मुखपृष्ठ > शिज़ुइशान
ट्राई ने संशोधित नंबर पोर्टिबिलटी नियम लागू करने की समयसीमा 11 नवंबर तक बढ़ायी
रिलीज़ की तारीख:2022-10-07 02:31:00
विचारों:931

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीजम्मू-कश्मीर: महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को किया गया गिरफ्तार******केंद्र सरकार द्वारा में हटाए जाने का विरोध करते हुएदेश विरोधी बयानबाजी करने जिससे माहौल खराब हो के आरोप में और को गिरफ्तार किया गया है। महबूबा मुफ्ती को गिरफ्तार कर हरिनिवास गेस्ट हाउस लाया गया है। इससे पहले महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्लाको नजरबंद किया गया था।आपको बता दें कि पीडीपी अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अनुच्छेद 370 पर उठाए गए सरकार के कदम को लेकर सोमवार को कहा था कि “अनुच्छेद 370 निरस्त” करने का सरकार का एकतरफा फैसला अवैध एवं असंवैधानिक है।महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि“यह उपमहाद्वीप के लिए विनाशकारी परिणाम लेकर आएगा। “पहले से ही नजरबंद हूं औरआगंतुकों को भी नहीं मिलने दिया जा रहा। पता नहीं कब तक संपर्क नहीं कर पाऊंगी। क्या यह वह भारत है जिसे हमने स्वीकार किया था?” जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने अनुच्छेद 370 पर सरकार के कदम को “एकतरफा एवं चौंकाने वाला” करार दिया और कहा था कि यह राज्य की जनता के साथ “पूरी तरह विश्वासघात” है।

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीजिम्बाब्वे को 24 रनों से हराकर पाकिस्तान ने 2-1 से जीती सीरीज******हरारे| मोहम्मद रिजवान के नाबाद 91 रन के बाद हसन अली के चार विकेटों की बदौलत पाकिस्तान ने रविवार को यहां खेले गए तीसरे और अंतिम टी20 मैच में मेजबान जिम्बाब्वे को 24 रनों से हराकर 2-1 से सीरीज जीत ली। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 165 रनों का स्कोर बनाया और फिर उसने जिम्बाब्वे को सात विकेट पर 141 रनों पर रोक दिया।जिम्बाब्वे के लिए वेस्ले मधेवरे ने सर्वाधिक 59 रनों की पारी खेली। उनके अलावा टी मेरुमनी ने 35 रन बनाए। मेजबान टीम अंतिम छह ओवरों में केवल 38 रन ही बना सकी और इस कारण उसे हार का सामना करना पड़ा।पाकिस्तान के लिए हसन के चार विकेटों के अलावा हैरिस रउफ ने दो और मोहम्मद हसनैन ने एक विकेट लिए।इससे पहले, पाकिस्तान ने तीन विकेट पर 165 रनों का स्कोरा बनाया। टीम के लिए रिजवान ने नाबाद 91 रन बनाए। उन्होंने 60 गेंदों पर पांच चौके और तीन छक्के लगाए। उनके अलावा बाबर आजम ने 52 रनों की पारी खेली। उन्होंने 46 गेंदों पर पांच चौके जड़े।जिम्बाब्वे की ओर से ल्यूक जोंगे ने 37 रन देकर तीन विकेट लिए।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीBJP Attacks AAP: बीजेपी ने 'आप' बोला पर हमला, कहा- “सिसोदिया के लिए अग्रिम जमानत लेने की कोशिश कर रही AAP”******Highlights भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को दावा किया कि “रेवड़ी” संस्कृति पर जारी बहस में मोदी सरकार पर हमला कर, आम आदमी पार्टी, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के लिए “अग्रिम जमानत” की मांग कर रही है। आपको बता दें कि सिसोदिया पर कथित शराब घोटाले में शामिल होने का आरोप है। पिछले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा “रेवड़ी” संस्कृति पर दिए बयान के बाद मुफ्त की योजनाओं पर बहस शुरू हो गई। इसके बाद से इस मुद्दे पर AAP और भाजपा के बीच राजनीतिक रस्साकशी जारी है। भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और सिसोदिया इस मुद्दे पर रोज बयान दे रहे हैं और मोदी सरकार पर हमला कर रहे हैं ताकि अगर उप मुख्यमंत्री के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाए तो उन्हें “पीड़ित” दिखाया जा सके। पात्रा ने कहा, “सिसोदिया के लिए अग्रिम जमानत लेने का प्रयास किया जा रहा है।”