मुखपृष्ठ > लिंगाओ काउंटी
Climate Change: जमकर अपना कहर बरपा रहा जलवायु परिवर्तन! जल चक्र में तेज बदलाव, तो कहीं शक्तिशाली तूफान और बाढ़ ने मचाई तबाही
रिलीज़ की तारीख:2022-10-07 14:37:00
विचारों:457

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीCalifornia Fire: कैलिफोर्निया में जंगल में सबसे भीषण आग, 2 हजार से अधिक घरों की बिजली काटी, सुरक्षित जगह जाने का आदेश******Highlightsअमेरिका के जंगलों में हर साल आग लगती है। इस बार कैलिफोर्निया के जंगलों में भीषण आग लगी है। इस कारण हजारों परिवारों को परेशान होकर सुरिक्षत स्थानों के लिए घर छोड़कर जाना पड़ा है। कैलिफोर्निया में जंगल की आग ने विकराल रूप धारण कर लिया है। कैलिफोर्निया में योसेमिट नेशनक पार्क के समीप जंगल में यह आग लगी है, जिसके कारण प्रशासन ने लोगों से अपने घरों को छोड़कर अन्य सुरक्षित जाने का आदेश दिया है। यह कैलिफोर्निया के जंगलों में इस साल लगी सबसे भयंकर आग है। इसके कारण 2,000 से अधिक घरों और उद्योगों की बिजली काटनी पड़ी।48 वर्ग किमी के दायरे में फैली है आगकैलिफोर्निया के वानिकी और अग्नि सुरक्षा विभाग के अनुसार मारीपोसा काउंटी में मिडपाइंस शहर के समीप नेशनल पार्क के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर को आग लगी और शनिवार तक यह करीब 48 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र तक फैल गई। सिएरा राष्ट्रीय वन के प्रवक्ता डेनियल पैटरसन ने कहा कि कम आबादी वाले गांवों के क्षेत्र में रह रहे 6,000 से अधिक लोगों को शनिवार को अपने.अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाने का आदेश देना पड़ा।400 से ज्यादा फायर फाइटर आग पर काबू पाने की कर रहे मशक्कतगवर्नर गैविन न्यूसम ने वन्य आग के कारण शनिवार को मारीपोसा काउंटी के लिए आपातकाल की घोषणा की। पैटरसन ने बताया कि 400 से अधिक दमकलकर्मी आग पर काबू पाने की कोशिशों में जुटे हैं और हेलीकॉप्टर, अन्य विमान तथा बुलडोजर की भी सहायता ली जा रही है। कैलिफोर्निया के दमकल विभाग ने बताया कि शनिवार सुबह तक आग लगने के कारण 10 रिहायशी और कर्मिशयल बिल्डिंग्स नष्ट हो गईं, पांच अन्य क्षतिग्रस्त हुई हैं तथा 2,000 से अधिक इमारतों को खतरा है। जलवायु परिवर्तन के कारण हाल के वर्षों में कैलिफोर्निया में जंगलों में आग लगने की घटनाएं काफी बढ़ गई है।पिछले माह भी भीषण आग को काबू करने में हुई थी परेशानीपिछले माह भी कैलिफोर्निया के जंगल में भीषण आग लगी थी। यह शहर तेज हवा और गर्मी के लिया भी जाना जाता है। यह आग कैलिफोर्निया से न्यू मैक्सिको के जंगलों तक फैल गई। 20 वर्गकिमी में फैली इस आग कपर काबू पाने के लिए दमकलकर्मियों ने भारी मशक्कत की थी। इसके बाद इस बार तो साल की सबसे भीषण आग लगी है। ऐसे में प्रशासन के लोगों के लिए आग पर काबू पाने के लिए भारी मेहनत करना होगी। ये दमकलकर्मी इसके लिए जी जान से जुटे हुए हैं।

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीजूनियर पायलटों से एक करोड़ रुपये के बांड भरवा रही है जेट एयरवेज****** यूनियन सूत्रों के अनुसार निजी क्षेत्र की ने अपने जूनियर पायलटों से कंपनी में कम से कम पांच से सात साल कंपनी में नौकरी करने तथा एक करोड़ रुपये तक मूल्य का जमानती बांड भरने की शर्त रखी है।सूत्रों के अनुसार कंपनी ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जबकि लागत में कटौती की पहल के तहत उसके अनेक जूनियर पायलटों को हर महीने 10 दिन अवकाश लेने को कहा गया है। इस कदम से उनके वेतन में 30 प्रतिशत तक कटौती होगी।नेशनल एविएटर्स गिल्ड एनएजी के सूत्रों ने कहा कि बांड भरने की अनिवार्यता के बारे में जूनियर पायलटों को सूचित किया गया है।सूत्रों ने कहा कि इन पायलटों से एक करोड़ रुपये मूल्य के जमानती बांड भरने को कहा गया है और यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जबकि कंपनी एकतरफा ढंग से उनके वेतन में कटौती का फैसला कर चुकी है।वहीं यह पूछे जाने पर कि कंपनी ने प्रशिक्षु पायलटों को बांड भरने के लिए कहा है जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा, किसी नये बांड के लिए नहीं कहा गया है। यह तो तरीका है जिसे लागू किया जा रहा है।एनएजी में सूत्रों ने कहा कि संगठन इस बारे में इस सप्ताह कंपनी प्रबंधन से मिलने पर विचार कर रहा है ताकि वेतन कटौती के प्रस्ताव पर विचार विमर्श किया जा सके क्योंकि यह एकतरफा ढंग से किया गया है। जेट एयरवेज में कुल मिलाकर 200 से अधिक जूनियर पायलट हैं।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीVastu Shastra: अपनी किचन में लगाएं ये खास तस्वीर, खूब बढ़ेगी सुख-समृद्धि******Highlightsहम सभी हमेशा चाहते हैं कि हमारे घर में हमेशा ही धन-धान्य और सुख-समृद्धि बनी रहे। इसलिए ही इंसान इतनी भागदौड़ और मेहनत करते हैं। वास्तु शास्त्र में आज इंदु प्रकाश से जानिए कि किचन में कैसी तस्वीरें लगाने से हम धन-धान्य और सुख-समृद्धि को बढ़ा सकते हैं।