मुखपृष्ठ > दक्षिण क्षेत्र
Azam Khan News: लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर सपा नेता आजम खान का अजीब बयान, कह दी ये बड़ी बात
रिलीज़ की तारीख:2022-10-07 14:16:55
विचारों:679

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातExclusive: आरपी सिंह ने विराट कोहली के आलोचकों को दिया करारा जवाब, बताया इस फॉर्मेट से करेंगे दमदार वापसी******भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली लंबे समय से अपने फॉर्म को वापस पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। उन्होंने पिछले दो सालों से भी अधिक समय से किसी भी फॉर्मेट में शतक नहीं लगाया है। इस कारण उनकी बल्लेबाजी भी काफी धीमी हो गई है और उनकी आलोचना भी की जाने लगी है। हालांकि इसके बावजूद टीम के इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह का मानना है कि कोहली अपने लय में जरूर वापस आएंगे और टीम के लिए रन जुटाएंगे।इंडिया टीवी को दिए एक खास इंटरव्यू में आरपी सिंह ने विराट कोहली को लेकर कहा, ''विराट एक खराब समय से गुजर रहे हैं। हमने कभी उन्हें ऐसे खेलते या आउट होते नहीं देखा है। फॉर्म खराब होने में समय लगता है और उससे निकलने में भी समय लगता है।''इसके अलावा आरपी सिंह ने यह भी बताया कि विराट टेस्ट फॉर्मेट से अपने फॉर्म को हासिल कर सकते हैं। उन्होंने कहा, ''कोहली टेस्ट फॉर्मेट में अपनी लय को वापस पा सकते हैं। टी20 में फॉर्म को वापस पाना किसी भी खिलाड़ी के लिए काफी मुश्किल भरा काम होता है।''वहीं आरपी सिंह ने विराट की धीमी बल्लेबाजी का समर्थन करते हुए कहा, ''कोई भी बल्लेबाज जब लंबे समय से फॉर्म वापस पाने के लिए संघर्ष कर रहा होता है तो स्वाभाविक रूप से उसके खेल पर असर दिखता है और बल्लेबाजी भी धीमी हो जाती है। कोहली को अभी ऐसा ही करने की जरूरत।''आपको बता दें कि विराट कोहली बेशक पिछले दो सालों में शतक नहीं लगा पाए हैं लेकिन वह तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम के लिए सबसे अधिक रन जुटाने वाले खिलाड़ी रहे हैं। उन्होंने साल 2020 से लेकर अब तक तीनों फॉर्मेट में भारत के लिए सबसे अधिक रन बनाए हैं। इस दौरान कोहली टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट (वनडे, टेस्ट और टी20) में कुल 57 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 89 पारियों में 2206 रन बनाए।पिछले दो सालों के इन आंकड़ों को देखें तो यह भारत के किसी भी अन्य बल्लेबाज से बेहतर है। हालांकि इस दौरान उनका औसत सिर्फ 35.58 का रहा है जो यह साबित करता है कि वह अपने अच्छे दौर से नहीं गुजर रहे हैं। वहीं पिछले दो सालों में किसी भी फॉर्मेट में उनका सर्वोच्च स्कोर 89 रनों का रहा है। विराट कोहली के बाद इस मामले में भारत के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा का नाम आता है। रोहित शर्मा साल 2022 से लेकर अब तक तीन फॉर्मेट में टीम इंडिया के लिए कुल 43 मैचों में मैदान पर उतरे। इस दौरान उन्होंने 54 पारियों में भारतीय टीम के लिए 2015 रन बनाए हैं।

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातफिल्म '83' में कपिल देव के मशहूर कैच के परफेक्ट शॉट के लिए रणवीर सिंह ने की थी 6 महीने मेहनत******Highlightsबॉलीवुड स्टार रणवीर सिंह, जिन्हें '83' में कपिल देव की भूमिका निभाने के लिए क्रिकेट और सिनेमा प्रशंसकों से समान रूप से प्यार और सराहना मिल रही है, ने खुलासा किया है कि उन्हें उस प्रसिद्ध बैकवर्ड-रनिंग (पीछे की ओर दौड़ते हुए) कैच को पूरा करने में छह महीने लगे थे, जिसे महान क्रिकेटर ने 25 जून, 1983 को मदन लाल की गेंद पर सर विवियन रिचर्डस को आउट करने के लिए लिया था। '83' को बॉक्स ऑफिस पर बंपर ओपनिंग मिली है। रणवीर को प्रशंसकों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है और भारत सहित दुनिया भर से फिल्म को अपार प्यार और सम्मान मिला है।रणवीर '83' की स्क्रीनिंग के लिए राष्ट्रीय राजधानी में थे और आईएएनएस को उनसे बात करने का मौका मिला। बहुमुखी प्रतिभा के धनी अभिनेता ने महान पूर्व भारतीय कप्तान और महान ऑलराउंडरों में से एक, कपिल देव की बेहतरीन भूमिका निभाई है।रणवीर ने खासतौर पर 'बाजीराव', 'पद्मावत', 'सिम्बा' और 'गली बॉय' से लेकर '83' तक हर फिल्म में निभाए गए अपने रोल में सभी को प्रभावित किया है। उन्होंने भारतीय सिनेमा के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ अभिनेताओं में से एक के रूप में अपनी जगह बनाई है।रणवीर ने आईएएनएस से कहा, "इस समय मुझे जिस तरह के संदेश मिल रहे हैं, उससे मैं अभिभूत हूं। हर कोई फिल्म को पसंद कर रहा है - सुनील गावस्कर सर, मदन लाल सर, कपिल सर, मेरे गुरु बलविंदर सिंह संधू सर, पीआर मान सिंह सर सभी ने मैसेज किया है और मेरे काम की प्रशंसा की है। आप इससे ज्यादा और क्या चाहेंगे, जब ऐसी महान हस्तियां आपके काम की सराहना करे।"अभिनेता ने फिल्म बनने के दिनों को याद करते हुए साझा किया कि कैसे कबीर खान ने कपिल देव को आमंत्रित करने और अभिनेता के साथ कुछ समय बिताने का विचार प्रस्तावित किया था।रणवीर ने कहा, "मैंने कपिल सर के साथ उनके घर में कुछ समय बिताया और उनकी इतनी प्रभावशाली व्यवहार है कि लोग उनके प्यार में पड़ जाएंगे। उनकी मुस्कान, उनकी हंसी, उनका चलना, उनकी बात, उनका डांस .. हां, उनका इतना प्यारा है डांस मूव्स है। मैं देखता था कि वह क्या कर रहे हैं और उनके दिमाग में क्या चल रहा है। वह 1983 में उस समय क्या सोच रहे होंगे। उन्हें इतने करीब से देखने से बहुत मदद मिली।"