संबित पात्रा ने दावा किया कि आम आदमी पार्टी के नेताओं को पता है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने गलत किया है और उनका भी वही हश्र होगा जो मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जेल में बंद सत्येंद्र जैन का हो रहा है। पात्रा ने कहा कि AAP सरकार ने शराब की दुकानें मुफ्त की योजनाओं की तरह बांटी जिसमें ‘ब्लैकलिस्टेड’ फर्म भी शामिल हैं और केजरीवाल के दोस्तों के लिए 144 करोड़ रुपये माफ कर दिए। भाजपा नेता ने कहा कि “रेवड़ी” की बहस में केजरीवाल और सिसोदिया के दावे झूठ से भरे हैं और उन्हें इनकी समझ भी नहीं है। RTI से प्राप्त सूचना का हवाला देते हुए पात्रा ने कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार के कार्यकाल के दौरान दिल्ली में 16 स्कूल बंद हुए जबकि पार्टी ने दावा किया था कि सत्ता में आने पर पांच सौ नए स्कूल खोले जाएंगे। पात्रा ने कहा कि 1,030 सरकारी स्कूलों में से 700 में प्राचार्य नहीं हैं और 16,834 टीचर्स के पद खाली हैं।प्रवक्ता ने कहा कि केजरीवाल ने एक भाषण में दावा किया था कि उनकी सरकार ने दस लाख लोगों को रोजगार दिया। लेकिन RTI से प्राप्त सूचना के अनुसार केवल 3,246 लोगों को नौकरियां मिली। इसके अलावा एक दूसरी RTI के विस्तृत जवाब में बताया गया कि वास्तव में केवल 849 लोगों को ही रोजगार मिल सका। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान बहुचर्चित मोहल्ला क्लिनिक किसी के काम नहीं आई। पात्रा ने दावा किया कि इस साल केजरीवाल सरकार ने अपने मंत्रियों और उनके परिजनों के इलाज के लिए सवा करोड़ रुपये से ज्यादा का भुगतान किया है।

ट्राई ने संशोधित नंबर पोर्टिबिलटी नियम लागू करने की समयसीमा 11 नवंबर तक बढ़ायी

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीAmazon Prime Day Sale 2021 की तारीख का ऐलान, मिलेंगे एक से बढ़कर एक ऑफर******अमेजन ने भारत में 26-27 जुलाई को प्राइम डे सेल करने की घोषणा कीबेंगलुरु: अमेजन ने गुरुवार को घोषणा की कि वह 26 और 27 जुलाई को भारत में अपने वार्षिक प्राइम डे कार्यक्रम के लिए पूरी तरह तैयार है, जो स्मार्टफोन, उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स, टीवी, उपकरण आदि सहित सभी श्रेणियों में सौदे और बचत प्रदान करेगा। इसमें नए लॉन्च, मनोरंजन लाभ और बहुत कुछ के साथ-साथ अमेजन डिवाइस, फैशन और सौंदर्य उत्पाद, घर और रसोई, फर्नीचर, प्राइम सदस्यों के लिए रोजमर्रा की आवश्यक चीजें और बहुत कुछ शामिल होंगे।कंपनी दो दिवसीय आयोजन के माध्यम से लाखों छोटे और मध्यम व्यवसायों (एसएमबी) को सशक्त बनाने और समर्थन देने के अपने प्रयासों को जारी रखेगी, ताकि कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण आर्थिक व्यवधान से उबर सके। अमेजॅन इंडिया के एसवीपी और कंट्री मैनेजर अमित अग्रवाल ने कहा, "हम इस प्राइम डे को अमेजन पर लाखों एसएमबी विक्रेताओं को समर्पित करते हैं। हम उनके लचीलेपन से खुश हैं, और इस कठिन समय के दौरान उनके पलटाव का समर्थन करने का अवसर देने के लिए आभारी हैं।"अग्रवाल ने कहा, "हम अपने प्राइम मेंबर्स को दो दिनों के सर्वश्रेष्ठ सौदों और बचत, सैकड़ों नए उत्पाद लॉन्च, ब्लॉकबस्टर मनोरंजन और बहुत कुछ के साथ अपने घरों की सुरक्षा और सुविधा के साथ खुशी खोजने का एक अनूठा अवसर प्रदान करने के लिए उत्साहित हैं।" प्राइम मेंबर्स एसएमबी द्वारा पेश किए गए लाखों अनूठे उत्पादों से खरीदारी कर सकते हैं और ऑफर्स का लाभ उठा सकते हैं।भारत में प्राइम डे के अंतिम संस्करण के दौरान देशभर के एसएमबी को बड़ी सफलता मिली। प्राइम डे 2020 के दौरान 5,900 से अधिक पिन कोड के 91,000 से अधिक विक्रेताओं को सफलता मिली और ये 62,000 से अधिक भारतभर के गैर-मेट्रो और टियर 2/3 शहरों से थे। साथ ही 31,000 विक्रेताओं ने अपनी उच्चतम बिक्री देखी। भारत सहित 22 देशों में 20 करोड़ से अधिक प्राइम सदस्यों द्वारा प्राइम का आनंद लिया जाता है।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीNASA satellite: नासा का उपग्रह पृथ्वी की कक्षा से अलग हुआ, चंद्रमा की ओर बढ़ा******Highlights पृथ्वी की कक्षा में चक्कर लगा रहा माइक्रोवेव ओवन के आकार वाला नासा का एक उपग्रह सोमवार को सफलतापूर्वक कक्षा से अलग हो गया और अब यह चंद्रमा की तरफ बढ़ रहा है। चंद्रमा पर एक बार फिर अंतरिक्ष यात्री भेजने की योजना के तहत (नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन) का यह नवीनतम कदम है। ‘कैप्स्टन’ उपग्रह का सफर पहले से ही कई मायने में असामान्य रहा है। इस उपग्रह को 6 दिन पहले न्यूजीलैंड के माहिआ प्रायद्वीप से प्रक्षेपित किया गया था। इसे रॉकेट लैब कंपनी ने अपने छोटे से इलेक्ट्रॉन रॉकेट से प्रक्षेपित किया था। इस उपग्रह को अब चांद पर पहुंचने में चार महीने और लगेंगे। फिलहाल यह उपग्रह कम से कम ऊर्जा का उपभोग करते हुए अकेले ही चांद की ओर बढ़ रहा है।