वास्तु शास्त्र में आज हम बात कर रहे हैं रसोईघर, यानी किचन में तस्वीर लगाने के बारे में. घर में किचन सबसे important जगह होती है क्योंकि यह हमारी अन्नपूर्णा है। इसलिए इसकी खूबसूरती और सौभाग्य का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। रसोईघर में माता अन्नपूर्णा का एक चित्र जरूर होना चाहिए। साथ ही फलों व सब्जियों से भरा एक सुंदर सा चित्र अपनी रसोई में लगाएं।माता अन्यपूर्णा और फलों व सब्जियों के चित्रों को लगाने से घर में धन-धान्य की कभी कमी नहीं रहती। हमेशा अनाज के भंडार भरे रहते हैं और घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। यानी आपको कभी आभाव और किल्लतों का सामना नहीं करना होगा।इसके अलावा अगर आपकी रसोई वास्तु के अनुसार दक्षिण-पूर्व या दक्षिण दिशा में नहीं बनी है या उसमें वास्तु से जुड़ी कोई अन्य परेशानी है तो रसोई के उत्तर-पूर्व, यानी ईशान कोण में सिंदूरी रंग के गणेश जी, यानी कि हेरम्ब गणेश जी की तस्वीर लगानी चाहिए।

Climate Change: जमकर अपना कहर बरपा रहा जलवायु परिवर्तन! जल चक्र में तेज बदलाव, तो कहीं शक्तिशाली तूफान और बाढ़ ने मचाई तबाही

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीModi Gov@4: जरूरी चीजों के दाम रहे काबू में, पेट्रोल- डीजल की कीमतों ने बिगाड़ा खेल******modi governmentमोदी सरकार के पिछले चार साल के कार्यकाल में आटा, चावल जैसी जरूरी उपभोक्ता वस्तुओं के दाम इनके न्यूनतम समर्थन मूल्य में हुई वृद्धि को देखते हुए ज्यादा नहीं बढ़े। सरकारी उपायों से दाल-दलहन उतार-चढ़ाव के बाद पहले के स्तर पर आ गए, चीनी के दाम 10 प्रतिशत नीचे हैं। लेकिन ब्रांडेड तेल, साबुन जैसे रोजमर्रा के इस्तेमाल वाले विनिर्मित उत्पादों में इस दौरान आठ से 33 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई। हालांकि, पिछले कुछ महीने से लगातार बढ़ने से महंगाई को लेकर सरकार की आगे की राह कठिन नजर आती है। दिल्ली में पेट्रोल 78.01 रुपए और डीजल का दाम 68.94 रुपए के आसपास पहुंच गया है। देश के कुछ राज्यों में पेट्रोल का दाम 80 रुपए लीटर को पार कर चुका है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम तेजी से बढ़ने, अमेरिका द्वारा इस्पात और एल्युमीनियम जैसे उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ाने और बदलती भू-राजनीतिक परिस्थितियों के चलते आने वाले दिनों में महंगाई को लेकर सरकार की राह कठिन हो सकती है।वाणिज्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों में भी महंगाई में नरमी के बाद मजबूती का रुख दिखा है। मई 2014 में थोक मुद्रास्फीति 6.01 प्रतिशत और खुदरा महंगाई 8.28 प्रतिशत थी। इसके बाद मई 2017 में थोक मुद्रास्फीति 2.17 और खुदरा मुद्रास्फीति 2.18 प्रतिशत रही। अब अप्रैल 2018 में इसमें वृद्धि का रुख दिखाई दे रहा है और थोक मुद्रास्फीति 3.18 प्रतिशत और खुदरा मुद्रास्फीति 4.58 प्रतिशत पर पहुंच गई।मोदी सरकार ने पिछले साल एक जुलाई से देश में माल एवं सेवाकर (जीएसटी) लागू किया। जीएसटी के तहत खुले रूप में बिकने वाले आटा, चावल, दाल जैसे खाद्यान्नों को कर मुक्त रखा गया जबकि पैकिंग में बिकने वाले ब्रांडेड सामान पर पांच अथवा 12 प्रतिशत की दर से जीएसटी लगाया गया।एक सामान्य दुकान से की गई खरीदारी के आधार पर तैयार आंकड़ों के मुताबिक मई 2014 के मुकाबले मई 2018 में ब्रांडेड आटे का दाम 25 रुपए किलो से बढ़कर 28.60 रुपए किलो हो गया। पीएचडी उद्योग मंडल के मुख्य अर्थशास्त्री एस.पी. शर्मा का भी कहना है कि पिछले चार साल के दौरान आटा, चावल, दाल जैसी जरूरत वस्तुओं के दाम सरकारी प्रयासों के चलते ज्यादा नहीं बढ़े हैं लेकिन सब्जियों के दाम में इस दौरान काफी उतार-चढ़ाव रहा। प्याज, टमाटर जैसी सब्जियों के दाम कभी 10-15 रुपए किलो तो कभी 100 रुपए किलो तक ऊपर पहुंच गये। इस पर नियंत्रण होना चाहिए।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीAndroid स्मार्टफोन में डेवलपर ऑप्शन क्या होता है? ये कैसे करता है काम, डिटेल में जानिए******Highlights आज के समय में बहुत सारे लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं। स्मार्टफोन से कॉलिंग के साथ हर वह जरूरी काम कर सकते हैं जो हमारी जीवन से जुड़ी हुई है। इसका इस्तेमाल ना सिर्फ पर्सनल बल्कि प्रोफेशनल लेवल पर भी हो रहा है। शानदार फीचर और बजट में होने के कारण ज्यादातर लोग एंड्रॉयड स्मार्टफोन खरीदना पसंद करते हैं। हालांकि आईओएस यूजर्स की भी संख्या कम नहीं है। बजट को देखते हुए कुछ लोग एंड्रॉयड से ऐपल आईफोन की तरफ बढ़ रहे हैं। क्या आपने अभी तक एंड्रॉयड स्मार्टफोन में डेवलपर ऑप्शन देखा है।अगर आप एक एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर है तो डेवलपर ऑप्शन को इनेबल कर स्मार्टफोन में कई ऐसे फीचर्स का इस्तेमाल कर सकेंगे जिसके बारे में कुछ ही लोगों को जानकारी है। केवल एंड्रॉयड यूजर्स ही इसे इनेबल कर सकते हैं। आईओएस यूजर के लिए यह फीचर उपलब्ध नहीं है।