यह पूछे जाने पर कि सीखने के लिए सबसे कठिन हिस्सा क्या था, कपिल की गेंदबाजी शैली, उनका रवैया या बल्लेबाजी? अभिनेता ने जवाब दिया, "मैं अपने स्कूल के दिनों में क्रिकेट खेलता था और मैं एक अच्छा फील्डर होने के साथ ही बहुत ही आक्रामक और प्रभावशाली बल्लेबाज भी था। इसलिए बल्लेबाजी में कोई परेशानी नहीं आी। अभिनय की बात करें तो हम पेशेवर हैं, इसलिए कैरेटर में घुसना तो हमारा काम ही है।"रणवीर ने आगे कहा, "हां, गेंदबाजी सीखना सबसे कठिन काम था। मुझे उनकी कलाई की स्थिति, उनकी प्रतिष्ठित छलांग, गेंद को डालने से पहले छाती पर रगड़ना, ऐसे काम थे, जिनमें मुझे कई महीने लग गए।"उन्होंने कहा, "दरअसल, मेरे बायोमैकेनिक्स कपिल सर से अलग हैं। मैं 'सिम्बा' (फिल्म) से आ रहा था और मेरी मांसपेशियां बड़ी थीं। इसलिए संधू सर ने मुझे एथलेटिक फिजिक्स में आने के लिए कहा।"इस बारे में पूछे जाने पर कि क्या वह आखिरकार महान ऑलराउंडर की तरह कुछ गति और आउटस्विंग हासिल करने में कामयाब रहे, रणवीर ने कहा, "बहुत स्टंप्स उड़ाये मैंने फिर तो.मैं स्विंग के बारे में नहीं कह सकता, लेकिन मैं वास्तव में अच्छी गेंदबाजी कर रहा था और विकेट पर मार (गेंद) रहा था।"रणवीर ने सर विवियन रिचर्डस को आउट करने के लिए कपिल देव के प्रसिद्ध बैकवर्ड-रनिंग कैच को परफेक्ट तरीके से फिल्माने के लिए अपने संघर्ष को भी साझा किया, जिसने लॉर्डस में भारत की जीत में एक खास भूमिका निभाई थी।उन्होंने कहा, "इसे पूरी तरह से करने में मुझे छह महीने लगे। पीछे की ओर दौड़ते हुए कैच करना कठिन था। इसलिए, संधू सर गेंद फेंकते थे और मुझे दौड़कर इसे लेना पड़ता था।" यह पूछे जाने पर कि यह लेदर बॉल है या नहीं? रणवीर ने जवाब दिया, "हां, वह लेदर की ही गेंद थी।"उन्होंने कहा, "मैंने कई बार इसका अभ्यास किया और संधू सर मुझे सांत्वना पुरस्कार के रूप में बल्लेबाजी करने के लिए छह ओवर देते थे, जो मुझे सबसे ज्यादा पसंद था। मुझे एक लक्ष्य दिया गया था और मुझे इसका पीछा करना था। यह मजेदार था।"जिम्बाब्वे के खिलाफ कपिल की 175 रनों की पारी रिकॉर्ड नहीं हो पाई थी, क्योंकि उस दिन बीबीसी कर्मचारी हड़ताल पर थे। महान पारी की बारीकियों के बारे में जानना कितना कठिन था?"इसमें कोई शक नहीं है कि यह मुश्किल था, क्योंकि इसकी कोई वीडियो रिकॉडिर्ंग नहीं है। और साथ ही मुझे कपिल सर के लिए भी बुरा लग रहा है। यह क्रिकेट इतिहास की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक थी। और अब लोग फिल्म देखने के बाद ही उस ²श्य की सराहना कर रहे हैं और पता लगा रहे हैं कि उस समय यह कैसे किया गया होगा।"लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातIPL 2021, KKR vs MI : केकेआर-मुंबई के बीच मुकाबले में इन खिलाड़ियों को मिल सकती है प्लेइंग-11 में जगह******इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के दूसरे चरण में आज क मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस के बीच है। केकेआर की टीम ने दूसरे चरण में जीत के साथ आगाज किया है जबकि मुंबई को शुरुआती मुकाबले में ही हार झेलना पड़ा है।ऐसे में पांच बार की चैंपियन टीम मुंबई इंडियंस की कोशिश होगी की वह यहां से कोई मैच ना हारे जबकि केकेआर चाहेगा की वह दूसरे चरण में मिली विजयी शुरुआत को आगे बढ़ाते हुए जीत की लय को बरकरार रखे।केकेआर की टीम इस जीत के साथ ही अब पॉइंट्स टेबल में छठे स्थान पर है जबकि मुंबई चौथे पायदान पर काबिज है।वहीं दूसरी तरफ मुंबई की टीम केकेआर के खिलाफ इस मैच में अपने नियमित कप्तान के साथ मैदान पर उतरने की तैयारी में है जबकि हार्दिक पंड्या को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जा सकता है। ऐसे में मुंबई और केकेआर के बीच होने वाला यह मैच काफी रोमांचक होने की उम्मीद है।शुभमन गिल, वेंकटेश अय्यर, नितीश राणा, राहुल त्रिपाठी, इयोन मोर्गन (कप्तान), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), आंद्रे रसेल, सुनील नरेन, प्रसिद्ध कृष्णा, लॉकी फर्ग्यूसन और वरुण चक्रवर्ती।रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, कीरोन पोलार्ड, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, राहुल चाहर, एडम मिल्ने, जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट।संभावित प्लेइंग के साथ दोनों टीमों को मिलाकर बनने वाली ड्रीम इलेवन पर भी सबकी नजर बनी रहेगी। इस मुकाबले में रोहित शर्मा और हार्दिक की वापसी के साथ ही कई तरह के समीकरण बदलते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसे में आइए जानते हैं क्या हो सकता है आज के मैच का ड्रीम XI-मुंबई और केकेआर के बीच होने वाले मैच के ड्रीम इलेवन में टॉप ऑर्डर के खिलाड़ियों में चयन करना काफी मुश्किल होने वाला है। क्योंकि इन सभी खिलाड़ियों पॉइंट्स अधिक हैं लेकिन इसके बावजूद रोहित शर्मा, सुर्यकुमार यादव और शुभमन गिल लोकप्रिय पसंद की श्रेणी में शामिल रहेंगे।केकेआर के शुभमन गिल ने अपने पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन किया था, जिसके कारण टीम को आसानी से जीत हासिल हुई।विकेटकीपर के तौर देखा जाए तो मैच में कुल तीन खिलाड़ियों पर दांव लगाने का मौका मिलेगा। इसमें सबसे पहला नाम क्विंटन डिकॉक का आता है। क्विंटन मुंबई के लिए ओपनिंग बल्लेबाजी भी करते हैं। वहीं दूसरी पसंद निश्चित तौर पर ईशान किशन होंगे क्योंकि क्रिकेट के इस फॉर्मेट में उन्हें बेहतरीन खिलाड़ी माना जाता है।वहीं दिनेश कार्तिक इस मैच में तीसरे विकेटकीपर होंगे लेकिन निचले क्रम में बल्लेबाजी के कारण वह क्विंटन और ईशान के लोकप्रियता की बराबरी नहीं कर पाएंगे।ड्रीम -11 में सबसे अधिक उम्मीदें ऑलराउंडर खिलाड़ियों से रहती है। टीम में ऐसे खिलाड़ी हर क्षेत्र में अपना योगदान देते हैं। यही कारण है इनसे पॉइंट्स मिलने की संभवाना बहुत अधिक रहती है।