रॉकेट लैब के संस्थापक पीटर बेक ने कहा कि उनके लिए अपने उत्साह को शब्दों में बयां कर पाना कठिन है। बेक ने कहा, ‘‘इस परियोजना पर हमने दो-ढाई साल का समय लगाया। इसका क्रियान्वयन बहुत ही कठिन था।’’ बेक ने कहा कि सापेक्षिक दृष्टि से कम लागत वाला यह अभियान अंतरिक्ष अभियान की दिशा में नये युग की शुरुआत करेगा। नासा ने इस पर 3.27 करोड़ अमेरिकी डॉलर खर्च किए हैं। बेक ने कहा कि अब कुछ करोड़ अमेरिकी डॉलर में आप के पास रॉकेट और अंतरिक्षयान होंगे, जो आप को सीधे चंद्रमा, क्षुद्रग्रहों और शुक्र तथा मंगल ग्रह पर ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि यदि आगे का अभियान सफल रहता है, तो कैप्स्टन उपग्रह अहम सूचनाएं महीनों तक भेजता रहेगा।नासा की योजना कक्षीय मार्ग में एक गेटवे नामक अंतरिक्ष केंद्र स्थापित करने की है, जहां से अंतरिक्ष यात्री इसके अर्टेमिस कार्यक्रम के तहत चंद्रमा की सतर पर उतर सकेंगे। बेक के मुताबिक नई कक्षा का महत्व यह है कि इससे ईंधन का इस्तेमाल कम हो जाता है, और यह उपग्रह या अंतरिक्ष स्टेशन को धरती के लगातार संपर्क में रखती है। न्यूजीलैंड से 28 जून को प्रक्षेपित किया गया इलेक्ट्रॉन रॉकेट अपने साथ ‘फोटोन’ नामक एक दूसरा अंतरिक्ष यान ले जा रहा था। अंतरिक्ष यान के इंजन के सोमवार को समय-समय पर चलने पर ‘फोटोन’ पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण खिंचाव से अलग हो गया और इसने उपग्रह को उसके रास्ते पर भेज दिया।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीPresident Ram Nath Kovind Farewell: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का फेयरवेल आज, संसद भवन सेंट्रल हॉल में होगा विदाई समारोह******Highlights राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल खत्म होने से एक दिन पहले आज शाम को संसद भवन (Parliament House) के सेंट्रल हॉल (Central Hall) में उन्हें फेयरवेल दी जाएगी। सभी सांसद राष्ट्रपति को विदाई देंगे। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और अन्य सांसद इस विदाई समारोह में शामिल होंगे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला सांसदों की ओर से राष्ट्रपति कोविंद को प्रशस्ति पत्र भेंट करेंगे। राष्ट्रपति कोविंद को एक स्मृति चिह्न और सांसदों के हस्ताक्षर वाली एक किताब भी भेंट की जाएगी।द्रौपदी मुर्मू सोमवार को पदभार संभालेंगीवहीं नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू सोमवार को देश के 15 वें राष्ट्रपति का पदभार संभालेंगी। मुर्मू शीर्ष संवैधानिक पद पर निर्वाचित होने वाली पहली आदिवासी नेता हैं। इससे पहले कल देर शाम प्रधानमंत्री मोदी ने मौजूदा राष्ट्र राष्ट्रपति कोविंद के लिए डिनर पार्टी की मेजबानी की। इसमें केंद्रीय मंत्रिपरिषद के सदस्य, विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति शामिल हुए।कई गणमान्य व्यक्ति शामिलआधिकारिक सूत्रों ने बताया कि रात्रिभोज में देश के लगभग सभी हिस्सों के गणमान्य व्यक्ति शामिल हुए, जिनमें कई पद्म पुरस्कार विजेता और आदिवासी नेता हैं। सूत्र ने बताया कि यह रात्रिभोज ‘अद्वितीय’ था क्योंकि इसमें दिल्ली के अलावा अन्य जगहों की हस्तियों की भी मौजूदगी पर जोर दिया गया।पीएम मोदी का ट्वीटपीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रपति कोविंद जी के सम्मान में रात्रिभोज की मेजबानी की। द्रौपदी मुर्मू जी, वेंकैया जी और मंत्रियों सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। जमीनी स्तर पर उपलब्धि हासिल करने वाले कई व्यक्तियों, पद्म पुरस्कार विजेताओं, आदिवासी समुदाय के नेताओं और अन्य लोगों का रात्रिभोज में स्वागत करते हुए भी हमें खुशी हुई।’’ इस मौके पर उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंद्रीय कैबिनेट के सदस्य मौजूद रहे। रात्रिभोज में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी भी शामिल हुए।इनपुट- एजेंसी