डेवलपर ऑप्शन नए नए फीचर्स का एक समूह है। जिसे इनेबल कर स्मार्टफोन में हिडन लगभग 22 फीचर्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिसमें memory, take bug report, OEM unlocking, USB debugging, Mock location, USB Configuration के साथ कई अन्य फीचर्स शामिल है। स्मार्टफोन को एडवांस फीचर के साथ कंट्रोल करने के लिए इस ऑप्शन को इनेबल करना बहुत जरूरी है। इससे ना सिर्फ एडवांस ऑप्शन देखने को मिलेंगे बल्कि स्मार्टफोन की क्षमता से अधिक इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। एडवांस फीचर के बारे में जानकारी लेने और इसका इस्तेमाल करने के लिए डेवलपर ऑप्शन को स्मार्ट फोन की सेटिंग में जाकर इसे इनेबल कर दें।डेवलपर ऑप्शन एंड्रॉयड स्मार्टफोन में इनेबल करने के बाद स्मार्टफोन की क्षमता बढ़ जाती है। इसमें कई ऐसे फीचर देखने को मिलते हैं जो सामान्य स्मार्टफोन में नहीं होता है। इसे इनेबल करने के बाद एडवांस फीचर का इस्तेमाल बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। एडवांस फीचर भी आपको स्मार्ट फोन की सेटिंग में देखने को मिल जाएंगे। सेटिंग में जाने के बाद एडवांस पर क्लिक कर आप उन सभी 22 नए फीचर को देख सकते हैं जिसका आप इस्तेमाल करना चाहते हो। किसी भी फीचर को इनेबल करने से पहले इसके बारे में जानकारी जरूर ले लें।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीजानें, क्या ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर BJP को मिल पाएंगे मुस्लिम महिलाओं के वोट?****** पश्चिमी उत्तर प्रदेश में ‘’ का मुद्दा रूढ़ीवादी मुसलमान परिवारों के पुरुष और महिलाओं को बांटता नजर आ रहा है...जहां कई इस प्रथा को अपराधिक श्रेणी में डालने के हक में हैं लेकिन पति के प्रति वफादारी के चलते वे भाजपा को मत देने से परहेज कर रही हैं। ‘तीन-तलाक’ को ‘तलाक-ए-बिद्दत’ भी कहा जाता है। इसके तहत मुस्लिम पुरुष तीन बार ‘तलाक’ बोलकर कर महिला को तुरंत तलाक दे सकता है।पश्चिमी में पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होगा, जहां अधिकतर पुरुषों का मानना है कि सरकार को उनके धार्मिक मामलों में दखल नहीं देना चाहिए। मुजफ्फरनगर की रहने वाली एक गृहिणी कैसर जहां ने एक महिला की दुविधा को बयां किया.. जिसमें वह आत्म-विश्वास और परंपरा, जो अपने पति की बात मानने के लिए कहती है...के बीच फंसी हैं। उन्होंने कहा, ‘‘तीन तलाक एक अत्याचार है जिसे निश्चित तौर पर अपराधिक श्रेणी में डालना चाहिए। मुझे अच्छा लगा कि भाजपा ने हमारे बारे में सोचा। ’’ साथ ही उन्होंने कहा कि वह भाजपा के लिए वोट नहीं देंगी क्योंकि उनके पति नहीं चाहते की वह जीते।कैसर ने कहा, ‘‘मैं वहीं वोट दूंगी जहां मेरे पति कहेंगे। वह नहीं चाहते की भाजपा जीते इसलिए मैं उसे वोट नहीं दूंगी।’’ कैसर को वहां से ले जाने के लिए आए उनके पति असलम ने कहा, ‘‘हमारे धर्म में दखल ना दें। राजनीति को इससे बाहर रखें।’’ कैराना, मुजफ्फरनगर, मेरठ और बागपत में भी यही हालात हैं। सहारनपुर, बिजनौर, गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर के साथ यहां भी पहले चरण में मतदान होगा। कैराना की राबिया (35) ने कहा, ‘‘तीन तलाक एक गलत प्रथा है लेकिन हम भाजपा को वोट नहीं देंगे। हम अखिलेश जी (सपा के प्रमुख अखिलेश यादव) द्वारा उतारे गए किसी भी उम्मीदवार को वोट देंगे...जैसा मेरे पति ने कहा है।’’उत्तर प्रदेश की भाजपा इकाई के उपाध्यक्ष ने कहा कि करीब 1.5 करोड़ मतदाताओं में लगभग 35 प्रतिशत मुस्लमान हैं जो पहले चरण में मतदान करेंगे। क्षेत्र की अधिकतर महिलाओं ने ‘तीन-तलाक’ को चर्चा में लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना करते हुए कहा कि यह महिला सशक्तिकरण की ओर एक कदम है। मुजफ्फरनगर की निवासी फरजाना ने कहा, ‘‘मेरे पति ने मुझे तलाक देकर दूसरी महिला से शादी कर ली। मेरे पास इस फैसले को स्वीकार करने के अलावा कोई और रास्ता नहीं था। मैं अब अपने चार वर्षीय बच्चे के साथ रहती हूं। ‘तीन-तलाक’ एक घिनौनी प्रथा है। क्या हम मुस्लिम महिलाओं के कोई अधिकार नहीं है?’’उसकी नाराजगी गूंज पास के छोटे शहर कैराना में भी गूंजी। सबा को भी उसके पति ने ‘तीन-तलाक’ के जरिए छोड़ दिया और अब वह अपने माता-पिता के साथ रहती है। अधिकतर महिलाओं ने जहां ‘तीन-तलाक’ को अपराध की श्रेणी में डालने का समर्थन किया लेकिन कई ऐसी महिलाएं भी हैं जिनका मानना कि ‘अल्लाह’ सब ठीक कर देगा और सरकार इसके रास्ते में आने की कोशिश कर रही है।बागपत की फैजा की एक वर्ष पहले शादी हुई है। उसका मानना है कि ‘तीन-तलाक’ एक निजी मामला है जिसमें किसी भी राजनीतिक दल को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।उच्चतम न्यायालय ने अगस्त 2017 में दिए एक ऐतिहासिक फैसले में कुरान के मूल सिद्धांतों के खिलाफ होने तथा शरीयत का उल्लंघन करने सहित कई आधारों पर 1400 साल पुरानी इस प्रथा को बंद कर दिया था।सरकार ने सितंबर 2018 में ‘तीन-तालक’ अध्यादेश जारी कर, इसे मुस्लिम पुरुषों के लिए दंडनीय अपराध बना दिया। अधिकतर मुस्लिम पुरुषों ने भाजपा पर समाज का ध्रुवीकरण करने और इस्लाम में दखलअंदाजी करने का आरोप लगाया है। कई पुरुषों ने कहा कि अगर सरकार मुस्लमानों के लिए कुछ करना ही चाहती हैं तो उन्हें हिंसा नहीं भड़काना चाहिए। भाजपा ने यहां 2014 में सभी आठ सीटों पर जीत हासिल की थी। कैराना में उपचुनाव के बाद वह सीट रालोद के खाते में चली गई थी।