ऐसे में मुंबई और केकेआर के बीच होने वाले मैच में आंद्रे रसेल और हार्दिक पंड्या को हर कोई अपनी ड्रीम इलेवन टीम लेना चाहेगा।इस मुकाबले को लेकर देखा जाए तो ट्रेंट बोल्ट लगभग सभी टीमों में नजर आ सकते हैं। बोल्ट की खासियत शुरुआती विकेट लेकर विरोधी टीम पर दबदवा बनाने की है। इसके अलावा जसप्रीत बुमराह अपने सटीक यॉर्कर से लगभग सभी मैच में विकेट निकालते हैं।ऐसे में इन दोनों खिलाड़ियों का ड्रीम इलेवन की टीम में शामिल होना लगभग तय है।इसके अलावा केकेआर के वरुण चक्रवर्ती ने अपने पिछले मैच में बेहतरीन प्रदर्शन किया था। यही कारण है की उन्हें टीम में लिया जाएगा। इसके अलावा लॉकी फर्ग्यूसन। को भी ड्रीम इलेवन में जगह मिलना लगभग तय है। क्विंटन डी कॉक, ईशान किशन, रोहित शर्मा (उप कप्तान), सूर्यकुमार यादव, शुभमन गिल, आंद्रे रसेल, हार्दिक पंड्या, ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह, वरुण चक्रवर्ती (कप्तान) और लॉकी फर्ग्यूसन।

Azam Khan News: लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर सपा नेता आजम खान का अजीब बयान, कह दी ये बड़ी बात

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातपिता कर रहा मजदूरी लेकिन बेटी के खाते में पड़े हैं करीब 10 करोड़ रुपये, जानिए क्या है पूरा मामला****** मजदूरी कर पूरे परिवार का पेट पालने वाले एक शख्स की बेटी के खाते में 10 करोड़ रुपये आने से हड़कंप मच गया। मामला बलिया के बांसडीह क्षेत्र के रुकनपुरा गांव का है। किशोरी जब अपनी मां के साथ बैंक पहुंची तो बैंक कर्मचारियों ने खाते में इतनी बड़ी रकम आने की पुष्टि की। बैंक ने किशोरी के खाते से लेनदेन पर रोक लगा दी है। अब किशोरी ने इस संबंध में बांसडीह कोतवाली में गुहार लगाई है और कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।रुकनपुरा के गांव के रहनेवाले सूबेदार साहनी मजदूरी करते हैं। उनकी बेटी सरोज का खाता इलाहाबाद बैंक की बांसडीह शाखा में है। सरोज जब अपने खाते में लेनदेन के क्रम में बैंक ब्रांच पहुंची तो बैंक अधिकारियों ने उसे इस संबंध में जानकारी दी और कहा कि उसके खाते से फिलहाल लेनदेन को लेकर रोक लगा दी गई है। बैंक अधिकारियों ने बताया कि उसके खाते में 9 करोड़ 99 लाख चार हजार सात सौ छत्तीस रुपये हैं। इस जानकारी के बाद सरोज के तो होश उड़ गए। वह आनन-फानन में कोतवाली पहुंची और इस संबंध में उसने शिकायत दर्ज कराई है।सरोज का कहना है कि इलाहाबाद बैंक में उसने अपना खाता 2018 में खुलवाया था। दो साल पहले कानपुर देहात के ग्राम पाकरा के रहनेवाले निलेश कुमार नाम के शख्स ने उसे फोन कर पीएम आवास दिलाने के नाम पर उससे आधार कार्ड, फोटो आदि उपलब्ध कराने को कहा था। सरोज ने बताए गए पते पर अपना आधार कार्ड, फोटो और अन्य कागजात भेज दिये। कुछ दिनों के बाद उसके पास डाक के जरिए एक एटीएम कार्ड आया। निलेश ने एटीएम भी डाक के जरिए भेज देने को कहा और का पिनकोड की जानकारी भी हासिल कर ली। सरोज ने पुलिस को दिये शिकायती पत्र में अपने खाते से हुए लेनदेन को लेकर पूरी तरह से अनभिज्ञता जताई है। निलेश नाम के शख्स से उसकी जिस मोबाइल नंबर पर बात होती थी वह नंबर स्विच ऑफ बता रहा है। फिलहाल पुलिस इस मामले की छानबीन में जुटी है।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातशुक्रवार से ATM पर मिलेंगे 500 और 2000 के नए नोट******: के शुक्रवार को फिर खुलने पर 500 और 2000 के नोट भी लोगों के उपलब्ध रहेंगे। सौ रुपये के नोटों में बड़ी राशि चुकाने की उसकी क्षमता को लेकर घबड़ाहट के बीच वित्त सचिव अशोक लवासा ने साफ किया कि एटीएम से 500 और 2000 के नए नोट भी लोग प्राप्त कर सकेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को 500 और 1000 रुपये मूल्य के नोटों के विमुद्रीकरण के बाद इस तरह की घबराहट पैदा हुई है। इस घोषणा के बाद लेन-देन के लिए लोगों को 100 रुपये मूल्य के नोट प्राप्त करने में काफी कठिनाई हुई।()लवासा ने कहा, "कोई कठिनाई नहीं होगी, क्योंकि 500 और 2000 रुपये के नोट सभी एटीएम पर 11 नवम्बर से उपलब्ध होंगे।"सरकार ने पहले मंगलवार को घोषणा की थी कि सभी एटीएम दो दिनों के लिए बंद रहेंगे। जब शुक्रवार को एटीएम खुलेंगे तो एक व्यक्ति एकल कार्ड के जरिए 18 नवम्बर तक 2000 रुपये प्रतिदिन निकाल सकता है। इसके बाद सीमा बढ़ा कर प्रतिदिन चार हजार रुपये कर दी जाएगी।लवासा ने कहा, "भारतीय रिजर्व बैंक जारी होने वाले नए नोटों की बराबर निगरानी करेगा। 500 और 1000 रुपये मूल्य के नए नोटों की आपूर्ति बढ़ने के बाद नकद निकासी सीमा समाप्त कर दी जाएगी।" आरबीआई के आंकड़ों के अनुसार, भारत में 17,54,000 करोड़ रुपये मूल्य की मुद्राएं संचरण में हैं, जिनमें 45 प्रतिशत 500 रुपये मूल्य के और 39 प्रतिशत 1000 रुपये मूल्य के नोट शामिल हैं।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातहरियाणा के सोनीपत में ट्रक ने कार और जीप को मारी टक्कर, 12 लोगों की मौत, 7 घायल****** हरियाणा के सोनीपत में मुडलाना गांव के पास एक ट्रक ने रविवार को एक कार और एक जीप को टक्कर मार दी, जिससे कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई। सोनीपत की पुलिस अधीक्षक प्रतीक्षा गोदारा ने बताया, ‘‘अब तक 12 लोगों की मौत हुई है। दुर्घटना में सात लोग घायल हुए हैं।’’पुलिस ने बताया कि यह दुर्घटना शाम करीब छह बजे गोहाना-पानीपत राजमार्ग पर हुई, जब एक ट्रक ने एक कार और एक जीप को टक्कर मार दी।पुलिस ने बताया कि घायलों को खानपुर स्थित पीजीआई ले जाया गया है। उन्होंने बताया कि ट्रक चालक दुर्घटना के फौरन बाद मौके से फरार हो गया। ट्रक को जब्त कर लिया गया है।