ट्राई ने संशोधित नंबर पोर्टिबिलटी नियम लागू करने की समयसीमा 11 नवंबर तक बढ़ायी

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीक्या आपको बार-बार आते हैं पानी में डूबने के सपने, जानिए इस डरावने सपने का मतलब******सपने देखना बहुत आम बात है, हर किसी को सपने आते हैं, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि सपने देखते वक्त हम बहुत डर जाते हैं, लगता है हमारी सांस टूट रही है हम मरने वाले हैं। कई लोगों को बार-बार पानी में डूबने का सपना आता है, अगर आप भी उनमें से एक हैं जिन्हें बार-बार पानी में सांस रुकने को सपना आता है तो हम आपको बताते हैं कि इसकी क्या वजह है।लंदन की क्वालिफाई काउंसलर और ड्रीम एक्सपर्ट डेल्फी एलिसी के मुताबिक अगर सपने में आप खुद को डूबता हुआ देखते हैं तो इसका मतलब यह है कि आप अंदर से बहुत ज्यादा परेशान हैं और आपको किसी चीज का डर सता रहा है। आपको शांत रहने की जरूरत है, और सोचना कम करना होगा। अगर आप पास्ट की बातें सोचकर परेशान हैं तो उसे छोड़िये जो बीत गया उसे सोचकर खुद को परेशान मत करिए। खुद के लिए समय निकालें और व्यायाम-मेडिटेशन करें और मन को शांत रखें।अगर आप सपने में देखते हैं कि आप किसी नदी में डूब रहे हैं तो इसका मतलब है निकट भविष्य में कुछ बड़ा घटित होने वाला है।अगर आप सपने में किसी को डूबते देख रहे हैं तो इसका मतलब है कि वो शख्स किसी परेशानी में है और आप उसकी मदद नहीं कर पा रहे हैं। हालांकि इसमें आप खुद को दोष न दें।अगर सपने में आप किसी दोस्त को डूबते देखें तो इसका मतलब है वो आपका पक्का दोस्त है और आप उसकी बहुत चिंता करते हैं।सपने में अगर किसी बच्चे को आप डूबता देखते हैं इसका मतलब ये है कि आप अपने बच्चों से बहुत प्यार करते हैं, ऐसा सपना उन्हें ही आता है जिनके घर में छोटे बच्चे हैं और उन्हें उनसे बहुत लगाव है।अगर आप सपने में डूब रहे हैं मगर फिर सुरक्षित बच जाएं तो इसका मतलब है कि आप बहुत ताकतवर हैं।अगर डूबने से कोई और आपको बचाता है तो इसका मतलब ये हुआ कि आपके करीबी लोग अच्छे हैं और वो आपकी मदद करेंगे।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीदिल्ली दंगाः High Court ने सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अनुराग ठाकुर समेत इन नेताओं को भेजा नोटिस******दिल्ली उच्च न्यायालय ने प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया में विभिन्न दलों के नेताओं को पक्ष बनाने संबंधी याचिका पर सुनवाई करते हुए अनुराग ठाकुर (भाजपा), कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रिंयका गांधी वाद्रा, मनीष सिसोदिया समेत कई अन्यको मंगलवार को फिर से नाटिस जारी किए है। अदालत में दायर याचिका में अनुरोध किया गया है कि संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ फरवरी, 2020 में हुए प्रदर्शनों के बाद हुए दंगों में कथित रूप से घृणा भाषण देने के संबंध में इन नेताओं की जांच की जाए।न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल और न्यायमूर्ति रजनीश भटनागर की पीठ ने यह देखने के बाद कि याचिकाकर्ताओं द्वारा शुल्क (फीस) जमा नहीं किए जाने के कारण अदालत द्वारा 28 फरवरी को जारी पिछले नोटिस नेताओंतक नहीं पहुंच सके हैं, उसने आज फिर से नोटिस जारी किए। पीठ ने कहा, ‘‘प्रस्तावित वादियों (राजनेताओं, सेलिब्रेटी, कार्यकर्ताओं और अन्य) को नोटिस नहीं भेजा जा सके, क्योंकि इनकी फीस जमा नहीं की गई थी। याचिकाकर्ताओं द्वारा दो दिनों के भीतर फीस जमा किए जाने और अन्य औपचारिकताएं पूरी करने के बाद सभी प्रस्तावित वादियों को नये सिरे से नोटिस भेजा जाए।’’अदालत ने मामले की सुनवाई के लिए 29 अप्रैल की तारीख तय की है।उत्तर-पूर्वी दिल्ली में फरवरी, 2020 में हुए दंगों से जुड़ी विभिन्न याचिकाओं पर सुनवाई कर रही अदालत ने सभी प्रस्तावित वादियों को नोटिस जारी किया है। दोनों याचिकाओं में इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई का अनुरोध किया गया है। शेख मुजतबा फारूक की ओर से दायर याचिका में भाजपा नेताओं अनुराग ठाकुर, कपिल मिश्रा, परवेश वर्मा और अभय वर्मा के खिलाफ कथित घृणा भाषण को लेकर प्राथमिकी दर्ज करने का अनुरोध किया गया है।दूसरी अर्जी ‘लॉयर्स वॉइस’ द्वारा दी गई है जिसमें कथित घृणा भाषण के लिए कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ-साथ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान, एआईएमआईएम नेता अकबरूद्दीन ओवैसी, एआईएमआईएम के पूर्व विधायक वारिस पठान, महमूद प्राचा, हर्ष मंदर, मुफ्ती मोहम्मद इस्माइल, अभिनेत्री स्वरा भास्कर, उमर खालिद, बी.जी.कोल्से पाटिल, बंबई उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का अनुरोध किया गया है।