Climate Change: जमकर अपना कहर बरपा रहा जलवायु परिवर्तन! जल चक्र में तेज बदलाव, तो कहीं शक्तिशाली तूफान और बाढ़ ने मचाई तबाही

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीUGC ने सेंट्रल यूनिवर्सिटी के कॉलेजों में दाखिले को लेकर किया ये बड़ा ऐलान, जानिए पूरी डिटेल******Highlights विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने 12वीं के बाद कॉलेजों में प्रवेश लेने को लेकर एक अहम घोषणा की। यूजीसी ने 2022-23 शैक्षणिक सत्र में सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों और उनके संबद्ध कॉलेजों में ग्रेजुएट एंट्रेंस में बोर्ड परीक्षा के प्रदर्शन को कोई वेटेज नहीं दिए जाने की ऐलान किया है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने सोमवार को एक अहम घोषणा करते हुए बताया कि कि इस साल कॉलेजों में प्रवेश के लिए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) का स्कोर आधार होगा। हालांकि, यूनिवर्सिटी को बोर्ड परीक्षा के अंकों पर न्यूनतम पात्रता निर्धारित करने की अनुमति होगी।विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार नेकहा कि केंद्रीय विश्वविद्यालयों को स्नातक पाठ्यक्रमों में छात्रों के दाखिले के लिए विश्वविद्यालय संयुक्त प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) में प्राप्त अंकों का उपयोग करना होगा। उन्होंने कहा कि जुलाई के पहले सप्ताह में सीयूईटी का आयोजन किया जाएगा। इसका मतलब है कि विभिन्न विश्वविद्यालयों के पात्रता मानदंडों को छोड़कर छात्रों के दाखिले में 12वीं कक्षा में प्राप्त अंकों का कोई असर नहीं पड़ेगा। कुमार ने प्रेसवार्ता के दौरान कहा, ''वर्ष 2022-23 शैक्षणिक वर्ष से राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी स्नातक एवं परास्नातक कोर्स के लिए सीयूईटी का आयोजन करेगी। सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों को अपने पाठ्यक्रमों में दाखिला देने के लिए सीयूईटी में प्राप्त अंकों पर विचार करना होगा।''उल्लेखनीय है कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों को यूजीसी से आर्थिक सहायता मिलती है। कुमार ने कहा कि सीयूईटी का पाठ्यक्रम एनसीईआरटी के 12वीं कक्षा के सिलेबस से मिलता-जुलता ही होगा। सीयूईटी में सेक्शन-1ए, सेक्शन-1बी, समान्य परीक्षा और पाठ्यक्रम-विशिष्ट विषय होंगे। सेक्शन-1ए अनिवार्य होगा, जोकि 13 भाषाओं में होगा और उम्मीदवार इनमें से अपनी पसंद की भाषा का चयन कर सकते हैं। कुमार ने कहा कि छात्रों के पास अंग्रेजी, हिंदी, असमी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और उर्दू का विकल्प रहेगा। यूजीसी अध्यक्ष ने कहा कि सीयूईटी का विश्वविद्यालयों की आरक्षण नीति पर कोई प्रभाव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि सीयूईटी के बाद किसी भी केंद्रीय काउंसलिंग का आयोजन नहीं होगा।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीUttarakhand : पुष्कर धामी के साथ ये 8 विधायक ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ, जानें डिटेल्स****** उत्तराखंड में पुष्कर सिंह धामी आज मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने वाले हैं। धामी के साथ उनकी कैबिनेट के मंत्री भी थपथ लेंगे। ताजा जानकारी के मुताबिक धामी के साथ 8 विधायक भी मंत्री की शपथ ले सकते हैं। इन संभावित आठ मंत्रियों में ऋतु खंडूरी, सतपाल महाराज, धनसिंह रावत, गणेश जोशी, रेखा आर्य, प्रेम चंद अग्रवाल , सौरभ बहुगुणा का नाम शामिल है।आपको बता दें कि उत्तराखंड में आज पुष्कर सिंह धामी राज्य के 12 वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह देहरादून के परेड ग्राउंड में दोपहर 2.30 बजे होगा। इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई केंद्रीय मंत्री और कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। वहीं इस मौके पर पूरे देहरादून को दुल्हन की सजाया गया है।हाल ही में घोषित विधानसभा चुनाव परिणाम में भाजपा ने 70 में से 47 सीट पर जीत हासिल किया और दो-तिहाई से अधिक बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सत्ता में आई। हालांकि भाजपा की अगुवाई करने वाले धामी स्वयं अपनी परंपरागत खटीमा सीट से हार गए। इस कारण नेतृत्व को मुख्यमंत्री के नाम पर नए सिरे से मंथन करना पड़ा जिसमें लगभग 11 दिन का वक्त लग गया।

Climate Change: जमकर अपना कहर बरपा रहा जलवायु परिवर्तन! जल चक्र में तेज बदलाव, तो कहीं शक्तिशाली तूफान और बाढ़ ने मचाई तबाही

