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज होगी। मिली जानकारी के अनुसार मेकर्स ने फिल्म के OTT राइट्स पहले ही सेल कर दिए हैं। खबरें है किफिल्म के डायरेक्ट ओटीटी रिलीज के लिए 180 करोड़ रुपये की डील हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 135 करोड़ रुपये फिल्म के लिए और 45 करोड़ रुपये म्यूजिक आदि के लिए चार्ज किए गए हैं।अक्षय कुमार की तीन फिल्मों के फ्लॉप होने का असर उनकी आने वाली फिल्मों पर भी पड़ सकता है। एक्टर सालभर फिल्में करने के लिए जाने जाते हैं और इस बात में कोई शक भी नहीं है। खिलाड़ी कुमार के पास फिलहाल फिल्मों की लाइन लगी हुई है। वर्क फ्रंट की बात करें तो अक्षय के पास अभी 'जॉली एलएलबी 3' के साथ ही 'गोरखा', 'राम सेतु', 'सेल्फी', 'मिशन सिंड्रेला' और 'कैप्सूल गिल' जैसी फिल्में हैं। वहीं, अक्षय कुमार फिल्म 'द एंड' से डिजिटल डेब्यू करने वाले हैं।लीजेंड्सलीगमेंगांगुलीकेखेलनेकीखबरकाक्याहैसचसौरवनेखुदउठायारहस्यसेपर्दाIFFM 2022: रणवीर सिंह को फिल्म '83' के लिए मिला एक्टर ऑफ द ईयर का अवार्ड, फैंस बोले 'आप डिजर्व करते हैं'******Highlightsरणवीर सिंह ने जब से न्यूड फोटोशूट करवाया था तब से वह और भी ज्यादा चर्चा में हैं। वहीं रणवीर सिंह को लेकर एक अच्छी खबर आई है। फ़िल्म '83' में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कपिल देव की भूमिका में अपने करियर का बेस्ट परफॉर्मेंस देने वाले बॉलीवुड सुपरस्टार रणवीर सिंह को प्रतिष्ठित इंडियन फ़िल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न (IIFM) में बेस्ट एक्टर ऑफ द ईयर का अवार्ड मिला है।कबीर खान द्वारा निर्देशित '83' की रिलीज के बाद से ही अपनी बेहतरीन परफॉर्मेंस से रणवीर ने अवॉर्ड फंक्शन में अपना जलवा बिखेरा है। उनका कहना है कि '83' उनकी शानदार फिल्मोग्राफी में हमेशा सबसे अधिक पसंद की जाने वाली फिल्मों में से एक रहेगी। ओमिक्रॉन जब पीक पर था उस वक्त '83' को 12.64 करोड़ की ओपनिंग मिली और भारत में इसने कुल 110 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया। '83' का कुल ग्लोबल कलेक्शन 200 करोड़ का है। कोविड महामारी के बाद के बॉलीवुड फिल्मों के परिणामों को देखते हुए, '83' का बॉक्स ऑफिस रिजल्ट अभी भी बॉलीवुड के लिए एक बहुत बड़ा प्लस है।रणवीर कहते हैं, "मैं IFFM के सभी जूरी मेंबर्स को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मेरे करियर की बेहतरीन फ़िल्म '83' में कपिल देव की भूमिका के लिए बेस्ट एक्टर ऑफ द ईयर का अवार्ड दिया। यह हमेशा मेरी फिल्मोग्राफी की सबसे पसंदीदा फिल्मों में से एक रहेगी।" उन्होंने कहा, "लेकिन तारीफों से ज्यादा, फ़िल्म को बनाने के प्रोसेस को मैं हमेशा संजो कर रखूंगा। मुझे यह मौका देने के लिए, मुझे गाइड करने के लिए और अपनी लीडरशिप से मुझे प्रेरित करने के लिए मैं कबीर सर का आभारी हूं। इस सम्मान को मैं '83' की कास्ट एंड क्रू के साथ शेयर करता हूं जो मेरे लिए बहुत प्रिय है।रणवीर इस सम्मान को कपिल देव की विश्व कप विजेता टीम के हर सदस्य को समर्पित करते हैं। वे कहते हैं, "मैं यह सम्मान कपिल के डेविल्स को समर्पित करता हूं, जो सपने देखने की हिम्मत करने वाले जेंटलमेन का एक बेहतरीन ग्रुप है, जिन्होंने अपनी कोशिशों और उपलब्धियों के जरिए हमें दिखाया कि हम भारतीय दुनिया में बेस्ट हो सकते हैं।"किरदार में समा जाने की अपनी असाधारण खासियत की वजह से रणवीर को सर्वसम्मति से उनकी पीढ़ी का बेस्ट एक्टर समझा जाता है। 'बैंड बाजा बारात' में अपनी डेब्यू से लेकर 'लुटेरा' और 'बाजीराव मस्तानी' तक, 'पद्मावत' से 'सिम्बा' तक, 'गली बॉय' से '83' तक - रणवीर ने पिछले 10 वर्षों में भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे शानदार परफॉर्मेंसेज दी हैं।हाल ही में जारी IIHB TIARA रिसर्च में, रणवीर देश के कूलेस्ट सुपरस्टार की लिस्ट में सबसे ऊपर हैं। यह एक बहुत ही अहम ब्रांड एट्रिब्यूट है जो उन्हें ब्रांड एंडोर्समेंट स्पेस में सबसे अधिक मांग वाला चेहरा बनाती है। इसी रिसर्च के अनुसार रणवीर बॉलीवुड में ट्रेंडिएस्ट सुपरस्टार होने के मामले में भी टॉप पर हैं। वर्तमान में रणवीर की ब्रांड वैल्यू 158 मिलियन अमरीकी डालर है, जो 2020 की उनकी 102.93 मिलियन अमरीकी डालर की ब्रांड वैल्यूएशन में अच्छी ग्रोथ को दर्शाता है। वह वर्तमान में भारत के मोस्ट वैल्यूड फ़िल्म पर्सनालिटी हैं।आपको बता दें कि रणवीर सिंह इन दिनों अपनी आगामी फिल्म 'रॉकी और रानी की प्रेम कहानी' की शूटिंग में बिजी हैं। इस फिल्म में एक बार फिर वह आलिया भट्ट के साथ नजर आएंगे। रोहिट शेट्टी की सर्कस और सिंबा 2 में नजर आने वाले हैं। हाल ही में वह आलिया के साथ 'कॉफी विद करण 7' में मेहमान बनकर पहुंचे थे।

पिछला:Delhi Politics: संजय सिंह का आरोप, भाजपा ने 'आप' के 4 विधायकों को दिया 20 करोड़ का ऑफर
अगला:Ashes 2021-22: दूसरे टेस्ट के शुरू होने से ठीक पहले कंगारू टीम को लगा बड़ा झटका, कप्तान कमिंस बाहर
संबंधित आलेख