ट्राई ने संशोधित नंबर पोर्टिबिलटी नियम लागू करने की समयसीमा 11 नवंबर तक बढ़ायी

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीजोहान्सिबर्ग टेस्ट में अच्छी पारी खेलने के बाद भी रहाणे के हाथ लगी मायूसी, बेहद कम दाम में इस टीम के हुए अजिंक्य******आईपीएल के 11वें सीजन की नीलामी जारी है। टीम इंडिया की टेस्ट टीम के उपकप्तान 4 करोड़ में बिके।रहाणे के लिए किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियाके होड़ दिखी। आखिरकार किंग्सइलेवन पंजाब4 करोड़ तक गई।लेकिन बाजीराजस्थान रॉयल्स ने क्योंकि राजस्थान ने रहाणे के लिए राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल किया।रहाणेउन 8 भारतीय खिलाड़ियोंमें से हैं जिन्होंने आईपीएलइतिहास में 3 हजार रन बनाए हैं।​रहाणे ने पिछले सीजन में राइजिंग पुणे सुपर जाएंट्स की ओर से खेला था। अब वो 2 साल आईपीएलमें वापसी कर रही अपनी पुरानी टीम राजस्थान रॉयल्स के पास वापस लौट चुके हैं।

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीBank Account में 75000 रुपये भेज रही है सरकार? जानिए सच्चाई******एडवांस टेक्नोलॉजी के इस दौर में आम आदमी की खबरों तक तेज और आसान पहुंच तो बनी ही है लेकिन इसके साथ ही फेक खबरों (Fake News) का भी प्रवाह तेज हुआ है। कई बार यह फेक खबरें खास उद्देश्य से प्लांट की जाती हैं तो कई बार जानकारी की कमी के कारण भी इनका जन्म होता है। यह लोगों को सच्चाई से दूर अफवाहों के अंधेरे की ओर ले जाती हैं। इन खबरों का फैक्ट चेक जरूरी होता है।केंद्र सरकार की एजेंसी प्रेस इनफॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) की फैक्ट चेक विंग सरकार से जुड़ी ऐसी ही संदेहपूर्ण खबरों का फैक्ट चेक करती है। PIB की यह विंग सरकार से जुड़े तथ्यों, जानकारियों, दावों और अफवाहों की पड़ताल करती है। ऐसे में इसने (PIB Fact Check) एक और सरकार से जुड़े दावे का फैक्ट चेक किया है और दावे को गलत पाया।PIB Fact Check ने ट्वीट किया, "दावा: एक YouTube वीडियो में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार द्वारा मोदी लोन योजना के तहत सभी देशवासियों के खाते में ₹75,000 की नगद राशि दी जा रही है।.....PIBFactCheck: यह दावा फ़र्ज़ी है। केंद्र सरकार ने ऐसी कोई घोषणा नहीं की है।"गौरतलब है कि अगर आपको भी केंद्र सरकार की नीति/योजना से जुड़ी किसी खबर या दावे में कोई संदेह है तो आप भी PIB की फैक्ट चेक विंग से संपर्क कर सकते हैं। इसके लिए आप उन्हें @PBIFactCheck पर ट्वीट, 8799711259 पर व्हाट्सएप और पर मेल कर सकते हैं।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीचारधाम और कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तराखंड के नए सीएम धामी ने क्या कहा? इंडिया टीवी के साथ की विशेष बातचीत****** उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य नेताओं से मुलाकात के बाद इंडिया टीवी के साथ विशेष बातचीत की। पुष्कर सिंह धामी ने इंडिया टीवी संवाददाता देवेंद्र पराशर के साथ विशेष बातचीत में कहा कि सबसे पहले तो मैं माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी बहुत धन्यवाद करता हूं, दिल से बहुत आभारी हूं कि उन्होंने एक सामान्य परिवार में पैदा हुए एक सैनिक के पुत्र को उत्तराखंड के मुख्य सेवक के रूप में काम करने का अवसर प्रदान किया। चारधाम यात्रा को लेकर सीएम धामी ने कहा कि चार धाम यात्रा से बहुत लोगों की जीविका जुड़ी हुई है। चार धाम यात्रा का मामला अदालत में है। कोविड प्रोटोकॉल के साथ चार धाम यात्रा की जा सकती है। कुंभ और चार धाम की तुलना मरकज से ठीक नहीं है। के नए सीएमधामी ने कहा कि बहुत सारी चीजें जो उत्तराखंड में पहले से चल रही हैं। चाहे हम चारधाम यात्रा की जो हमारी सड़कें हैं इनको ऑल वेदर रोड कहते हैं वो बहुत काफी हजारों करोड़ों की सड़कें बन रही हैं। इसके अलावा केदारनाथ में जो मोडिफिकेशन का काम चल रहा है वहां पर आदिगुरु शंकराचार्य जी की मूर्ति लगाई जानी है... ऐसे तमाम मुद्दे हैं उत्तराखंड के हैं और इस समय हमारा जो कोरोना का कहर भी चल रहा है। हमारी रुकी हुई है, कांवड़ यात्रा प्रस्तावित है और साथ में वैक्सीनेशन का काम चल रहा है उसको लेकर मैंने उनका मार्गदर्शन लिया है।