मुखपृष्ठ > हुआनन सिटी
अनिल कपूर ने ली COVID-19 वैक्सीन की दूसरी डोज़, बेटे हर्षवर्धन ने उनकी उम्र पर किया मजाकिया कमेंट
रिलीज़ की तारीख:2022-10-07 07:00:08
विचारों:047

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटएसी और फ्रिज की तरह अब एलईडी बल्ब पर भी लगेंगे बिजली बचत के सितारे, जनवरी से होगा अमल****** घरों में बड़े पैमाने पर उपयोग हो रहे एलईडी बल्ब पर भी अब एसी, फ्रिज की तरह बिजली बचत मानक वाले सितारें लगेंगे। सरकार अब एलईडी बल्ब को भी अनिवार्य रूप से स्टार लेबलिंग कार्यक्रम के दायरे में लाने की तैयारी कर रही है। अगले साल जनवरी से इसे लागू किया जा सकता है। स्टार लेबलिंग यानी स्टैंन्डर्ड एंड लेबलिंग कार्यक्रम बिजली मंत्रालय के अधीन आने वाले ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (BEE) का एक प्रमुख कार्यक्रम है। इसके तहत उत्पादों पर एक से लेकर पांच तक सितारे यानी स्टार दिये जाते हैं। स्टार की संख्या जैसे-जैसे बढ़ती है, वह उत्पाद उतनी ही कम बिजली की खपत करता है।व्‍यापारियों के लिए खुशखबरी, 15 दिनों के भीतर GST के तहत लिया गया इनपुट क्रेडिट खातों में होगा जमाBEE के महानिदेशक अभय बाकरे ने ई-मेल पर भेजे सवाल के जवाब में कहा कि एलईडी लैंप को स्टार रेटिंग कार्यक्रम के अंतर्गत अनिवार्य श्रेणी में लाया जा रहा है। इसे जनवरी 2018 से लागू किया जाएगा। फिलहाल एलईडी लैंप स्टार रेटिंग कार्यक्रम के अंतर्गत स्वैच्छिक श्रेणी में है। सरकार के उजाला कार्यक्रम के तहत अब तक लगभग 27 करोड़ एलईडी बल्ब बांटे जा चुके हैं। ऐसे में ऊर्जा दक्षता ब्यूरो यह सुनिश्चित करना चाहता है कि ग्राहकों को केवल गुणवाापूर्ण उत्पाद ही मिले। उसी कड़ी में यह कदम उठाया जा रहा है।स्टार रेटिंग कार्यक्रम के अंतर्गत कमरों में उपयोग होने वाले एसी, फ्रॉस्ट फ्री रेफ्रिजरेटर, ट्यूबलाइट, ट्यूबुलर फ्लोरेसेंट लैंप, रंगीन टीवी, इलेक्ट्रिक गीजर, इनवर्टर एसी जैसे नौ उत्पाद अनिवार्य श्रेणी में हैं। वहीं पंखे, एलपीजी स्टोव, वाशिंग मशीन, कंप्यूटर जैसे 12 उत्पाद स्वैच्छिक श्रेणी में हैं।मदर डेयरी ने बढ़ाई दूध की कीमतें, टोकन दूध दो रुपये प्रति लीटर महंगाएक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि BEE स्टैन्डर्ड एंड लेबलिंग कार्यक्रम में अन्य उत्पादों को शामिल कर इसका विस्तार कर रहा है। इन उत्पादों में चीलर्स और वर्चुअल राउटिंग एंड फारवार्डिंग समेत अन्य उत्पाद शामिल हैं। ये अभी स्वैच्छिक होंगे।BEE की वेबसाइट के अनुसार इस प्रमुख योजना से विा वर्ष 2016-17 में 18.32 अरब यूनिट बिजली की बचत हुई है। वित्‍त वर्ष 2011-12 से लेकर अब तक इस कार्यक्रम से 99.41 अरब यूनिट बिजली की बचत हुई है।एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि BEE डायरेक्ट कूल रेफ्रिजरेटर्स, कमरों में उपयोग होने वाले एयर कंडीशनर्स, वितरण ट्रांसफार्म और इलेक्ट्रिरक गीजर की ऊर्जा खपत मानकों की समीक्षा कर रहा है जिसका मकसद बाजार में बिजली खपत के लिहाज से इन उत्पादों को और बेहतर बनाना है। अभी ये सभी उत्पाद स्टार रेटिंग कार्यक्रम के अंतर्गत अनिवार्य श्रेणी में आते हैं।

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटTokyo Olympics 2020 : भारत की जीत को कप्तान मनप्रीत सिंह ने देश के स्वास्थ्यकर्मियों को किया समर्पित******ओलंपिक में 41 साल बाद हॉकी में पदक जीतने के बाद भावुक हुए भारतीय पुरुष टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने इस ऐतिहासिक पदक को देश के चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों को समर्पित किया जिन्होंने कोविड-19 महामारी के दौरान जीवन बचाने के लिए बिना थके काम किया।ब्रॉन्ज मेडल के प्ले ऑफ में जर्मनी को 5-4 से हराने के बाद जालंधर के 29 साल के मनप्रीत के पास अपनी भावनाओं को जाहिर करने के लिए शब्द नहीं थे। यह भारत का ओलंपिक में 12वां पदक है लेकिन यह उसे चार दशक से अधिक के इंतजार के बाद मिला।भारत ने पिछली बार ओलंपिक पोडियम पर 1980 मॉस्को खेलों के दौरान जगह बनाई थी जब उसने स्वर्ण पदक जीता था। भारत ने ओलंपिक में आठ स्वर्ण जीते हैं। मनप्रीत ने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि अभी मुझे क्या कहना चाहिए, यह शानदार था। प्रयास, मुकाबला, हम 1-3 से पीछे थे। मुझे लगता है कि हम इस पदक के हकदार थे। हमने इतनी कड़ी मेहनत की, पिछले 15 महीने हमारे लिए भी मुश्किल रहे, हम बेंगलुरू में थे और हमारे में से कुछ लोग कोविड से भी संक्रमित हुए।’’उन्होंने कहा, ‘‘हम इस पदक को चिकित्सको और स्वास्थ्यकर्मियों को समर्पित करना चाहते हैं जिन्होंने भारत में इतनी सारी जान बचाईं।’’ जर्मनी ने हर विभाग में भारतीय हॉकी टीम की परीक्षा ली और मनप्रीत ने भी विरोधी टीम के जज्बे की सराहना की।उन्होंने कहा, ‘‘यह काफी मुश्किल था, उन्हें अंतिम छह सेकेंड में पेनल्टी कॉर्नर मिला। हमने सोचा कि अपनी जान पर खेलकर भी हमें इसे बचाना है। यह काफी मुश्किल था। अभी मेरे पास शब्द नहीं हैं।’’ मनप्रीत ने कहा, ‘‘हमने लंबे समय से पदक नहीं जीता था। अब हमें और अधिक आत्मविश्वास मिलेगा, हां हम कर सकते हैं। अगर हम ओलंपिक में पोडियम पर जगह बना सकते हैं तो हम कहीं भी पोडियम पर जगह बना सकते हैं।’’भारत को सेमीफाइनल में बेल्जियम के खिलाफ 2-5 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी जिससे उसकी स्वर्ण पदक जीतने की उम्मीद टूट गई थी। मनप्रीत ने कहा कि कोच ग्राहम रीड ने खिलाड़ियों को प्ले ऑफ पर ध्यान लगाने के लिए कहकर निराशा से बाहर निकाला। भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘हमने हार नहीं मानी। हम वापसी करते रहे। यह शानदार अहसास है, सर्वश्रेष्ठ अहसास। हम यहां स्वर्ण पदक के लिए आए थे, हमने कांस्य पदक जीता, यह भी बहुत बड़ी चीज है। यह सभी हॉकी प्रशंसकों के लिए शानदार लम्हा है।’’उन्होंने कहा, ‘‘यह सिर्फ शुरुआत है, (इस कांस्य पदक के साथ) कुछ खत्म नहीं हुआ है।’’ भारत के लिए गोल करने वालों में शामिल रहे ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह मीडिया से बात करते हुए अपने आंसुओं पर काबू नहीं रख सके और उन्होंने कहा कि यह भारतीय हॉकी में शानदार चीजों की शुरुआत है।उन्होंने कहा, ‘‘भारत में लोग हॉकी को भूल रहे थे। वे हॉकी को प्यार करते हैं लेकिन उन्होंने यह उम्मीद छोड़ दी थी कि हम जीत सकते हैं। वे भविष्य में हमारे से और अधिक उम्मीदें लगा पाएंगे। हमारे ऊपर विश्वास रखें। ’’अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटWB Primary TET admit card 2021: शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड हुआ जारी, ऐसे करें चेक******पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ प्राइमरी एजुकेशन, कोलकाता ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी 2017) के लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिया है। जिन उम्मीदवारों ने परीक्षा के लिए पंजीकरण किया है, वे wbbpe.org या wbbprimaryeducation.org पर ऑनलाइन एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।

अनिल कपूर ने ली COVID-19 वैक्सीन की दूसरी डोज़, बेटे हर्षवर्धन ने उनकी उम्र पर किया मजाकिया कमेंट

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटSL vs SA : तीसरे टी-20 में साउथ अफ्रीका को मिली 10 विकेट से जीत, श्रीलंका दौरे का किया शानदार अंत******श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टी-20 मैच में साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम ने 10 विकेट से धमाकेदार जीत दर्ज की। इस जीत के साथ ही साउथ अफ्रीका ने अपने श्रीलंका दौरे पर टी-20 सीरीज का शानदार अंत किया। तीन मैचों की इस सीरीज में साउथ अफ्रीकी टीम ने 3-0 से जीत हासिल कर मेजबान श्रीलंका का क्लिन स्वीप किया।इस मुकाबले में मेजबान टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 120 रनों स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में साउथ अफ्रीकी टीम ने महज 14.4 ओवर के खेल में बिना कोई विकेट गंवाए 121 रन बना लिए।साउथ अफ्रीका के लिए ओपनर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक ने 46 गेंद में 59 रनों की दमदार पारी खेली। अपनी इस पारी में उन्होंने कुल 7 चौके लगाए। इसके अलावा रीजा हेंरिक्स ने 42 गेंद में 56 रनों की पारी खेली।टी-20 क्रिकेट में साउथ अफ्रीकी टीम की विकेटों के आधार यह तीसरी सबसे बड़ी जीत है। इस मुकाबले में टीम के ओपनर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक और रीजा हेंरिक्स के बीच पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड नाबाद 121 रनों की साझेदारी हुई। श्रीलंका के खिलाफ टी-20 क्रिकेट में किसी भी विकेट के लिए साउथ अफ्रीकी टीम की यह सबसे बड़ी साझेदारी भी है।इसके साथ ही साउथ अफ्रीकी टीम ने टी-20 क्रिकेट में लगातार सात मुकाबले जीतने के अपने रिकॉर्ड की बराबरी की। इससे पहले टीम ने साल 2009 में लगातार 7 मैच जीतने का रिकॉर्ड बनाया था।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटभ्रष्टाचार होगा खत्म, सरकार ने सीबीडीटी के 15 अधिकारियों को जबरन सेवानिवृत किया****** और अवैध गतिविधियों में संलिप्त अधिकारियों को बाहर का रास्ता दिखाने के अभियान के चौथे चक्र में सरकार ने 15 और कर अधिकारियों को जबरन सेवानिवृत कर दिया। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड () ने केन्द्रीय सिविल सेवा (पेंशन) नियम 1972 के नियम 56 (जे) के तहत भ्रष्टाचार और दूसरे आरोपों वाले 15 वरिष्ठ कर अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति पर भेज दिया। आधिकारिक सूत्रों न यह जानकारी दी। गौरतलह है कि इस साल जून के बाद यह चौथा मौका है जब सरकार ने भ्रष्ट और अवैध गतिविधियों के आरोपों वाले कर अधिकारियों को नौकरी से बाहर किया है। इससे पहले के तीन दौर में केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के 12 अधिकारियों सहित कुल 49 अधिकारियों को बाहर किया गया। सूत्रों ने बताया कि कर विभाग का यह कदम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लाल किले से दिये गये भाषण के अनुरूप है।