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीअसम में 246 उग्रवादियों ने आत्मसमर्पण किया, 2 संगठन फरवरी में हथियार डालेंगे: हिमंत******Highlightsअसम में गुरुवार को यूनाइटेड गोरखा पीपुल्स ऑर्गनाइजेशन (UGPO) और तिवा लिबरेशन आर्मी (TLA) के कुल 246 उग्रवादियों ने गुवाहाटी प्रदेश के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा के सामने औपचारिक रूप से आत्मसमर्पण कर दिया। इनमें 169 उग्रवादी यूजीपीओ के और 77 उग्रवादी TLA के हैं। आत्मसमर्पण करने वाले उग्रवादियों का मुख्यधारा में स्वागत करते हुए सरमा ने कहा कि बराक घाटी के दो और ब्रू-रियांग उग्रवादी संगठन फरवरी में हथियार डाल देंगे। उन्होंने उग्रवादियों के आत्मसमर्पण के लिए आयोजित औपचारिक कार्यक्रम में कहा कि उल्फा (आई) और कामतापुर लिबरेशन ऑर्गनाइजेशन (KLO) ही राज्य में उग्रवादी संगठन बचे रह जाएंगे। ने कहा, ‘बराक घाटी में दो ब्रू-रियांग समूह आने वाले दिनों में आत्मसमर्पण कर देंगे। हम उनका फरवरी तक आत्मसमर्पण कराने की कोशिश करेंगे।’ उग्रवादियों के आत्मसमर्पण की प्रक्रिया से जुड़े एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने ब्रू रिवोल्यूशनरी आर्मी यूनियन (BRAU) और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक लिबरेशन फ्रंट (UDLF) का जिक्र किया। UGPO और TLA के उग्रवादियों ने सरमा के सामने विभिन्न प्रकार के 277 हथियार, 720 कारतूस और हथगोले जमा किए। UGPO की स्थापना 2007 में हुयी थी यह मुख्यतया कोकराझार, चिरांग, बक्सा और बिश्वनाथ जिलों में सक्रिय रहा है।मुख्यमंत्री ने जोर दिया कि विभिन्न जातीय समुदायों द्वारा छोटे-छोटे उग्रवादी संगठन बनाने का चलन अब लगभग समाप्त हो गया है। उन्होंने कहा, ‘उदाहरण के लिए, हमने गोरखा समुदाय के सभी मुद्दों का हल किया। इसलिए अब सशस्त्र संघर्ष की कोई आवश्यकता नहीं है और इसीलिए यूजीपीओ ने आत्मसमर्पण कर दिया है।’ सरमा ने रवा नेशनल लिबरेशन फ्रंट (RNLF), आदिवासी ड्रैगन फाइटर (ADF), नेशनल संथाल लिबरेशन आर्मी (NSLA), नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ बंगाली (NLFB) तथा यूनाइटेड पीपुल्स रिवोल्यूशनरी फ्रंट (UPRF) के आत्मसमर्पण करने वाले सदस्यों को 1.5-1.5 लाख रुपये का वित्तीय अनुदान भी प्रदान किया।इन उग्रवादी समूहों ने 2020 में तत्कालीन मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के सामने सामूहिक रूप से हथियार डाले थे। सरमा ने कहा कि सरकार का लक्ष्य आत्मसमर्पण करने वाले सभी उग्रवादियों का 10 मई तक पुनर्वास करना और उन्हें समाज का अभिन्न अंग बनाना है।

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीUP Weather Forecast: उत्तर प्रदेश के इन 18 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, तेज हवाओं के साथ बिजली गिरने की भी संभावना******Highlights: उत्तर प्रदेश जहां अब तक औसत से कम बारिश हुई है, वहां मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग के अनुसार यूपी के 18 जिलों में भारी बारिश की संभावना बनी हुई है। बारिश के साथ-साथ इन जिलों में 70 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं भी चलेंगी और आकाशीय बीजली गिरने की भी संभावना बनी हुई है। इसलिए अगर जरूरी काम ना हो तो इन 18 जिलों के लोग भारी बारिश के समय घर पर ही रहें और बारिश के दौरान भूल कर भी पेड़ों के नीचे ना खड़े हों।मौसम विभाग के अनुसार, उत्तर प्रदेश के लखनऊ, लखीमपुर खीरी, बरेली, शाहजहांपुर, एटा, आगरा, अयोध्या, अमेठी, बस्ती, सुल्तानपुर, पीलीभीत, बदांयू, फिरोजाबाद, फर्रुखाबाद, हाथरस, रायबरेली, अलीगढ़, प्रतापगढ़, प्रयागराज, जौनपुर, सिद्धार्थनगर और बलरामपुर में बारिश हो सकती है। जबकि इन जिलों में तेज हवाओं के साथ-साथ आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना बनी हुई है।उत्तर प्रदेश जहां अब तक औसत से कम बारिश हुई है, वहां के ये कुछ जिले हैं जहां सबसे ज्यादा बारिश हुई है। इनमें हैं-अगर राज्य के कम बारिश वाले जिलों की बात करें तो इसमें कानपुर, मऊ, अमरोहा, मुरादाबाद, गोंडा, बस्ती, संतकबीरनगर, कौशाम्बी, गाजियाबाद शामिल हैं। यहां 40 फीसदी से कम बारिश हुई है। वहीं गौतमबुद्ध नगर, श्रावस्ती, शाहजहांपुर, जौनपुर, कुशीनगर, फर्रुखाबाद, कानपुर देहात और रामपुर में भी 40% बरसात दर्ज हुई है।राज्य में कम बारिश होने की वजह से 19 जिले सूखे की कगार पर हैं। यहां सामान्य से महज 40 फीसदी बारिश दर्ज की गई है। सीएम योगी का कहना है कि इस बार 19 जिलों में कम बारिश हुई है। ऐसे में सभी जिलों की गहन निगरानी करें। जिन जगहों पर बारिश की वजह से बुआई पर असर पड़ रहा है, वहां नजर रखें।