उत्तराखंड में पर्यटकों की भीड़ को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में सीएम धामी ने कहा कि हमने पर्यटकों के लिए होटलों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ आवंटन करने का निर्देश दिया है इसके लिए ऑर्डर निकाल दिया गया है। साथ में जो लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं उनके चालान करने का भी काम तेजी से चल रहा है। हमारी पूरी कोशिश है क्योंकि बाहर से आने वाले लोगों का भी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट भी उत्तराखंड में चेक किया जा रहा है। धामी ने कहा कि 50 फीसदी क्षमता के साथ होटल में बुकिंग की इजाजत दी गई है। कैम्पटी फॉल से आए वीडियो और तस्वीरों को संज्ञान में लिया गया है और हमने तत्काल कार्रवाई की है। साथ ही बिना मास्क वाले लोगों का चालान काटने का निर्देश दिए गए हैं। को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में सीएम धामी ने कहा कि हमारे यहां से तो केवल जल लेने के लिए आते हैं। उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और दिल्ली के लोग जल लेने के लिए आते हैं। कांवड़ यात्रा को लेकर पड़ोसी राज्यों से बातचीत जारी है। उत्तराखंड में कांवड़ यात्रा पर रोक का फैसला लिया गया है। धामी ने कहा कि लोगों का जीवन सबसे जरूरी, आस्था भी अहम है। उत्तराखंड में 50 फीसदी वैक्सीनेशन हुआ है। अगले 3 महीने में 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन का टारगेट रखा गया है। कुंभ और चार धाम की तुलना मरकज से ठीक नहीं है।

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीGoogle Maps टोल आने से पहले बता देगा कितने चुकाने होंगे पैसे, इस तरह Toll Charge बचाने में भी करेगा मदद******Google MapsHighlights ने भारत, अमेरिका, जापान और इंडोनेशिया के यूजर्स के लिए मैप्स में एक नया फीचर शुरू किया है जो किसी दिए गए मार्ग पर टोल शुल्क का पहले ही अनुमान देगा। कंपनी के अनुसार, यह फीचर अमेरिका, भारत, जापान और इंडोनेशिया में अपने आईओएस और एंड्रॉइड ऐप के लिए 'लगभग 2000' टोल सड़कों के लिए उपलब्ध है और यह 'जल्द ही' और अधिक देशों में समर्थन जोड़ने की योजना बना रहा है। गूगल ने अप्रैल में भारत, अमेरिका, जापान और इंडोनेशिया में मैप्स पर टोल की कीमतों को रोल आउट करने की घोषणा की जो यूजर्स को टोल सड़कों और नियमित सड़कों के बीच चयन करने में मदद करेगी। यानी यात्री नियमित सड़क का चयन कर पैसे की बचत भी कर पाएंगे।इस नए अपडेट के साथ, उपयोगकर्ता अब स्थानीय टोलिंग अधिकारियों से टोल मूल्य निर्धारण की जानकारी के साथ यात्रा शुरू होने से पहले ही अपने गंतव्य के लिए अनुमानित टोल चार्ज का पता लगा सकते हैं। गूगल ने कहा कि प्रदर्शित टोल मूल्य 'स्थानीय टोलिंग अधिकारियों से विश्वसनीय जानकारी' पर आधारित है।कंपनी ने आगे कहा, गूगल मैप्स टोल पास या अन्य भुगतान विधियों का उपयोग करने की लागत, सप्ताह के दिन, और उपयोगकर्ता द्वारा विशिष्ट समय पर टोल की लागत की उम्मीद जैसे कारकों के आधार पर आपके गंतव्य के लिए कुल टोल मूल्य का अनुमान लगाएगा। वैकल्पिक मार्गों की तलाश करने वालों के लिए, गूगल मैप्स टोल और विकल्पों के साथ, जहां उपलब्ध हो, एक टोल-फ्री मार्ग का विकल्प प्रदान करना जारी रखेगा।कंपनी ने कहा,अगर वे पूरी तरह से टोल मार्गो से बचना चाहते हैं, गूगल मैप्स में दिशाओं के ऊपरी दाएं कोने में तीन बिंदुओं पर एक साधारण टैप यूजर्स को मार्ग विकल्पों का चयन करने और 'टोल से बचने' की अनुमति देगा।