बता दें कि प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त पर लालकिले से अपने संबोधन में कहा था कि कर विभाग में कुछ ऐसे लोग हो सकते हैं जो अपने अधिकारों का गलत इस्तेमाल करते हैं और करदाताओं को बेवजह परेशान करते हैं। विभाग को कलंकित करने वाले ये लोग ईमानदार करदाताओं को अपना लक्ष्य बनाते हैं या फिर मामूली अथवा प्रक्रियात्मक उल्लंघन जैसे छोटे मोटे उल्लंघनों को लेकर जरूरत से ज्यादा कर्रवाई करते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, हमने हाल ही में इस मामले में ठोस कदम उठाया है। काफी संख्या में हमने कर अधिकारियों को अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्ति पर भेज दिया। हमारी सरकार इस प्रकार के व्यवहार को बर्दाश्त नहीं करेगी। जिन अधिकारियों को जबरन सेवानिवृत किया गया है उनमें से करीब आधे अधिकारियों को कथित तौर पर रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। इनमें से एक अधिकारी को तो 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा गया। एक अधिकारी के पास उसके ज्ञात आय के स्रोतों से कहीं अधिक संपत्ति पाई गई।सरकार ने इससे पहले जून में केन्द्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क (सीबीआईसी) के आयुक्त स्तर के 15 अधिकारियों को जबरन सेवानिवृत कर दिया। सीबीआईसी माल एवं सेवाकर (जीएसटी) और आयात शुल्क संग्रह का काम देखती है। इन अधिकारियों पर भ्रष्टाचार, रिश्वत लेने और देने, तस्करी और आपराधिक साजिश जैसे आरोप लगे थे। केन्द्रीय सिविल सेवा (पेंशन) नियम 1972 की तहत नियम 56 (जे) सरकार को सरकारी कर्मचारियों के कार्य प्रदर्शन की समय समय पर समीक्षा का अधिकार देता है। इसमें गौर किया जाता है कि संबंधित अधिकारी को सार्वजनिक हित में नौकरी पर रखा जाये अथवा सेवानिवृत कर दिया जाए।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटआचार संहिता उल्‍लंघन में उलझीं ड्रीमगर्ल, चुनाव आयोग ने हेमामालिनी को भेजा नोटिस******। बालीवुड की ड्रीमगर्ल और भाजपा की स्थानीय सांसद हेमामालिनी आचार संहिता के उल्‍लंघन के मामले में फंस गई है। चुनाव आयोग ने चुनावी सभा आयोजित करने के मामले में हेमा मालिनी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।बता दें कि मंगलवार को छाता तहसील क्षेत्र के चैमुहां ब्लाक के दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित आझई खुर्द गांव में चुनावी सभा आयोजन करने के मामले में उनपर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है।>क्षेत्र के उप जिलाधिकारी एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी आरडी राम ने आझई गांव के माध्यमिक विद्यालय में बिना अनुमति चुनावी सभा आयोजित करने पर वृन्दावन थाने में आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कराया है।>इस मामले में जिलाधिकारी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने बताया, ‘भाजपा प्रत्याशी की ओर से चुनाव सभा आयोजक पंकज शर्मा ने आझई गांव में सभा की अनुमति ली थी पर, उस दिन वहां सभा न करके विद्यालय में शिक्षण कार्य के दौरान ही मंच एवं अन्य व्यवस्थाएं करके सभा आयोजित की गई। जो पूरी तरह से आदर्श चुनाव आचार संहिता के विरुद्ध था।’>उन्होंने बताया, ‘इस संबंध में जानकारी मिलने के बाद भाजपा उम्मीदवार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था। भाजपा पार्टी की तरफ से जो जवाब आया हैं वह संतोषजनक नही था इसलिए संबंधित अधिकारी ने मामले को आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया और निर्वाचन आयोग को रिपोर्ट भेज दी है।’>वृन्दावन कोतवाली प्रभारी संजीव कुमार दुबे ने बताया, ‘आचार संहिता उल्लंघन के मामले में भाजपा प्रत्याशी हेमामालिनी एवं सभा आयोजक भाजपा नेता पंकज शर्मा को नोटिस जारी किए गए थे। जिनके जवाब से संतुष्ट न होने पर जिला स्तरीय चुनाव आचार संहिता परिपालन समिति के निर्देश पर हेमामालिनी एवं पंकज शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

अनिल कपूर ने ली COVID-19 वैक्सीन की दूसरी डोज़, बेटे हर्षवर्धन ने उनकी उम्र पर किया मजाकिया कमेंट

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटMaharashtra Crime: 300 करोड़ की बिटकॉइन के लालच में एक पुलिसकर्मी ने रची अपहरण की साजिश, पुलिस ने 8 लोगों को किया गिरफ्तार******पुलिस से निलंबन के बाद पैसे की तंगी से गुजर रहे पुलिसकर्मी द्वारा शेयर मार्केट ट्रेडिंग का काम करने वाले शख्स विनय नाईक के अपहरण की साजिश रचने का मामला सामने आया है। इस अपहरण के मामले में पुलिस ने 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस छानबीन के अनुसार आरोपी को उसे, पीड़ित शख्स के पास 300 करोड़ रुपए के बिटकॉइन (क्रिप्टो करंसी) होने की जानकारी थी। इसके बाद उसने अपने साथियों के साथ मिलकर अपहरण की साजिश रची। उसने 7 लोगों के साथ मिलकर आरोपी ने पीड़ित शख्स का अपहरण करने की वारदात को अंजाम दिया था।