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीपेट्रोल-डीजल की जगह सस्ती ग्रीन एनर्जी के लिए हो जाएं तैयार, सरकार ने हाइड्रोजन नीति की घोषणा की******Hydrogen policyHighlightsसरकार ने गुरुवार को बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय हाइड्रोजन नीति के पहले हिस्से को पेश किया। इसमें विभिन्न रियायतों समेत हरित हाइड्रोजन के उत्पादन के लिये नवीकरणीय ऊर्जा कहीं से भी और किसी से भी लेने की अनुमति होगी। बिजली और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने कहा कि नीति से कार्बन-मुक्त हरित हाइड्रोजन की उत्पादन लागत को कम करने में मदद मिलेगी।नीति के तहत कंपनियों को स्वयं या अन्य इकाई के माध्यम से सौर या पवन ऊर्जा जैसे नवीकणीय स्रोतों से बिजली पैदा करने को लेकर क्षमता स्थापित करने की आजादी होगी। हरित हाइड्रोजन उत्पादकों के लिये अंतर-राज्यीय पारेषण शुल्क से छूट मिलेगी। आवेदन देने के 15 दिन के भीतर हाइड्रोजन उत्पादकों को खुली पहुंच की अनुमति मिल जाएगी। उन्होंने कहा कि नीति के तहत सरकार कंपनियों को वितरण कंपनियों के पास उत्पादित अतिरिक्त हरित हाइड्रोजन को 30 दिन तक रखने की अनुमति देगी।जरूरत पड़ने पर वे इसे वापस ले सकते हैं। यह छूट उन परियोजनाओं के लिये होगी जो 30 जून, 2025 से पहले लगायी जाएंगी। सिंह के अनुसार, हरित हाइड्रोजन उत्पादकों और नवीकरणीय ऊर्जा संयंत्रों को ग्रिड से ‘कनेक्टविटी’ प्राथमिक आधार पर दी जाएगी ताकि प्रक्रिया संबंधी कोई देरी नहीं हो।

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीUP Election 2022: लखीमपुर विधानसभा सीट पर वोटों की गिनती जारी, बीजेपी के उम्मीदवार योगेश वर्मा आगे****** उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए वोटों की गिनती जारी है। राज्य के लखीमपुर खीरी जिले में पड़ने वाली लखीमपुर सदर विधानसभा सीट पर भी वोटों की गिनती चल रही है। अभी तक मिले सबसे ताजा रुझानों के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार योगेश वर्माआगे चल रहे हैं। उन्हें अब तक वोट मिले हैं।सपा गठबंधन उम्मीदवार उत्कर्ष वर्मा के खाते मेंवोट आए हैं। बहुजन समाज पार्टी के मोहन वाजपेयी लड़ाई में पिछड़ गए हैं। बता दें कि, इस बार समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय लोक दल के अलावा कई छोटी-छोटी पार्टियों से गठबंधन किया है। लखीमपुर सदर में भाजपा ने विधायक योगेश वर्मा को और सपा ने पूर्व विधायक उत्कर्ष वर्मा को मैदान में उतारा है। बसपा ने मोहन वाजपेयी को टिकट दिया है।लखीमपुर सदर विधानसभा सीट पर 2017 के चुनाव की बात करें तो यहां बीजेपी के योगेश वर्मा ने जीत दर्ज की थी। योगेश वर्मा को कुल 1 लाख 22 हजार (48.45 प्रतिशत) से ज्यादा वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रहे सपा के उत्कर्ष वर्मा को को 84 हजार ((33.54 प्रतिशत)) से ज्यादा वोट मिले थे। वहीं बसपा के शशिधर मिश्रा को 39 हजार से ज्यादा वोट मिले थे वे तीसरे नंबर पर रहे। यहां 2017 में 3 लाख 93 हजार (64.97 प्रतिशत) से ज्यादा लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया था।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीAntim Box Office Collection Day 1: सत्यमेव जयते 2 पर भारी पड़ी सलमान खान की फिल्म 'अंतिम', कमाए इतने करोड़******Highlightsबॉलीवुड सलमान खान और आयुष शर्मा की फिल्म 'अंतिम: द फाइनल ट्रुथ' सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी हैं। ड्रामा, एक्शन से भरपूर अंतिम ने जॉन अब्राहम की फिल्म से ज्यादा कमाई की हैं।अंतिम ने जॉन अब्राहम की 'सत्यमेव जयते 2' पर काफी प्रभाव डाला है और बड़े मल्टीप्लेक्स में भारी गिरावट के साथ फिल्म 40-50% नीचे है।बॉक्स ऑफिस इंडिया वेबसाइट के मुताबिक अंतिम ने 4.25 से 4. 50 करोड़ तक का कलेक्शन किया है। माना जा रहा है की वीकेंड में अच्छा कलेक्शन कर सकती है।अंतिम के अलावा जॉन अब्राहम और दिव्या खोसला की फिल्म सत्यमेव जयते भी सिनेमाघरों में रिलीज हो गई हैं। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस में ज्यादा बढ़त नहीं कर पाई है। दूसरे दिन इस पिल्म ने करीब ढाई करोड़ रुपए का बिजनेस किया है। इसके साथ ही दो दिन में करीब 6 करोड़ का बिजनेस कर चुकी है। इस फिल्म के डायरेक्टर मिलाप झावेरी है।सलमान खान और आयुष शर्मा की फिल्म 'अंतिम' को क्रिटिक्स से भी अच्छी रिस्पॉन्स मिला है। वहीं दूसरी ओर फैंस को भी फिल्म काफी पसंद आ रही हैं। महेश मांजरेकर द्वारा निर्देशित, सलमा खान द्वारा निर्मित और सलमान खान फिल्म्स द्वारा प्रस्तुत की गई है। फिल्म में सलमान खान, आयुष शर्मा और महिमा मकवाना फिल्म में मुख्य भूमिकाओं में हैं।

जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीUS Federal Reserve ने ब्याज दरों में की 28 साल में सबसे बड़ी बढ़ोत्तरी, जानिए आपकी जेब पर पड़ेगा क्या असर******Highlights महंगाई और मंदी की मार झेल रहे अमेरिका में वहां के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरें बढ़ा दी है। विभिन्न रिपोर्ट के अनुमान के अनुसार ही अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में 0.75 फीसदी की बढ़ोत्तरी कर दी है। 1994 के बाद पहली बार फेड ने 75 बेसिस पॉइंट की वृद्धि की है। आपको बता दें अमेर‍िका में महंगाई 40 साल के शीर्ष स्‍तर पर पहुंच गई है ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी की घोषणा करते हुए फेड चेयरमैन जेरोन पॉवेल ने आर्थिक सुस्ती से इनकार किया है। यूएस फेड की तरफ से क‍िए गए इजाफे के बाद अमेरिकी शेयर बाजार के प्रमुख सूचकांक नैस्डैक, डाउ जोंस और एनवाईएसई में तेजी देखने को मिली। डाओ 436 अंक और नेस्डेक 470 अंक चढ़कर बंद हुआ। आपको बता दें अमेरिका में 1980 के बाद महंगाई के र‍िकॉर्ड लेवल पर पहुंचने के बाद यह न‍िर्णय हुआफेडरल ओपन मार्केट कमेटी की तरफ से कहा गया क‍ि महंगाई शीर्ष स्‍तर पर है। इसकी वजह से 1.5 प्रत‍िशत से 1.75 प्रत‍िशत तक चलने वाले बेंचमार्क रेट को बढ़ाकर 2.25 फीसदी से 2.5 फीसदी तक कर दिया गया है। आपको बता दें कि अमेर‍िका में महंगाई के 40 साल में र‍िकॉर्ड लेवल पर पहुंचने पर मार्च से अब तक यूएस फेड ने ब्याज दरों में 225 बेस‍िस प्‍वाइंट की बढ़ोतरी कर दी है।अमेरिकी फेड द्वारा 75 बेसिस प्वाइंट ब्याज दर बढ़ाने से भारतीय रिजर्व बैंक पर भी ब्याज दरें बढ़ाने का दबाव बढ़ेगा। रिजर्व बैंक की समीक्षा बैठक अगस्त के शुरुआत में होनी है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अमेरिकी फेड के कदम को देखकर ही भारत का रिजर्व बैंक भी कदम उठाएगा। वहां आक्रामक रेट हाइक के बाद हमारे यहां भी ब्याज दरों में बढ़ी बढ़ोतरी हो सकती है। लिहाजा आपकी ईएमआई से लेकर लोन तक महंगा होता।बीते माह रिज़र्व बैंक की ओर से ब्याज दरों में वृद्धि के झटके से यदि आप अभी तक नहीं उबरे हैं तो तैयार हो जाइए। अगस्त के पहले सप्ताह में रिजर्व बैंक ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी की अगली किस्त लेकर आने वाला है। जानकारों के मुताबिक ब्याज दरों में 0.35 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी तय मानी जा रही है। ऐसे में अगस्त में आपके होम और कार लोन की महंगाई भी एक बार फिर उफान मार सकती है। अमेरिकी ब्रोकरेज कंपनी बोफा सिक्योरिटीज की एक रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। बैंक ने बढ़ती महंगाई को काबू में लाने के लिये मई और जून में नीतिगत दर में कुल 0.90 प्रतिशत की वृद्धि की। खुदरा मुद्रास्फीति केंद्रीय बैंक के संतोषजनक स्तर दो से छह प्रतिशत के दायरे से बाहर चली गयी है।जमकरअपनाकहरबरपारहाजलवायुपरिवर्तनजलचक्रमेंतेजबदलावतोकहींशक्तिशालीतूफानऔरबाढ़नेमचाईतबाहीराशिफल 19 अप्रैल: कन्या राशि वालों को मिल सकता है संतान सुख, जानिए अन्य राशियों का हाल******आज वैशाख कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि और रविवार का दिन है। आज त्रिपुष्कर योग रहेगा। त्रिपुष्कर योग के दौरान की गयी कोशिश का फल भी हमें 3 गुना होकर प्राप्त होते है। इसके आलावा आज पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र रहेगा ।पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र आज पूरा दिन - पूरी रात पार करके अगले दिन यानि 20 अप्रैल की सुबह 7 बजकर 23 मिनट तक रहेगा । पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग दयालु और नेक दिल होने के साथ ही खुले विचारों के भी धनी होते हैं। आज अगर आपका बर्थडे है तो क्या करें और अगर आपकी मैरिज एनिवर्सिरी है तो क्या खास करें? क्या है आपका लकी कलर और लकी नंबर? ये सब जानने के लिए पढि़ए 20 अप्रैल का राशिफल।आज किसी काम में भाई-बहन आपका हाथ बंटायेंगे। आपका काम जल्दी पूरा होगा | आप आपके तरक्की के कई नये रास्ते खुले नजर आएंगे। इस राशि के कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन बेहतर रहेगा | किसी टॉपिक में आ रही प्रॉब्लम आज दोस्तों की मदद से सॉल्व हो जायेगी। आज आप अपना समय कोई पुस्तक पढ़ कर बितायेंगे। परिवार वालों के साथ घर पर ही कोई मूवी देखेंगे। दाम्पत्य जीवन में खुशियाँ आयेंगी। तुलसी के पौधे पर जल अर्पित करें, घरेलू कलेश समाप्त होंगे ।लकी रंग- वायलट,लकी नंबर 5आज आपका दिन खुशियों से भरा रहेगा। आप खुद को सेहतमंद महसूस करेंगे। रोजमर्रा के काम में आपको सफलता मिलेगी। किसी विशेष कार्य में की गई मेहनत का फल आपको अवश्य मिलेगा | कुछ लोगों को आपके विचार पसंद आयेंगे। अचानक धनलाभ होने योग बन रहे हैं। ऑफिस के सहकर्मी आपसे फ़ोन पर मदद लेंगे। लवमेटस अपनी शादी की बात घर पर करें। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होता रहेगा | अपने गुरु का ध्यान करके प्रणाम करें, कार्यों में सफलता मिलेगी।लकी रंग -गुलाबी,लकी नंबर- 6आज आप घर पर ही ऑफिस के काम में बिजी रहेंगे। दिनभर के काम से आपको शाम को थकान महसूस करेंगे। जीवनसाथी के साथ अपने रिश्तों को लेकर आप कुछ ज्यादा ही भावुक होंगे।| आपको अपनी भावनाओं पर थोड़ा काबू रखना चाहिए।। साथ ही बिना वजह के खर्चों पर नियंत्रण रखना चाहिए इससे आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।