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीPAK vs AUS : पहला टेस्ट मैच ड्रॉ होने के बाद रावलपिंडी के पिच को लेकर यह क्या बोल गए पैट कमिंस******Highlightsपाकिस्तान के खिलाफ पहला टेस्ट मैच ड्रॉ होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कमिंस ने रावलपिंडी के पिच को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। कमिंस का मानना है कि यहां का पिच पूरी तरह से सपाट था जो जिसके कारण तेज गेंदबाजों के लिए यह काफी चुनौतीपूर्ण रहा। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से कप्तान कमिंस इकलौते तेज गेंदबाज रहे जिन्हें विकेट मिला। कमिंस के अलावा स्पिनर नाथन लियोन और मार्नस लाबुशेन को एक-एक सफलता हासिल की।मैच के बाद कप्तान पैट कमिंस ने कहा, ''अगर हम पिच की बात करें तो यह बिल्कुल भी पारंपरिक नहीं था, जिसके लिए कि रावलपिंडी को जाना जाता है। मेरे ख्याल से इस पिच पर तेज गेंदबाजों के लिए एक नई चुनौती पेश कर उन्हें आजमाने की कोशिश की गई थी।''उन्होंने कहा, ''मेरे ख्याल से हमारे लिए यह सकारात्मक रहा, उपमहाद्वीप में जब आप खेल रहे होते हैं तो ड्रॉ का नतीजा भी बुरा नहीं रहता है। मुझे लगता है कि हम सब ने मैच में अलग-अलग प्रयास किए। प्लेइंग इलेवन में जितने भी तेज गेंदबाज थे सबने पहले तीन दिनों के खेल में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की। हम सब ने लगभग 25 से 30 ओवरों की गेंदबाजी की जो ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टेस्ट मुकाबलों से थोड़ा सा अधिक था।''आपको बता दें कि इस मुकाबले में मेजबान पाकिस्तान की टीम ने टीम शानदार खेल का प्रदर्शन का प्रदर्शन किया। पाकिस्तान के लिए इमाम उल हक ने दोनों ही पारियों ने बेहतरीन शतकीय पारी खेली। पाकिस्तान ने अपनी पहली पारी में 4 विकेट के नुकसान पर 476 रन बनाकर घोषित किया था। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 459 रन बनाए थे।वहीं दूसरी पारी में पाकिस्तान की टीम ने बिना कोई विकेट गंवाए 252 रन बनाए थे। दोनों टीमों के बीच सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 12 मार्च को कराची में खेला जाएगा।

ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीIND vs WI : टीम इंडिया के इस खिलाड़ी की लग सकती है लॉटरी, शिखर धवन ने नहीं दिया मौका!******Highlightsटीम इंडिया के वेस्टइंडीज दौरे का एक फेज खत्म होने का है। वन डे सीरीज का आज आखिरी मैच खेला जाएगा और इसके बाद टी20 सीरीज शुरू होगी। पांच मैचों की टी20 सीरीज के लिए रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इंडिया वेस्टइंडइीज पहुंच चुकी है। पूर्व कप्तान विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह को छोड़कर बाकी सभी खिलाड़ी इस सीरीज में वापसी कर रहे हैं। इस बीच खबर ये भी आ रही है कि केएल राहुल पूरी टी20 सीरीज से बाहर हो गए हैं, यानी अब वे वेस्टइंडीज नहीं जाएंगे।शिखर धवन की कप्तानी में अब तक दो वन डे मैच खेले जा चुके हैं, अब एक ही मैच बाकी है। इन दोनों मैचों में कप्तान शिखर धवन के साथ ओपनिंग के लिए शुभमन गिल को उतारा गया। उम्मीद है कि आज भी यही जोड़ी सलामी के लिए मैदान में उतरेगी। यानी दूसरे ऑप्शन यानी ईशान किशन और रुतुराज गायकवाड़ एक भी मैच नहीं खेल पाएंगे, लेकिन जैसे ही वन डे के बाद टी20 सीरीज शुरू होगी, वैसे ही ईशान किशन की लॉटरी लग जाएगी, क्योंकि वहां पर रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग के लिए पहली च्वाइस वही हैं। वैसे तो रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग केएल राहुल करते, लेकिन वे हैं ही नहीं। साथ ही दूसरा कोई ओपनर नहीं है। ऋषभ पंत को पिछले कुछ मैचों में ओपनिंग के लिए आजमाया गया, लेकिन माना जा रहा है कि वे इस सीरीज में ओपनिंग शायद न करें, ऐसे में ईशान किशन ही ऐसे खिलाड़ी हैं जो लगातार ओपनिंग करते हुए दिख सकते हैं।टी20 सीरीज के लिए जिस टीम का चयन किया गया है, उसमें रोहित शर्मा, केएल राहुल और ईशान किशन ही ओपनर हैं। वैसे काम चलाने के लिए तो किसी से भी ओपनिंग कराई जा सकती है, लेकिन अब विश्व कप करीब है और कोई भी नहीं चाहेगा कि इस वक्त बहुत ज्यादा प्रयोग किए जाएं। ऐसे में ईशान किशन को लगातार मौका दिया जा सकता है। रोहित शर्मा और केएल राहुल के बाद वे ही तीसरे ओपनर हैं। यानी जिस खिलाड़ी को शिखर धवन की कप्तानी में एक भी मैच खेलने के लिए न मिला हो, रोहित शर्मा के आते ही वो खिलाड़ी सभी मैच खेलते हुए दिख सकता है। लेकिन इससे पहले आज का मैच काफी अहम है, देखना दिलचस्प होगा कि कप्तान शिखर धवन और कोच राहुल द्रविड़ आज किस प्लेइंग इलेवन के साथ मैदान में उतरते हैं।