पुणे से सटे वाकड पुलिस स्टेशन के समीप 14 जनवरी को विनय नाईक नाम के एक व्यक्ति का अपहरण होने की जानकारी पुलिस को मिली। अपह्रत व्यक्ति शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करता था। पिंपरी-चिंचवड शहर के पुलिस कमिशनर कृष्णप्रकाश ने इस मामले में जांच के आदेश दिए। जिस होटल के बाहर से पीड़ित को किडनैप किया गया था। जांच की जानकारी मिलने के बाद आरोपी पीड़ित विनय नाईक को वाकड़ इलाके में छोड़कर भाग गए। अपहरण किए गए विनय नाईक ने पूछताछ में बताया कि 7-8 लोगों ने उसका अपहरण किया था। अपहरणकर्ता उससे 8 लाख नगद और बिटकॉइन की मांग कर रहे थे।पीड़ित के बयान से मिले सुराग के आधार पर पुलिस ने मुंबई से 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया। साथ ही में अपहरणकर्ताओं ने पीड़ित को किडनैप करने के लिए लिए जिस नीले रंग की कार का इस्तेमाल किया था उसे भी पुलिस ने जब्त कर लिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि, दिलीप खंदारे नाम के पुलिसवाले ने ही किडनैपिंग की पूरी साजिश रची थी और अपहरण करने के बाद पीड़ित को रायगढ़ जिले के अलीबाग के एक होटल में कैद कर रखा गया था।इसके बाद अपहरण में शामिल 3 और आरोपियों को पुलिस ने पुणे से गिरफ्तार किया। इन आरोपियों ने बताया कि सायबर पुलिस में काम करने वाले दिलीप खंदारे ने ये पूरी साजिश रची थी। जांच अधिकारियों ने जब मुख्य साजिशकर्ता दिलीप खंदारे की हिस्ट्री निकाली तो पता चला कि दिलीप पुलिस विभाग में सिपाही के पद पर है। उसने एडवांस सायबर क्राइम इनवेस्टीगेशन टेक्नोलॉजी, मोबाइल फोरेंसिक, ऑफिस ऑटोमशन में शिक्षा प्राप्त की है। दिलीप खंदारे पुणे के भोसरी इलाके में आने वाला है। पुलिस ने ट्रैप लगाकर दिलीप को गिरफ्तार कर लिया।आरोपी पुलिसकर्मी दिलीप खंदारे ने बताया कि, जब वो सायबर क्राइम विभाग में काम करता था उसी दौरान एक केस की जांच के दौरान उसे खबर मिली कि शेअर बाजार ट्रेडर विनय नाईक के पास बहुत सारे बिटकॉइन्स है, जिसकी कीमत 300 करोड़ रुपए है। पुलिस महकमे से निलंबित होने के बाद आरोपी खंदारे पैसे की तंगी से गुजर रहा था। पिंपरी चिंचवड शहर के पुलिस कमिशनर कृष्णप्रकाश ने कहा कि आरोपियों को जानकारी मिली थी की विनय नाईक के पास बड़े पैमाने पर बिटकॉइन्स है।वाकड पुलिस स्टेशन के सिनिअर पुलिस इंस्पेक्टर डॉ. विवेक मुगलीकर ने इंडिया टीवी से कहा कि आरोपी दिलीप खंदारे निलंबित था। जब वो सायबर पुलिस में काम करता था तभी उसे जानकारी मिली था की विनय नाइक के पास 300 करोड़ के बिटकॉइन्स है। इसी बिटकॉइन्स को हासिल कर अमीर बनने की चाहत दिलीप खंदारे की थी लेकिन जब हमने जांच की तो पता चला की आरोपी खंदारे ने गलत जानकारी के आधार पर इस अपहरण की साजिश रची। इस मामले की आगे की जांच जारी है।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटओडिशा सरकार ने 1,753.82 करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव को मंजूरी दी, लोगों को मिलेगा रोजगार******Naveen Patnaik, Odisha CM ओडिशा सरकार ने विभिन्न क्षेत्रों में 1,753.82 करोड़ रुपए मूल्य के निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी है। इससे 5,566 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। मुख्य सचिव ए.के. त्रिपाठी की अध्यक्षता में शनिवार को राज्य स्तरीय एकल खिड़की मंजूरी व्यवस्था की बैठक में कपड़ा, खाद्य प्रसंस्करण, प्लास्टिक, पर्यटन, इस्पात और प्रसंस्करण (डाउनस्ट्रीम) क्षेत्रों में छह परियोजनाओं को मंजूरी दी गयी। उद्योग सचिव हेमंत शर्मा के अनुसार इंडियन मेटल्स एंड फेरो एलॉयज लि. (आईएमएफए) के फेरो क्रॉम इकाई और 10 मेगावाट की डब्ल्यूएचआरबी (वेस्ट हीट रिकवरी बॉयलर्स) स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गयी है। कलिंग नगर में लगने वाले इस संयंत्र पर कुल 547.19 करोड़ रुपए का निवेश होगा। उन्होंने कहा कि परियोजना से 900 लोगों के लिये के अवसर सृजित होंगे। अधिकारी के अनुसार श्री जगन्नाथ स्टील एंड पावर लि. के कोयंझर जिले में 1 लाख टन सालाना क्षमता के एकीकृत इस्पात संयंत्र का विस्तार कर 3 लाख टन सालाना क्षमता का बनाने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गयी है। इस पर कुल 835.34 करोड़ रुपए का निवेश अनुमानित है। इससे 501 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।इसके अलावा प्राधिकरण ने पेज इंडस्ट्रीज लि.तथा जय भारत स्पाइसेस के प्रस्तावों को भी मंजूरी दी है। जहां पेज इंडस्ट्रीज 257.50 करोड़ रुपए के निवेश से खुर्दा में परिधान बनाने की इकाई लगाएगी, वहीं जय भारत स्पाइसेस कटक के रामदासपुर में 'कोल्ड स्टोरेज' सुविधाएं लगाने के साथ अपने उत्पादों का दायरा बढ़ाएगी। इन दोनों परियोजनाओं से 4,050 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। अधिकारी ने कहा कि सेंचुरी ब्रांड से गद्दे बनाने वाली श्री मलानी फोम्स प्राइवेट लि. के 10 करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गयी। वहीं पर्यटन क्षेत्र में देव रेसिडेंसी एंड रिजार्ट प्राइवेट लि. के जाजपुर के कलिंग नगर में 53.69 करोड़ रुपएके निवेश से मौजूदा होटल के विस्तार को मंजूरी दी गयी है।