Azam Khan News: लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर सपा नेता आजम खान का अजीब बयान, कह दी ये बड़ी बात

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातDairy Sector में बनेंगे रोजगार के बंपर मौके, अगले दो साल में 2 लाख और डेयरियों के गठन की मिलेगी मंजूरी******Highlights में आने वाले दिनों में बड़ी संख्या में रोजगार के मौके बनेंगे। दरअसल, सरकार ने 2024 से पहले ग्रामीण स्तर पर दो लाख नई दुग्ध सहकारी समितियों (डेयरी) के गठन करने का ऐलान किया है। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए डेयरी क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बूस्ट करने के साथ यह बंपर रोजगार के मौके पैदा करने वाला होगा। नए युवा उद्यमी इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना पाएंगे। साथ ही देशभर के पशुपालन करने वाले किसानों की आमदनी बढ़ेगी।केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह ने ऐलान किया है कि भारत कुछ वर्षों में ही दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा जिसमें सहकारिता क्षेत्र को भी अहम भूमिका निभानी होगी। शाह ने ग्रेटर नोएडा में आयोजित विश्व डेयरी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 2024 में होने वाले अगले लोकसभा चुनावों के पहले सरकार ग्रामीण स्तर पर दो लाख नई दुग्ध सहकारी समितियों के गठन में मदद करेगी। उन्होंने डेयरी क्षेत्र से पेशेवर अंदाज, नवीनतम प्रौद्योगिकी, कंप्यूटरीकरण और डिजिटल भुगतान की व्यवस्था को अपनाने का अनुरोध करते हुए कहा कि इससे दुग्ध उत्पादन बढ़ाने में मदद मिलेगी। इससे न केवल घरेलू जरूरतों को पूरा किया जा सकेगा बल्कि गरीब देशों को आपूर्ति भी की जा सकेगी। उन्होंने डेयरी उद्योग से दुग्ध प्रसंस्करण के लिए इस्तेमाल होने वाली मशीनों के विनिर्माण में आत्मनिर्भर होने का आह्वान भी किया। उन्होंने कहा, ‘‘भारत 2014 में दुनिया की 14वीं बड़ी अर्थव्यवस्था था लेकिन अब यह पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। मुझे पूरा भरोसा है कि अगले कुछ वर्षों में हम तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएंगे।’’ उन्होंने कहा कि दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के समय भारत के सहकारिता क्षेत्र के योगदान की भी चर्चा होगी। उन्होंने डेयरी क्षेत्र में सक्रिय सहकारी समितियों और कंपनियों के बीच फर्क करने की जरूरत पर भी जोर दिया।उन्होंने कहा कि डेयरी सहकारी समितियों ने महिलाओं के सशक्तीकरण में बड़ी भूमिका निभाई है और इससे कुपोषण से जंग करने में भी मदद मिली है। उन्होंने कहा, ‘‘सहकारिता क्षेत्र और डेयरी सहकारी समितियों ने ग्रामीण विकास में काफी काम किया है।’’ उन्होंने डेयरी उद्योग से प्राकृतिक खेती को अपनी जीवनरेखा बनाने का अनुरोध करते हुए कहा कि इससे लोगों की सेहत सुधरने के साथ आर्थिक व्यवस्था को भी मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि ऑर्गेनिक कृषि एवं निर्यात को प्रोत्साहन देने के लिए तीन बहु-सहकारी समितियां भी बनाई जा रही हैं।डेयरी फार्मिंग के लिए सरकार सहायता भी उपलब्‍ध कराती है। राज्‍य सरकारें अपने पशुपालकों को मदद देने के लिए सब्सिडी उपलब्‍ध कराती है। आजकल बहुत से पढ़े.लिखे युवा इस काम को प्रोफेशनल तरीके से करके बहुत अच्‍छा पैसा कमा रहे हैं। इस बिजनेस की खास बात यह है कि दूध की डिमांड सालभर रहने से बिक्री की कोई चिंता नहीं रहती है। सरकार ने मुद्रा स्कीम में डेयरी बिजनेस भी है। रिपोर्ट के अनुसार कुल 16 लाख रुपये के खर्च में 1000 वर्गफुट एरिया में यूनिट शुरू की जा सकती है। इतने एरिया में शुरू होने वाले यूनिट में रोज 500 लीटर दूध की खपत में प्रोडक्ट तैयार किए जा सकते हैं। इन 16 लाख रुपये में आपको 4 लाख रुपए निवेश करना होगा। बाकी खर्च सरकार मुद्रा योजना के तहत लोन के रूप में देगी। अगर रोज 500 लीटर या सालाना 1.5 लाख लीटर दूध की प्रॉसेसिंग से जितना प्रोडक्ट तैयार होगा तो सालाना टर्न ओवर 82 लाख रुपये तक हो सकता है।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातशनिवार के दिन इन चीजों का घर में प्रवेश करें वर्जित और फिर देखें चमत्कार******खरीददारी करना सभी को पसंद होता है। जब भी आपको वक्त मिलता है तो आपके शापिंग के लिए निकल जाते है। हमें ज्यादातर समय शनिवार या रविवार को मिलता है, लेकिन शनिवार को शापिंग करते वक्त सावधानियां बरतनी चाहिए, क्योंकि इस दिन कुछ चीजें खरीदने से घर में कलह, दुख, लड़ाई जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती हैं। इस बारें में ज्योतिष शास्त्र में भी इसके कुछ नियम बताए गए हैं। जानिए ऐसी कौनसी वस्तुएं हैं जो शनिवार को घर नहीं लानी चाहिए या इस दिन इन्हें नहीं खरीदना चाहिए-सर्दियों में काले तिल शरीर को पुष्ट करते हैं। ये शीत से मुकाबला करने के लिए शरीर की गर्मी को बरकरार रखते हैं। पूजन में भी इनका उपयोग किया जाता है। शनि देव की दशा टालने के लिए काले तिल का दान और पीपल के वृक्ष पर भी काले तिल चढ़ाने का नियम है, लेकिन शनिवार को काले तिल कभी न खरीदें। कहा जाता है कि इस दिन काले तिल खरीदने से कार्यों में बाधा आती है।शनिवार के दिन अनाज पीसने के लिए चक्की भी नहीं खरीदनी चाहिए। माना जाता है कि यह परिवार में तनाव लाती है और इसके आटे से बना भोजन रोगकारी होता है।समाज में यह परंपरा लंबे समय से चली आ रही है कि शनिवार को लोहे का बना सामान नहीं खरीदना चाहिए। मान्यता है कि शनिवार को लोहे का सामान क्रय करने से शनि देव कुपित होते हैं और शनि दोष भी लग सकता है, लेकिन इस दिन लोहे से बनी चीजों के दान का विशेष महत्व है। लोहे का सामान दान करने से शनि देव की कोप दृष्टि निर्मल होती है और घाटे में चल रहा व्यापार मुनाफा देने लगता है। इसके अतिरिक्त शनि देव यंत्रों से होने वाली दुर्घटना से भी बचाते हैं।