रोहित शर्मा, ईशान किशन, केएल राहुल, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, श्रेयस अय्यर, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन, रवि बिश्नोई, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, अवेश खान, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह।ट्राईनेसंशोधितनंबरपोर्टिबिलटीनियमलागूकरनेकीसमयसीमा11नवंबरतकबढ़ायीयोगी आदित्यनाथ ने खुद फोन कर मुलायम, मायावती और अखिलेश को शपथ समारोह का दिया न्यौता******Highlights योगी आदित्यनाथ ने मुलायम सिंह यादव, बसपा सुप्रीमो मायावती और अखिलेश यादव को खुद फोन कर शपथ ग्रहण समारोह का न्योता दिया है। 25 मार्च (शुक्रवार) को शाम 4 बजे लखनऊ के इकाना स्टेडियम में योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। बता दें कि, योगी आदित्यनाथ ने निजी तौर पर कई लोगों को शपथ ग्रहण समारोह को लेकर न्योता दिया है। इससे पहले योगी आदित्यनाथ गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद देर शाम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। को गुरुवार को एक बार फिर सर्वसम्मति से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नवनिर्वाचित विधायक दल का नेता चुन लिया गया। वह लगातार दूसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे। भाजपा द्वारा केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर भेजे गए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और सह पर्यवेक्षक झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास की मौजूदगी में योगी को विधायक दल का नेता चुना गया। भाजपा विधायक दल के सबसे वरिष्ठ सदस्य सुरेश कुमार खन्ना ने योगी के नाम का प्रस्ताव रखा जिसका सूर्य प्रताप शाही, बेबी रानी मौर्य, नंद गोपाल गुप्ता नंदी और राम नरेश अग्निहोत्री ने समर्थन किया। उसके बाद मौजूद सभी विधायकों ने इस पर रजामंदी दे दी।राजभवन के सूत्रों ने बताया कि योगी विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद देर शाम करीब 8:15 बजे राजभवन पहुंचे और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर औपचारिक रूप से सरकार बनाने का दावा पेश किया। इससे पहले, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के नेतृत्व में भाजपा गठबंधन के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात की थी और उन्हें 273 विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा था।राजभवन की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, राज्यपाल को सौंपे गए पत्र में आग्रह किया गया है कि योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में एवं उनके मंत्रिमण्डल के शपथ ग्रहण के लिए आवश्यक निर्देश जारी किये जाये। राज्यपाल ने उनके अनुरोध को स्वीकार करते हुये 25 मार्च को अपराह्न 03.15 बजे लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन रखा है।राज्यपाल ने योगी से अपने प्रस्तावित मंत्रिमण्डल के सहयोगियों को शपथ दिलाने के लिए उनकी सूची प्रस्तुत करने को कहा है ताकि संविधान के अनुच्छेद 164(1) के तारतम्य में शपथ दिलायी जा सके। उत्तर प्रदेश विधानसभा के हाल ही में संपन्न हुए चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को 255 सीटें मिलीं, जबकि उसके सहयोगी अपना दल सोनेलाल को 12 तथा निषाद पार्टी को छह सीटों पर जीत हासिल हुई थी। योगी मंत्रिमंडल का भव्य शपथ ग्रहण समारोह शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अनेक केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेताओं तथा विभिन्न क्षेत्रों की प्रमुख हस्तियों की मौजूदगी में लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेई इकाना स्टेडियम में आयोजित किया जाएगा।

पिछला:दिल्ली में मोबाइल-इंटरनेट जाम का इंतजाम 1 दिन पहले कर लिया गया था
अगला:कोरोना वायरस: भारी मांग के कारण भारत ने एन-95 मास्क के निर्यात पर लगाई रोक, ये है एन-95 मास्क का रेट
संबंधित आलेख