अनिल कपूर ने ली COVID-19 वैक्सीन की दूसरी डोज़, बेटे हर्षवर्धन ने उनकी उम्र पर किया मजाकिया कमेंट

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटBihar News: "लालू और बालू का पुराना रिश्ता," रामानंद यादव को खनन विभाग मिलने पर बरसे सुशील मोदी******Highlights बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने आज आरजेडी पर तीखा हमला बोला है। सुशील मोदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि बालू का अवैध व्यापार करने वाले अधिकांश लोग RJD से जुड़े हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि अब इस विभाग का जिम्मा RJD के विधायक रामानंद यादव को दिया गया है जिन पर आर्म्स एक्ट,रंगदारी, चोरी की संपत्ति के निष्पादन जैसे गंभीर आरोप हैं। सुशील मोदी ने आगे कहा कि लालू और बालू का पुराना रिश्ता है।बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने आरजेडी विधायक रामानंद यादव को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि रामानंद यादव बिना MSc किए प्रोफेसर बन गए, पीएचडी भी कर लिया। बालू विभाग राजद के रामानंद यादव को देना ‘दूध की रखवाली बिल्ली’ को देने के समान है। उन्होंने कहा कि बालू माफियाओं की नई सरकार बनने के बाद इतनी हिम्मत बढ़ गई कि खनन विभाग के दफ्तर में घुसकर वहां उपस्थित कर्मचारियों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। धमकी देने वाला खुद को रीतलाल यादव, विधायक, दानापुर का आदमी बता रहा था।सुशील मोदी ने कहा कि बालू माफियाओं का रिश्ता लालू परिवार से इतना गहरा है कि इन लोगों ने एक ही दिन में राबड़ी देवी के 8 फ्लैट खरीदे थे ताकि काले धन को सफेद किया जा सके और लालू परिवार को आयकर से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि जिस लालू परिवार का बालू के अवैध व्यापार से इतना घनिष्ठ संबंध है उस पार्टी के किसी व्यक्ति को खनन विभाग का जिम्मा देना उचित नहीं होगा। सुशील मोदी ने मांग रखी कि अपराध के संगीन मामलों में आरोपी रामानंद यादव को मंत्रिमंडल से तत्काल बर्खास्त किया जाए और खनन विभाग किसी अन्य दल के मंत्री को सुपुर्द किया जाए।भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को कहा था कि उनकी पार्टी के दरवाजे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए ‘‘स्थायी रूप से बंद’’ हैं। कुमार की पार्टी ने पिछले महीने भाजपा से नाता तोड़ लिया था। कुमार के साथ अपनी निकटता के कारण भाजपा में अलग-थलग समझे जाने वाले सुशील ने एक बयान में दावा किया कि जनता दल (यूनाइटेड) नेता को फिर से अपना रुख बदलने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कुमार पर तीखा हमला करते हुए कहा, ‘‘नीतीश कुमार ने रंग बदलने में गिरगिट को भी शर्मसार कर दिया है।’’

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटदुनिया भर की आधी कंपनियां कर्मचारियों की छंटनी की बना रही योजना, भारत में लोग बदल रहे नौकरी******दुनिया भर में कम से कम आधी आर्थिक मंदी के बीच कर्मचारियों की छंटनी करने की योजना बना रही हैं। हाल ही में जारी हुए एक रिपोर्ट से पता चला है कि ये कंपनियां भविष्य में को ध्यान में रखते हुए ऐसा कर रही हैं। उनका मानना है कि अगर मंदी आती है तो कंपनी को बचाए रखने के लिए वर्क फोर्स को कम करना जरूरी है। रिपोर्ट के मुताबिक, जुलाई तक अमेरिका में 32,000 से अधिक टेक कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया था। उसमें माइक्रोसॉफ्ट और मेटा (फेसबुक) जैसी बड़ी टेक कंपनियां शामिल है। ऐसा सिर्फ बड़ी कंपनियों में नहीं बल्कि छोटे स्तर की कंपनियों में भी देखने को मिल रहा है।भारत में महामारी शुरू होने के बाद से 25,000 से अधिक कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है। इनमें सबसे ज्यादा संख्या नए स्टार्टअप में काम करने वाले लोगों की है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल अभी तक 12 हजार से अधिक कर्मचारी अपनी नौकरी से हाथ धो चुके हैं।पीडब्ल्यूसी इंडिया की एक रिपोर्ट में यह कहा गया है कि पिछले कुछ वर्षों में भारत में कार्यस्थल पर कामकाज के तरीके में काफी बदलाव आया है। नियोक्ता और कर्मचारी दोनों की मानसिकता में बदलाव देखा गया है। यह रिपोर्ट पीडब्ल्यूसी के ‘ग्लोबल वर्कफोर्स होप्स एंड फियर्स सर्वे 2022’ के निष्कर्षों पर आधारित है। सर्वेक्षण में भारत के 2,608 कर्मचारियों ने भाग लिया और इसमें से 93 प्रतिशत स्थायी कर्मचारी हैं।सर्वेक्षण में 34 प्रतिशत कर्मचारियों ने कहा कि उनके नौकरी बदलने की संभावना काफी अधिक है। जबकि वैश्विक स्तर पर 19 प्रतिशत कर्मचारियों ने यह राय जताई। इसके अलावा 32 प्रतिशत कर्मचारी नौकरी छोड़ने की भी योजना बना रहे हैं। वहीं, 1981 और 1996 के बीच पैदा हुए कर्मचारियों की नयी नौकरी तलाश करने की सबसे अधिक संभावना है। ऐसे 37 प्रतिशत ने संकेत दिया है कि वे अगले एक साल में नौकरी बदल सकते हैं। सर्वेक्षण के अनुसार, 1990 के दशक के अंत में और 2010 के दशक की शुरुआत में जन्मे कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की संभावना सबसे कम है।