नमक हमारे भोजन का सबसे अहम हिस्सा है। अगर नमक खरीदना है तो बेहतर होगा शनिवार के बजाय किसी और दिन ही खरीदें। शनिवार को नमक खरीदने से यह उस घर पर कर्ज लाता है। साथ ही रोगकारी भी होता है।शनिवार के दिन तेल खरीदने से भी बचना चाहिए। हलांकि तेल का दान किया जा सकता है। काले श्वान को सरसों के तेल से बना हलुआ खिलाने से शनि की दशा टलती है। ज्योतिष के अनुसार, शनिवार को सरसों या किसी भी पदार्थ का तेल खरीदने से वह रोगकारी होता है।भारतीय संस्कृति में अग्नि को देवता माना गया है और ईंधन की पवित्रता पर विशेष जोर दिया गया है लेकिन शनिवार को ईंधन खरीदना वर्जित है। माना जाता है कि शनिवार को घर लाया गया ईंधन परिवार को कष्ट पहुंचाता है।कैंची ऐसी चीज है जो कपड़े, कागज आदि काटने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। पुराने समय से ही कपड़े के कारोबारी, टेलर आदि शनिवार को नई कैंची नहीं खरीदते। यह मान्यता है कि इस दिन खरीदी गई कैंची रिश्तों में तनाव लाती है।विद्या मनुष्य को यश और प्रसिद्धि दिलाती है और उसे अभिव्यक्त करने का सबसे बड़ा माध्यम है कलम। कागज, कलम आदि खरीदने के लिए सबसे श्रेष्ठ दिन गुरुवार है। शनिवार को स्याही न खरीदें। यह मनुष्य को अपयश का भागी बनाती है।शरीर के लिए जितने जरूरी वस्त्र हैं, उतने ही जूते भी। खासतौर से काले रंग के जूते पसंद करने वालों की तादाद आज भी काफी है। अगर आपको काले रंग के जूते खरीदने हैं तो शनिवार को न खरीदें। माना जाता है कि शनिवार को काले जूते खरीद कर पहनने से काम में असफलता प्राप्त होती है।झाडू घर के विकारों को बुहार कर उसे निर्मल बनाती है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का आगमन होता है। झाडू खरीदने के लिए शनिवार को उपयुक्त नहीं माना जाता। शनिवार को झाडू घर लाने से दरिद्रता का आगमन होता है।

Azam Khan News: लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर सपा नेता आजम खान का अजीब बयान, कह दी ये बड़ी बात

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातसाइक्लिस्ट त्रियाशा पॉल कोरोना वायरस से संक्रमित, साइ ने दी जानकारी******साइक्लिस्ट त्रियाशा पॉल को राष्ट्रीय शिविर के लिये यहां पहुंचने के बाद कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया है और वह इस समय पृथकवास में हैं। भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने रविवार को यह जानकारी दी। साइ ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘साइक्लिस्ट त्रियाशा पॉल कोविड-19 पॉजिटिव पायी गयी हैं जो राष्ट्रीय साइक्लिंग शिविर का हिस्सा हैं। यह शिविर इंदिरा गांधी नेशनल स्टेडियम में शुरू होना है। ’’ इसके अनुसार, ‘‘त्रियाशा 12 अगस्त को शिविर में पहुंची और उनका आगमन के बाद होने वाला साइ का अनिवार्य कोविड-19 परीक्षण कराया गया।’’इस महीने के शुरू में 11 एथलीट, चार कोच और 16 सहयोगी स्टाफ शिविर के लिये पहुंचे और अनिवार्य परीक्षण में वे कोविड-19 नेगेटिव मिले। वे इस समय पृथकवास में हैं। साइ ने कहा, ‘‘टीम के सभी सदस्य यहां पहुंचने के बाद अलग रह रहे हैं इसलिये त्रियाशा ने इस दौरान किसी से बातचीत नहीं की है।’’इसमें कहा गया, ‘‘उन्हें सभी जरूरी उपचार दिया जा रहा है और वह परिसर के अंदर अलग रह रही हैं। ’’ भारतीय साइक्लिंग महासंघ के चेयरमैन ओंकार सिंह ने कहा, ‘‘राष्ट्रीय शिविर अभी शुरू होना है। भारतीय साइक्लिंग महासंघ कल बैठक में फैसला करेगा।’’ त्रियाशा के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘वह देर से आयी थीं। उनमें कोई लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं और वह पृथकवास में हैं। ’’

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातAmerica News: भारत-अमेरिका का संबंध विश्व की शांति और स्थिरता के लिए जरूरी: अमेरिका******Highlightsअमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन का मानना है कि भारत-अमेरिका संबंध, वैश्विक शांति, स्थिरता और आर्थिक लचीलेपन के लिए जरूरी है। अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि (यूएसटीआर) कैथरीन ताइ ने सोमवार को भारत के स्वतंत्रता दिवस पर इंडिया हाउस में अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘राष्ट्रपति बाइडन का मानना है कि हमारे दो महान लोकतंत्रों के बीच संबंध वैश्विक शांति, स्थिरता और आर्थिक लचीलेपन के लिए आवश्यक है।’’पिछले साल भारत की यात्रा करने वाली ताइ ने कहा कि उन्होंने उस यात्रा के दौरान देश की जीवंत संस्कृति का वास्तविक रूप देखा था। ताइ ने कहा मुश्किल मुद्दों पर काम करने के लिए दोनों देश अब बेहतर स्थिति में हैं।भारतीय आतिथ्य सत्कार का मुकाबला करना मुश्किल: अमेरिकाउन्होंने कहा, ‘‘हालांकि, मैं हमेशा दुनियाभर में हमारे महत्वपूर्ण व्यापार साझेदारों के बीच तुलना करने से बचती हूं लेकिन मैं यह मानूंगी कि भारतीय आतिथ्य सत्कार का मुकाबला करना मुश्किल है।’’ उन्होंने कहा, ''भारत और अमेरिका अपने मतभेदों के बावजूद 21वीं सदी में आगे बढ़ते हुए एक जैसी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। हमारे नेता एक साथ मिलकर उन चुनौतियों से निपटने के लिए स्पष्ट रूप से पहले से ज्यादा प्रतिबद्ध हैं और मुझे इसका हिस्सा बनकर खुशी है।’’ अमेरिका की शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘‘वस्तु एवं सेवाओं में हमारा द्विपक्षीय व्यापार तेजी से बढ़ रहा है और 2021 में यह 160 अरब डॉलर तक पहुंच गया है। साथ ही मुश्किल मुद्दों पर काम करने की हमारी क्षमता पहले के मुकाबले कहीं अधिक बेहतर है।’’