लकी रंग लाल, लकी नंबर 2आज आपका वैवाहिक जीवन खुशियों से भरा रहेगा। परिवार के साथ बेहत तालमेल बनाकर चलें। बात करते समय आपको अपने हाव-भाव पर थोड़ा ध्यान रखना चाहिए। अनावश्यक बाहर निकालने से बचे | आज आप खुद को तरोताजा महसूस करेंगे | आज बड़े-बुजुर्ग की सलाह आपके लिये फायदेमंद रहेगी | परीक्षा के परिणाम विद्यार्थियों के फेवर में आयेगा।| लवमेटस के लिए दिन अच्छा रहने वाला है | चन्दन का तिलक लगायें, पूरे दिन मनप्रसन्न रहेगा । लकी रंग सफेद, लकी नंबर- 1आज शाम तक कोई शुभ समाचार मिलने से घर में अच्छा माहौल बन जायेग। इस राशि के नवविवाहित जातकों का दिन खुशियों भरा रहेगा। पारिवारिक चीज़ों को आप अच्छे से संभाल लेंगे। ऑनलाइन व्यापार कर रहे लोगों को आज फायदा होगा। लवमेट्स एक दुसरे के प्रति विश्वास बनायें रखे, रिश्तें अच्छे बने रहेंगे | करियर में आपको सफलता मिलेगी | विरोधियों से आपको थोड़ा बचकर रहना चाहिए । दुर्गा चालीसा का पाठ करें, कार्यों में आ रही रुकावटें समाप्त होंगी ।लकी रंग- हरा, लकी नंबर -8आज आपका मन प्रसन्न रहेगा | आपको किसी कानूनी मामले में कुछ खास लोगों से मदद मिल सकती है । परिवार में सबकी इच्छा पूरी करने में आप सफल होंगे | आज किसी दोस्तों के साथ फ़ोन पर लम्बी बात होगी। आज आपको कुछ नये बिजनेस प्रपोजल मिलेंगे | संतान से सुख की अनुभूति मिलेगी । कार्यों में जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होता रहेगा। कुल मिलाकर आज आपका दिन अच्छा रहेगा | घर के बड़ों का आशीर्वाद लें, आपकी सफलता सुनिश्चित होगी | लकी रंग- ऑरेंज, लकी नंबर 4आज अधिकारियों के साथ आपको अपने व्यवहार में थोड़ी सावधानी रखनीचाहिए | पेरेंट्स की सलाह आपके लिए कारगर साबित होगी | इस राशि के छोटे बच्चे पढ़ाई के प्रति कुछ कम रूचि लेंगे, बेहतर रहेगा पढ़ाई में मन लगायें | आज विरोधियों से बचकर रहने की जरुरत है | खुद को फिट रखने के लिए आपको योग और एक्सरसाइज़ का सहारा लेना चाहिए | इससे आप बेहतर फील करेंगे | लक्ष्मी जी को प्रणाम करें, व्यापार में वृद्धि होगा ।लकी रंग- पीच, लकी नंबर- 1आज आप परिवार वालों के साथ घर पर ही मनोरंजन का प्लान बनायेंगे। इस राशि के व्यापारी वर्ग के लोगों का काम रूकने से थोडा परेशान होंगे। आर्थिक स्थिति को ठीक बनाये रखने के लिए, खर्चों पर थोडा नियंत्रण रखने की जरुरत है | वर्क फ्रॉम होम कर रहे लोगों का काम आज धीमी गति से पूरा होगा। आपकी दिनचर्या में बदलाव आयेगा | जीवनसाथी आपसे प्रसन्न रहेंगे, साथ ही आपके कार्यों में सहयोग भी करेंगे | घर के मंदिर में घी का दीपक जलाएं, आय के नये स्त्रोत मिलेंगे।लकी नंबर- 7, लकी रंग - मैजेंटाआज अधिकारियों से खास मामलों पर फ़ोन पर बातचीत होगी। इस राशि के इलेक्ट्रॉनिक इंजीनीयर्स अपने अनुभव का प्रयोग सही दिशा में करेंगे | किसी जरूरी काम में जीवनसाथी की सलाह लेना अच्छा रहेगा | दाम्पत्य जीवन में खुशियाँ बढ़ेगी। आज अचानक धन लाभ होने का योग बन रहा है। आर्थिक स्थिति अच्छी बनी रहेगी। ऑफिस के किसी काम में फ़ोन से सहकर्मियों से मदद मिलेगी। अपने ईष्टदेव को प्रणाम करें, लाभ के कई मौके मिलेंगे।लकी रंग -स्काई ब्लू, लंकी नंबर- 9आज आपका कोई जरूरी काम पूरा हो सकता है। आज आप कोई बिजनेस करने का मन बनायेंगे। इस राशि की महिलाओं के लिए आज का दिन राहतपूर्ण रहने वाला है। आप बिजनेस के सिलसिले में किसी मित्र से फ़ोन पर लम्बी बात करेंगे | समाज में आपका दायरा बढ़ेगा। दाम्पत्य जीवन में नयापन आयेगा। लॉ की पढ़ाई कर रहे छात्रों को और मेहनत करने की जरुरत है | लवमेटस के रिश्तों में चल रही अनबन आज समाप्त हो जायेगी । माता दुर्गा की धूप-दीप से पूजा करें, सभी समस्यायों का समाधान होगा |लकी रंग- पीला, लकी नंबर- 3आज आप लोगों को अपनी योजनाओं से सहमत कर लेंगे। भाग्य का पूरा-पूरा साथ आपको मिलेगा। कुछ दिनों से पेंडिंग काम आज पूरा हो जायेगा। लवमेट के लिए आज का दिन फेवरेबल रहेगा | माता-पिता से आज कोई अच्छी सलाह मिलेगी, जिससे आपको लाभ होगा । आज आप किसी बात को लेकर खुद ही मुस्कुराते नजर आयेंगे। आप किसी नई तकनीक को सीखने में रुचि दिखायेंगे। माता लक्ष्मी के मंत्र- ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम: का 21 बार जप करें, आर्थिक स्थिति मजबूत होगी | लकी रंग- काला, लकी नंबर -9आपको धन लाभ के कई मौके मिलेंगे। परिवार के सहयोग से आपके काम समय से पूरे हो जायेंगे।| आज आपको फिजूल की बातों में पड़ने से बचना चाहिए। आज सेहत में भी कुछ उतार-चढ़ाव बना रहेगा । आपको तली-भुनी चीजों को खाने से बचना चाहिए। जीवनसाथी की भावनाओं की कद्र करें। बच्चे आज कुछ खाने की इच्छा जाहिर करेंगे| लवमेटस के लिये दिन अच्छा रहने वाला है। धरती माँ को छूकर प्रणाम करें, आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा।

पिछला:नीतीश के अध्यक्ष का ‘अपमान’ करने के मामले पर हंगामा, विधानसभा स्थगित
अगला:55 दिनों से दिल्ली एयरपोर्ट पर फंसा जर्मनी का शख्स स्वदेश रवाना
संबंधित आलेख