देश में बेरोजगारी दर जून में बढ़कर 7.80 प्रतिशत पर पहुंच गयी थी। जो उसके पिछले महीने यानि मई में विशेषकर कृषि क्षेत्र में 1.3 करोड़ लोगों को रोजगार से हाथ धोना पड़ा, जिसके कारण बेरोजगारी बढ़ी है। आर्थिक शोध संस्थान सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी (सीएमआईई) के आंकड़ों के अनुसार, जून महीने में रोजगार में कमी से ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दर बढ़कर 8.03 प्रतिशत पर पहुंच गयी जो मई में 7.30 प्रतिशत थी। शहरी क्षेत्रों में स्थिति कुछ बेहतर रही और बेरोजगारी दर 7.3 प्रतिशत दर्ज की गयी, जबकि मई में यह 7.12 प्रतिशत थी। आंकड़ों के अनुसार, बेरोजगारी की सबसे ऊंची दर हरियाणा में 30.6 प्रतिशत रही। इसके बाद क्रमश: राजस्थान में 29.8 प्रतिशत, असम में 17.2 प्रतिशत, जम्मू-कश्मीर में 17.2 प्रतिशत और बिहार में 14 प्रतिशत रही।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटम्यूचुअल फंड्स के इन फेवरेट शेयरों ने दिया 900% तक का रिटर्न, आपके पास भी है मौका******इक्विटी म्यूचुअल फंड्स की बड़ी खरीदारी के दम पर और के शेयरों ने पिछले 3 साल में 900 फीसदी तक का रिटर्न दिया है। अब सवाल उठता है कि क्या अभी भी इन शेयरों में निवेश का मौका है। इस पर एक्सपर्ट्स कहते है कि ये सभी कंपनियों के फंडामेंट बेहद स्ट्रॉन्ग है और आने वाले समय में आर्थिक ग्रोथ तेज होने का फायदा इन कंपनियों को भी मिलेगा। लिहाजा निवेशक लॉन्ग टर्म के लिए इन शेयरों पर दांव लगा सकत है।इक्विटी म्यूचुअल फंड्स ने पिछले 3 साल में KNR कंस्ट्रक्शन, इंडियन टेरेन, सद्भाव इंजीनियरिंग, इक्विटास होल्डिंग्स और एस्ट्रामाइको में इक्विटी म्युचूअल फंड्स में कुल 1 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया है। बीएसई पर दिए गए आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान इन फंड्स की कंपनियों में हिस्सेदारी 26-30 फीसदी तक पहुंच गई है।बाजार के जानकारों का कहना है कि मोदी सरकार बनने के बाद बड़े रिफॉर्म की उम्मीद के चलते एमएफ ने इन शेयरों में खरीदारी की है। साथ ही, इन कंपनियों की आय और मुनाफे में अच्छी ग्रोथ देखने को मिली है।मोतीलाल ओसवाल सिक्योरिटीज में इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के एमडी और सीईओ रजत राजगढ़िया का कहना है कि बाजार में घरेलू संस्थागत निवेशकों का पैसा लगाना चालू रहेगा। राज्यों के चुनावों में बीजेपी की जोरदार जीत के बाद FIIs (विदेशी निवशकों) का भारत पर भरोसा बढ़ गया है। लिहाजा आने वाले शेयर में विदेशी निवेशक भारत में निवेश बढ़ाएंगे।मार्केट एक्सपर्ट अजय बग्गा के मुताबिक आने वाले दिनों में बाजार के फंडामेंटल और एफआईआई निवेश में कोई तब्दील होती नजर नहीं आ रही है। एशियाई बाजारों में ताइवान और कोरिया के अलावा भारतीय बाजारों में एफआईआई निवेश बढ़ रहा है। अगले 2-3 महीनों तक एफआईआई निवेश के इस रुख में कोई बदलाव की गुंजाइश नजर नहीं आ रही है।ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के मुताबिक रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी KNR कंस्ट्रक्शन पिछले 3 साल से म्युचूअल फंड्स का फेवरेट स्टॉक है। इस दौरान कंपनी के शेयर ने 900 फीसदी का बड़ा रिटर्न दिया है। एनालिस्ट कहते है कि दिसंबर 2016 तक कंपनी की कुल ऑर्डरबुक 4240 करोड़ रुपए की थी, जो कि फाइनेंशियल ईयर 2015-16 की कुल आय का 4.6 गुना है।कंपनी ने फाइनेंशियल ईयर 2016-17 में 1300 करोड़ रुपए की आय का लक्ष्य रखा है। साथ ही, फाइनेंशियल ईयर 2017-18 के लिए आय का लक्ष्य बढ़ाकर 1500 करोड़ रुपए कर दिया है।इंडियन टेरेन का शेयर पिछले तीन साल में 471 फीसदी तक चढ़ गया है। मार्च तिमाही में एमएफ की कुल हिस्सेदारी बढ़कर 25.23 फीसदी हो गई है। साथ ही, फाइनेंशियल ईयर 2010-11 से 2015-16 तक कंपनी की सीएजीआर (कंपाउंड एनुअल ग्रोथ रेट) 21 फीसदी रहा है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि आगे भी कंपनी के शेयर में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है, क्योंकि लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है।इक्विरस सिक्योरिटीज ने सद्भाव इंजीनियरिंग के शेयर 379 रुपए के टारगेट प्राइस के साथ खरीदने की सलाह दी है। ब्रोकरेज फर्म ने कहा कि सद्भाव ग्रुप ने हाइब्रिड एन्युइटी प्रोजेक्ट्स में 11 फीसदी मार्केट हिस्सेदारी हासिल कर ली है। उसने कहा कि इरिगेशन और नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पुराने ईपीसी प्रोजेक्ट्स को लेकर कंपनी पर कुछ दबाव है। इससे उसके मार्जिन पर बुरा असर पड़ा है। हालांकि, हाइब्रिड प्रोजेक्ट्स की बढ़ती हिस्सेदारी से कंपनी के मार्जिन में बढ़ोतरी हो सकती है।ट्रेड स्विफ्ट ब्रोकिंग के संदीप जैन का कहना है कि एनबीएफसी और माइक्रोफाइनेंस कंपनियों में काफी तेजी बाकी है। हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में भी ग्रोथ रेट जबर्दस्त है। इक्विटास जैसी कंपनियों में काफी वैल्यू है और इनमें खरीदारी करनी चाहिए।सेठी फिनमार्ट के विकास सेठी के मुताबिक डिफेंस सेक्टर अच्छा लगता है, लेकिन इसमें रिलायंस डिफेंस में खरीद की सलाह नहीं होगी। बड़ी कंपनियों में भारत इलेक्ट्रॉनिक्स तो पसंद है ही लेकिन अगर छोटी डिफेंस कंपनियों में देखें तो एस्ट्रा माइक्रोवेव पसंदीदा शेयर है।