इस मौके पर उनके साथ बाइडन प्रशासन के कई वरिष्ठ सदस्य भी शामिल हुए। इसके अलावा अंतरिक्ष यात्री और नासा की उप-प्रशासक, नोबेल पुरस्कार से सम्मानित डॉ. विलियम डी फिलिप्स तथा राज सुब्रह्मण्यम और पुनीत रंजन समेत अमेरिका-भारत सीईओ मंच के कई सदस्य भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए।मिलकर करेंगे चुनौतियों का सामना: बाइडनबता दें, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारत के 76वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने अमेरिका को एक अधिक समावेशी और मजबूत राष्ट्र बनाया है और आने वाले सालों में वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए मिलकर काम करना जारी रखेंगे। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि वह भारत की लोकतांत्रिक यात्रा के सम्मान में उसके लोगों के साथ हैं।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातराशिफल 20 अक्टूबर 2021: कुंभ राशि वालों को आर्थिक मामलों में मिलेगा लाभ, जानें अन्य का हाल******आज आश्विन शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि और बुधवार का दिन है। पूर्णिमा तिथि आज रात 8 बजकर 26 मिनट तक रहेगी। आज पूरा दिन पूरी रात पार कर कल सुबह 5 बजकर 40 मिनट तक हर्षण योग रहेगा। साथ ही आज दोपहर 2 बजकर 2 मिनट तक रेवती नक्षत्र रहेगा। आज शरद पूर्णिमा है। आचार्य इंदु प्रकाश से जानते हैं राशि के अनुसार कैसा रहेगा आपका दिन और किन उपायों से आप अपना दिन बेहतर कर सकते हैं।आज आप लोगों को अपनी योजनाओं से सहमत कर लेंगे। आपको किस्मत का पूरा-पूरा साथ मिलेगा। माता-पिता आपको कोई अच्छा गिफ्ट देंगे। ऑफिस में सीनियर्स आपके काम को देखकर खुश होंगे। लवमेट के लिए का दिन अनुकूल रहेगा। तकनीकी क्षेत्र के स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन फेवरेबल है। आप किसी नई तकनीक को सीखने की भी कोशिश करेंगे और उसमें सफल भी होंगे।आज आपका दिन उत्तम रहेगा। आज आपको किसी खास व्यक्ति का सहयोग मिलेगा। इस राशि के स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन अच्छा रहेगा।किसी कॉम्पिटिटिव एग्जाम से रिलेटेड आज आपको अच्छा परिणाम मिलेगा। आर्थिक क्षेत्र में स्थिरता बनी रहेगी। आप दोस्तों के साथ कुछ खुशी के पल बितायेंगे, जिससे आपकी दोस्ती और मजबूत होगी। अचानक कहीं बाहर जाने के योग बन रहे हैं। आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी।आज आपकाकाफी समय से रूके हुए कार्य आसानी से पूरा होगा। पैसों से जुड़े बड़े फैसले आपको सोच-समझकर ही लेने चाहिए। घरवालों के साथ समय बिताने से अच्छा महसूस होगा, पारिवारिक रिश्ते और मजबूत होंगे। आपको किसी भी कार्य को करते समय अपना मन शांत रखना चाहिए। कोर्ट- कचहरी के मामले में आपको किसी अनुभवी व्यक्ति से ही सलाह लेनी चाहिए। छात्रों के लिये दिन ठीक रहेगा, आपको अपनी मेहनत का फल जरूर मिलेगा।आज आपका दिन सामान्य रहेगा। आज आप अपने खर्चों को नियंत्रित करने का प्लान बनायेंगे। ऑफिस के कार्यो को पूरा करने मे आपको सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। इस राशि वाले छात्रों को आज पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। आप अपने व्यवहार को निखारने की कोशिश करेंगे।महिलाओं को घर के कार्यों को पूरा करने में समय लगेगा। आपको अच्छे फल पाने के लिये ज्यादा मेहनत करनी होगी।आज आपका दिन मिला-जुला रहेगा। इस राशि के इंजीनियर्स के लिए आज का दिन फायदेमंद रहने वाला है। मेहनत के बल पर आज आपको कार्यों में सफलता मिलेगी। घर पर किसी नन्हे मेहमान का आगमन होगा। आपको किसी भी वाद-विवाद में पड़ने से बचने की जरूरत है। किसी से बातचीत करते समय आपको अपनी वाणी पर संयम रखना चाहिए। बच्चों की सफलता से आपको गर्व की अनुभूति होगी।आज घर के किसी काम को पूरा करने में बड़े-बुजुर्गों की राय आपके लिए कारगर साबित होगी। इस राशि के लवमेट के लिए आज का दिन बढ़िया है। नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं को आज किसी अच्छी कंपनी में जॉब का ऑफर आयेगा।किसी व्यक्ति से आपको उम्मीद से अधिक फायदा होगा। महिलाएं आज कोई उद्योग शुरू करने का मन बनायेंगी। कार्यक्षेत्र में सीनियर्स का सहयोग मिलता रहेगा।आज आपका दिन अच्छा रहेगा। इस राशि के कॉलेज के स्टूडेंट्स को नयी गतिविधियों में शामिल होने का मौका मिलेगा। आज रुकाहुआसरकारी काम पूरा हो जायेगा। अपनी जिम्मेदारियों को अच्छे से निभायेंगे। दोस्तों की सलाह आज आपके बहुत काम आएगी। आप अपने कार्यक्षेत्र में बेहतर ढंग से काम करने की कोशिश करेंगे। करोबार में बरकत होने के योग है, कोई नया पार्टनर, पार्टनरशिप के लिए मिलेगा।आज आपका दिन ठीक-ठाक रहेगा। आपको पैसों के मामलो में थोड़ीसावधानी बरतने की जरूरत है। आज आप अपने जीवनसाथी के साथ डिनर का प्लान करेंगे। ऑफिस के किसी काम को पूरा करने के लिए उम्मीद से ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। आज आपके लिए कोई फैसला करना थोड़ाकठिन होगा। आज आपको उन लोगों से सावधान रहने की जरूरत है, जो आपको गलत राह पर ले जाने की सोचते हैं।आज आपका दिन पहले की अपेक्षा अच्छा रहेगा। कारोबार को लेकर आपकी जिम्मेदारियां बढ़ेगी। नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को मनपसंद कंपनी से इंटरव्यू के लिए कॉल आयेगा। आप अपने खर्चों पर कंट्रोल करने की कोशिश करेंगे। इस राशि के स्टूडेंट्स को शिक्षकों का सपोर्ट मिलेगा। आज हर कोई आपकी बातों से प्रभावित होगा। साथ ही आज किसी धार्मिक आयोजन में हिस्सा लेने का मौका मिलेगा।आज आपका दिन शानदार रहेगा। आपको परिवार से जुड़ी कई जिम्मेदारियां निभानी पड़ेंगी। अपने व्यक्तित्व को निखारने के लिए आज का दिन बढ़िया है। आज का दिन कम मेहनत में ज्यादा फल दिलाने वाला रहेगा। ऑफिस के बहुत दिनों से रुके हुये कामों को आज आप आसानी से निपटा लेंगे। साथ काम करने वाले लोगों से आपको मदद मिलेगी।माता का सहयोग आपको प्राप्त होगा।आज आपका दिन फेवरेबल रहेगा। किसी रचनात्मक कार्य में आपका नाम होगा। आपको आर्थिक मामलों में मिलेगा। बच्चे आपको कोई शुभ समाचार देंगे। सेहत के मामले में आप खुद को स्वस्थ महसूस करेंगे। आपको अपनी मेहनत का फल जरूर मिलेगा। अपने भविष्य को बेहतर बनाने के लिए आप नये कदम उठायेंगे। आपकी सकारात्मक सोच आपको लाभ दिलायेगी।अचानक धन लाभ के अवसर बन रहे हैं।आज पैसों की स्थिति में बड़े बदलाव होने की संभावना है। आपके व्यवहार से आपका जीवनसाथी प्रसन्न रहेगा। आज शाम तक कोई शुभ समाचार मिलने से घर में खुशियों का माहौल बनेगा। इस राशि के व्यापारी वर्ग को अचानक कोई बड़ा धन लाभ होने के योग बन रहे हैं। आपका आर्थिक पक्ष पहले की अपेक्षा मजबूत रहेगा। आज समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातशिखर धवन का रिकॉर्ड शतक, अफगानिस्तान के टेस्ट डेब्यू समेत पहले दिन के खेल की 5 बड़ी बातें****** और के बीच खेले जा रहे एतिहासिक टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल खत्म हो गया। एतिहासिक टेस्ट मैच के पहले दिन काफी कुछ ऐसा घटा जिसने इस दिन को इतिहास के सुनहरे पन्नों में दर्ज करा दिया। ने तेज-तर्रार शतक लगाया, तो वहीं ने करियर का 12वां शतक ठोका। अफगानिस्तान ने पहली बार टेस्ट क्रिकेट का स्वाद चखा तो वहीं को 8 साल बाद टेस्ट खेलने का मौका मिला। आइए आपको बताते हैं पहले दिन के खेल की 5 बड़ी बातें। धवन ने अफगानिस्तान के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन लंच से पहले ही शतक ठोक डाला। इसके साथ ही धवन लंच से पहले शतक लगाने वाले भारत के पहले और दुनिया के छठे बल्लेबाज बन गए। धवन से पहले विक्टर ट्रंपर, चार्ल्स मैकार्टने, डॉन ब्रैडमैन, माजिद खान इस कारनामे को अंजाम दे चुके हैं। इस मैच में पहले धवन और फिर विजय ने शतक लगाया। इसके साथ ही ये तीसरा मौका है जब इन दोनों सलामी बल्लेबाजों ने एक ही मैच की एक ही पारी में शतक लगाया है। इनके अलावा भारत की कोई भी सलामी आज तक एक बार से ज्यादा ऐसा नहीं कर सकी है। कार्तिक के लिए लिए भी ये टेस्ट यादगार रहा क्योंकि उन्हें 8 साल के बाद टेस्ट टीम में जगह मिली है। कार्तिक ने भारत के लिए इस टेस्ट से पहले आखिरी टेस्ट साल 2010 में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था। उस टेस्ट से लेकर अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट तक कार्तिक 87 टेस्ट मिल कर चुके थे जो कि भारत की तरफ से सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। हालांकि कार्तिक के लिए ये टेस्ट बल्ले से कुछ खास नहीं रहा और वो पहली पारी में 4 रन बनाकर रन आउट हो गए।इस मैच के जरिए अफगानिस्तान की टीम ने टेस्ट क्रिकेट में अपने कदम रखे। अफगानिस्तान टेस्ट खेलने वाला दुनिया का 12वां देश बन गया है। अफगानिस्तान से पहले हाल ही में आयरलैंड की टीम ने भी टेस्ट में डेब्यू किया था। भारत ने बैंगलुरू टेस्ट के पहले दिन 347 रन बनाए जो कि बैंगलुरू में किसी भी दिन के बाद सबसे ज्यादा स्कोर का दूसरा सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। इसस पहले भारत ने साल 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ पहले दिन का खेल खत्म होने तक 365 रन बनाए थे।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातGT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज******मुंबई। आक्रामक हरफनमौलाओं से भरी गुजरात टाइटंस और लखनऊ सुपर जाइंट्स सोमवार को जब इंडियन प्रीमियर लीग में एक दूसरे के खिलाफ पदार्पण करेंगी तो उनका इरादा जीत के साथ आगाज करने का होगा । गुजरात की पारी की शुरूआत शुभमन गिल और अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज रहमानुल्लाह गुरबाज कर सकते हैं। दोनों फॉर्म में होने पर किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की बखिया उधेड़ने में माहिर हैं । वैसे वानखेड़े स्टेडियम पर गेंदबाजों को उछाल मिल सकती है जिससे उन्हें सावधान रहना होगा।गुजरात के प्रदर्शन का दारोमदार कप्तान हार्दिक पंड्या पर होगा जिन्हें वानखेड़े स्टेडियम पर मुंबई इंडियंस के लिये खेलने का काफी अनुभव है । छक्के जड़ने में उस्ताद हार्दिक को बल्लेबाजी क्रम में और ऊपर आना होगा । इसी तरह राहुल तेवतिया भी आईपीएल में ‘एक मैच के चमत्कार’ का ठप्पा हटाने की कोशिश में होंगे । वह पहले ही कह चुके हैं कि बतौर बल्लेबाज अधिक जिम्मेदारी से खेलना चाहते हैं। हरफनमौला विजय शंकर के चार ओवर भी महत्वपूर्ण होंगे । ये तीनों अपने दम पर मैच जिताने की क्षमता रखते हैं और गुजरात को उम्मीद होगी कि ये एक ईकाई के रूप में सोमवार को अच्छा प्रदर्शन करें।कर्नाटक के अभिनव मनोहर और डेविड मिलर मध्यक्रम में उतरेंगे । गेंदबाजी में मोहम्मद शमी नेतृत्व करेंगे । वह अपने प्रदर्शन के दम पर साल के आखिर में आस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व कप की टीम में चयन का दावा पुख्ता करना चाहेंगे । लेग स्पिनर राशिद खान भी ‘मैच विनर’ खिलाड़ी हैं जिन्हें वानखेड़े स्टेडियम पर गेंदबाजी में मजा भी आता है। लखनऊ के लिये बहुत कुछ कप्तान केएल राहुल पर निर्भर होगा जो दक्षिण अफ्रीका के क्विंटोन डिकॉक के साथ पारी की शुरूआत करेंगे । दोनों तकनीक के भी धनी है और उनके पास हर तरह के शॉट्स भी हैं । लखनऊ के पास भी दीपक हुड्डा, कृणाल पंड्या और वेस्टइंडीज के जैसन होल्डर जैसे हरफनमौला हैं और मध्यक्रम में मनीष पांडे का अनुभव काम आयेगा।