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटMamata Banerjee: ईडी द्वारा जब्त किए गए करोडों रुपए के साथ ममता बनर्जी का पोस्टर बनाना बीजेपी कार्यकर्ता को पड़ा भारी, हुआ गिरफ्तार******Highlights पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तस्वीर के साथ हाल में ईडी द्वारा जब्त की गई नकदी की तस्वीर लगाने और उसका पोस्टर बनाने के आरोप में, भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता को गिरफ्तार कर लिया गया है। बुधवार को पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। दरअसल बीजेपी कार्यकर्ता ने जिन पैसों के साथ ममता बनर्जी का फेक पोस्टर बनाया था, उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने स्कूल भर्ती घोटाले के संबंध में अर्पिता मुखर्जी के घर छापेमारी कर बरामद किया था। ईडी ने बरामद की गई नकदी की तस्वीर ट्वीट की थी, जिसे कथित तौर पर बीजेपी कार्यकर्ता ने ममता बनर्जी की तस्वीर के साथ लगा कर पोस्टर बनाया था।अधिकारी ने कहा कि बेहला पुलिस थाने के अधिकारियों ने मंगलवार को बीजेपी कार्यकर्ता काजल भौमिक को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधिकारी ने कहा, “हमें जानकारी मिली थी कि काजल भौमिक ने मुख्यमंत्री की तस्वीर पर दूसरी तस्वीर लगाई और पोस्टर बनाया। हमने पोस्टर जब्त कर लिए हैं और उन्हें विश्लेषण के लिए भेज दिया है।” उन्होंने कहा कि जांच जारी है।"शिक्षक भर्ती घोटाले से संबंधित छापेमारी के दौरान ईडी ने करीब 20 करोड़ रुपये की बड़ी रकम बरामद की थी। इस दौरान बंगाल सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के घर से 20 करोड़ रुपये कैश मिला था। माना जा रहा है कि ये कैश एसएससी घोटाले हुई कमाई से जुड़ा हो सकता है। इतनी भारी मात्रा में कैश मिलने के बाद कैश काउंट करने के लिए सर्च टीम बैंक अधिकारियों की मदद तक ली गई थी। ईडी ने अर्पिता मुखर्जी के परिसरों से 20 से ज्यादा मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं, जिसके उद्देश्य और उपयोग का पता लगाया जा रहा है। इसके अलावा, घोटाले से जुड़े दूसरे आरोपियों के परिसरों से कई अन्य दस्तावेज, रिकॉर्ड, संदिग्ध कंपनियों का विवरण, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, विदेशी मुद्रा और सोना भी बरामद किया गया है।अर्पिता मुखर्जी ने 6 उड़िया फिल्मों में अभिनय किया है, जिसमें ‘बंदे उत्कल जननी’ और ‘प्रेम रोगी’ शामिल है, ये दोनों फिल्में बॉक्स ऑफिस पर हिट रहीं। उन्होंने चंद्रचूड़ सिंह द्वारा सह-अभिनीत ‘केमिटी ए बंधन’ (2011) और अनुभव मोहंती के साथ वर्ष 2010 की फिल्म ‘मु काना एते खराप’ (2010) में भी अभिनय किया। उनकी आखिरी उड़िया फिल्म 2012 में 'राजू आवारा' आई थी। मुखर्जी की बंगाली फिल्मों जैसे 'भूत इन रोजविल', 'जीना द एंडलेस लव', 'बिदेहर खोंजे रवींद्रथ', 'मामा भगने' और 'पार्टनर' में छोटी भूमिकाएं थीं, लेकिन वह वर्ष 2014 के बाद से फिल्मों में नहीं देखी गईं। भाजपा नेता और फिल्म निर्माता संघमित्रा चौधरी ने कहा कि उन्होंने मुखर्जी को वर्ष 2013 से पहले तीन फिल्मों में भूमिका दी थी।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटकांग्रेस अब 2019 भूल जाए, मुश्किल हालात में BJP को जीत मिली: आनंदी बेन पटेल****** गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री बीजेपी की कद्दावर नेता ने कहा कि यह मुश्किल हालात में मिली जीत है। हमारे लिए एक बड़ी चुनौती थी। तीन नए नेता हमें चुनाव हराने में जुटे थे। उन्होंने विश्वास जताया कि हम 110 के आसपास सीट जीतकर प्रदेश में एकबार फिर सरकार बनाएंगे। उन्होंने कहा कि जहां कहीं भी कमियां रह गई हैं उसपर हमलोग बैठकर विचार करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अब 2019 भूल जाए और 2024 की तैयारी करे।आनंदीबेन पटेल ने हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश का नाम लिए बिन कहा कि तीन लड़कों ने बीजेपी को चुनाव हराने के लिए पूरी जोड़-तोड़ की लेकिन बीजेपी के कार्यकर्ताओं और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेहनत का नतीजा है कि हम गुजरात में जीत की ओर बढ़ रहे हैं। आनंदी बने पटेल ने कहा कि हमें अपनी कमियों पर भी आत्ममंथन करने की जरूरत होगी। क्योंकि सौराष्ट्र के कुछ हिस्सों में हम पिछड़े हैं।आपको बता दें कि ​अभी तक कुल 182 सीटों के रुझानआ गए हैं।वहीं कुछ सीटों के नतीजे भी आ गए हैं जिनमें बीजेपी बढ़त बनाए हुए है। रुझानोंमें बीजेपीबहुमत के आंकड़ों से आगे चल रही है। ताज आंकड़ों के मुताबिकबीजेपी105 सीटों पर बढ़तबनाए हुए है वहीं कांग्रेस71 सीटों पर आगे चल रही है जबकि 6 सीटें अन्य के खाते में गई है। कांग्रेस के कद्दावर नेताअर्जुन मोडवाडिया पोरबंदर सीट से अपना चुनाव1800 वोटों से हार गए हैे।सूबे से सीएम विजय रुपाणीराजकोट पश्चिम सीट से करीब 25 हजार वोटों से चुनावजीत चुके हैं।​

अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटशेयर बाजार में गिरावट, शुरुआती कारोबार में Sensex 309 अंक लुढ़का व Nifty की भी कमजोर शुरुआत******घरेलू शेयर बाजार में बड़ी गिरावट, Sensex में 272 अंक गिरावट व Nifty 11,310 से भी नीचे सप्ताह के पहले कारोबारी दिन आज सोमवार(22जुलाई)को देश के शेयर बाजार में तेज गिरावट का रुख है। शुरुआती कारोबार में ही सुबह 9.53 बजे प्रमुख सूचकांक की गिरावट बढ़कर 309.49 अंकों तक पहुंच गई और यह 38,027.52 पर कारोबार करते देखा गया। भी लगभग इसी समय 84.75 अंकों की कमजोरी के साथ 11,334.50 पर कारोबार करते देखा गया। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 3.49 अंकों की गिरावट के साथ 38,333.52 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 26.4 अंकों की कमजोरी के साथ 11,392.85 पर खुला।घरेलू शेयर बाजारों में भारी बिकवाली तथा कच्चा तेल में तेजी से सोमवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 26 पैसे गिर गया और 69.06 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया। कारोबारियों ने कहा कि विदेशी बाजारों में अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के मजबूत होने तथा विदेशी निवेशकों की बिकवाली से भी रुपये पर दबाव रहा।शुक्रवार को रुपया 68.80 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। प्राथमिक आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने शुक्रवार को 950.15 करोड़ रुपये की शुद्ध बिकवाली की।पिछले कारोबारी सत्र में बीते शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार में गिरावट दर्ज की गई थी। बंबई स्‍टॉक एक्‍सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 560.45 अंक गिरकर 38,337.01 अंक पर बंद हुआ था। वहीं नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी 177.65 अंक टूटकर 11,419.25 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजारों का यह पिछले दो महीने का सबसे निचला बंद स्तर था। निफ्टी 10 हफ्ते के निचले स्‍तर पर पहुंच गया है।अनिलकपूरनेलीCOVID19वैक्सीनकीदूसरीडोज़बेटेहर्षवर्धननेउनकीउम्रपरकियामजाकियाकमेंटमहामारी में आजीविका खोने वाले डांस टीचर की दिल्ली पुलिस ने दूसरी नौकरी पाने में की मदद****** पिछले साल कोरोना महामारी के कारण मुंबई में आजीविका खोने के बाद परेशान 44 वर्षीय नृत्य शिक्षक बालाजी सावलकर नई शुरुआत के मकसद से दिल्ली आ गए। लेकिन राष्ट्रीय राजधानी में उन्हें नृत्य सीखने वाला कोई नहीं मिला। ऐसे हालात में ने एक रेस्तरां में नौकरी पाने में उनकी मदद की। पैसे खत्म होने पर सावलकर ने दिल्ली के एक रैन बसेरा (बेघर लोगों के लिए बना आश्रय गृह) में रहना शुरू किया।सावलकर ने कहा कि वह एक पेशेवर नर्तक हैं और पिछले 20 सालों से प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने वर्ष 2013 में मुंबई के साकी नाका में ‘बाली स्टेप ऑफ डांस क्लासेज’ नाम से एक नृत्य अकादमी खोली थी। सावलकर ने कहा कि उनकी ‘बाली इवेंट्स एंड एंटरटेनमेंट एलएलपी’ नाम की एक पंजीकृत कंपनी भी है, लेकिन इसे अभी बंद कर दिया है। सावलकर ने कहा कि मुंबई में उनका एक नृत्य संस्थान था, लेकिन कोविड-19 के कारण इसे बंद करना पड़ा, क्योंकि परिसर किराये पर था।उन्होंने कहा कि मुंबई से बाहर निकलने पर वह ओडिशा और बिहार सहित विभिन्न स्थानों पर चार-पांच छात्रों के घर गए। सावलकर ने कहा कि वह नई अकादमी खोलने की संभावना तलाश रहे थे, लेकिन हर जगह स्थिति एक जैसी दिखी। वह चार नवंबर को दिवाली पर ट्रेन से दिल्ली पहुंचे, तो शुरू में बंगला साहिब गुरुद्वारा में रहना शुरू किया, लेकिन पैसे खत्म होने के बाद रैन बसेरा में रहने चले गए। सावलकर ने कहा कि एक दिन थाना प्रभारी रैन बसेरा में आए और उनको तथा कुछ अन्य लोगों को नौकरी तलाशने में मदद करने की बात कही। इसके बाद सावलकर को कनॉट प्लेस स्थित रेस्तरां के पैकेजिंग विभाग में 18 जनवरी को 18 हजार रुपये प्रति माह की नौकरी मिल गई।सावलकर का लक्ष्य नृत्य शिक्षक के पेशे को जारी रखना है, लेकिन नृत्य का काम नहीं मिलने तक काम करने का फैसला किया है। सावलकर ने कहा, ‘‘मैंने दो वर्ल्ड टूर किए हैं। मैंने बॉलीवुड के करीब हर अवॉर्ड शो में मशहूर अभिनेताओं के साथ प्रस्तुति दी है।” उन्होंने कहा कि वर्ष 2007 में उनकी शादी हुई, लेकिन लंबे समय तक नहीं चली और उन्हें आठ महीने के भीतर अलग होना पड़ा।(इनपुट- एजेंसी)

पिछला:जनवरी 2021 से स्‍वर्ण आभूषण पर अनिवार्य होगा हॉलमार्क, सिर्फ 14, 18 और 22 कैरेट में ही बनेंगे और बिकेंगे गहने
अगला:IND vs WI: दूसरे टी-20 मैच में विराट कोहली के नाम दर्ज हो सकता है यह खास रिकॉर्ड
संबंधित आलेख