गेंदबाजी की अगुवाई इंदौर के तेज गेंदबाज आवेश खान करेंगे जबकि रवि बिश्नोई स्पिन का जिम्मा संभालेंगे । अब देखना यह है कि टीम प्रबंधन अतिरिक्त तेज गेंदबाज को उतारता है या स्पिनर को । पहले मैच में स्कोर कम रहा और ओस की भी भूमिका रही तो टॉस जीतने वाली टीम बल्लेबाजी चुनना चाहेगी ।हार्दिक पंड्या (कप्तान), अभिनव मनोहर, डेविड मिलर, गुरकीरत सिंह, साइ सुदर्शन, शुभमन गिल, राहुल तेवतिया, विजय शंकर, मैथ्यू वेड, रहमानुल्लाह गुरबाज, रिधिमान साहा, अलजारी जोसफ, दर्शन नलकांडे, डेामिनिक ड्रेक्स, जयंत यादव, लॉकी फर्ग्युसन, मोहम्मद शमी, नूर अहमद, प्रदीप सांगवान, राशिद खान, रविश्रीनिवासन साइ, वरूण आरोन, यश दयाल।केएल राहुल (कप्तान), मनन वोहरा, एविन लुईस, मनीष पांडे, क्विंटोन डिकॉक, रवि विश्नोई, दुष्मंता चामीरा, शाहबाज नदीम, मोहसिन खान, मयंक यादव, अंकित राजपूत, आवेश खान, एंड्रयू टाय, मार्कस स्टोइनिस, काइल मायर्स, करण शर्मा, कृष्णप्पा गौतम, आयुष बदोनी, दीपक हुड्डा, कृणाल पंड्या, जैसन होल्डर । मैच का समय : शाम 7:30 से

लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबात2023 की पहली तिमाही में भारत के GDP में आएगी रिकॉर्ड उछाल, बेहतर टीकाकरण प्रबंधन से होगा संभव******देश में सरकार के द्वारा को लेकर चलाए जा रहे अभियान का असर देखा जा रहा है। ) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2023 की पहली तिमाही में की वृद्धि दोहरे अंकों में 13 प्रतिशत पर बढ़ने की उम्मीद है। एक तरफ जहां पूरी दुनियां मंदी की आशंका से जूझ रही हैं ऐसे में यह देश की अर्थव्यवस्था के लिए बड़ी राहत की खबर है।वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में मूल मूल्य पर ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) 12.6 फीसदी रहने का अनुमान है, जो पहले 3.9 फीसदी था। आईसीआरए को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में सेक्टोरल ग्रोथ सर्विस सेक्टर (प्लस 17-19 प्रतिशत) और वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में प्लस5.5 प्रतिशत होगी, इसके बाद उद्योग (प्लस 9-11 प्रतिशत (प्लस 1.3 प्रतिशत) होगा।हालांकि, देश के कई हिस्सों में गर्मी की लहर के प्रतिकूल प्रभाव के कारण, कृषि और मछली पकड़ने में जीवीए की वृद्धि वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 1.0 प्रतिशत से घटकर वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही में 4.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है।आईसीआरए की मुख्य अर्थशास्त्री अदिति नायर ने एक विज्ञप्ति में कहा, "वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में भारत के जीडीपी विस्तार होने का अनुमान है। वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में भारतकोविड-19 की दूसरी लहर से निपटनेके साथ-साथ व्यापक टीकाकरण अभियान को संचालित करने में भी कामयाब रहा है। लोगटीकाकरण अभियान में शामिल होकर उसका हिस्सा भी बनें हैं, जो भारत की अर्थव्यवस्था को और मजबूती प्रदान करने की दिशा मेंहै।आईसीआरए के आकलन में, मध्यम से उच्च आय समूहों के लिए विवेकाधीन उपभोक्ता वस्तुओं से संपर्क-गहन सेवाओं की मांग में बदलाव आया है। यह निर्यात मांग में उभरती सतर्कता के संयोजन के साथ और औद्योगिक क्षेत्र के लिए मात्रा के साथ-साथ मार्जिन पर उच्च कमोडिटी कीमतों के प्रभाव के परिणामस्वरूप अपेक्षाकृत मध्यम औद्योगिक विकास की संभावना है।"वित्त वर्ष 2023 की शुरुआत के बाद से यात्रा से संबंधित सेवाओं में सुधार हुआ है, कॉर्पोरेट यात्रा से संबंधित मांग में वृद्धि होने का अनुमान है। इसके अलावा, परिवहन के भीतर, रेलवे और सड़क उप-क्षेत्रों को वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में एक स्वस्थ रिकवरी पोस्ट करने की उम्मीद है, जैसा कि रेल माल ढुलाई और जीएसटी ई-वे बिल में स्वस्थ साल-दर-साल वृद्धि से संकेत मिल रहा है।लखनऊकेलुलुमॉलविवादपरसपानेताआजमखानकाअजीबबयानकहदीयेबड़ीबातमां की कोख से 'गर्भधारण' करेंगी बेटियां, यूटरस ट्रांसप्लांट के लिए सक्षम बना IKDRC******Highlightsइंस्टीट्यूट ऑफ किडनी डिजीज एंड रिसर्च सेंटर (IKDRC) देश का पहला सरकारी यूटरस ट्रांसप्लांट सेंटर बन गया है। सबसे बड़ी बात की IKDRC दुनिया का पहला हॉस्पिटल भी बन गया है जहां एक दिन में दो यूटरस ट्रांसप्लांट हुए हैं। डॉटर्स डे के दिन यहां दो अलग-अलग AUFI रोगियों का यूटरस ट्रांसप्लांटग किया गया। सबसे बड़ी बात कि इन बेटियों के शरीर में उनकी माताओं का ही यूटरस ट्रांसप्लांट किया गया। रविवार की देर रात यह ऑपरेशन सफलता पूर्वक किया गया। यह ऑपरेशन तीन चरणों में पूरा हुआ। पहले चरण में यूटरस को डोनर के शरीर से निकाला गया। दूसरे चरण में अंगों की बेंच सर्जरी की गई और तीसरे चरण में यूटरस को ट्रांसप्लांट किया गया। यह सब कुछ डॉ विनीत मिश्रा की अध्यक्षता में की गई।पहला ऑपरेशन 28 वर्षीय रीना वानप्रिया का था, जो एक गृहिणी हैं जिनकी तीन साल पहले शादी हुई थी। जो अनियमित मासिक धर्म और डिडेलफिस गर्भाशय से पीड़ित थीं। डिडेलफीस एक दुर्लभ जन्मजात बीमारी होती है जहां एक महिला दो गर्भाशय के साथ पैदा होती है। इसे आमतौर पर दोहरा गर्भाशय कहा जाता है। यह गर्भावस्था की जटिलताओं और दर्दनाक माहवारी का कारण बन सकती है। हालांकि, रीना की 50 वर्षीय मां ने बेटी को मातृत्व के आनंद का अनुभव करने में मदद करने के लिए अपना गर्भाशय दान कर दिया।दूसरी मरीज 22 वर्षीय तबस्सुम बानो थीं। तबस्सुम बानो, जिनकी शादी को डेढ़ साल हो चुके हैं और जिन्हें मेयर-रोकितांस्की-कुस्टर-हौसर (MRKH) सिंड्रोम है, जो एक महिला प्रजनन प्रणाली रोग है। इस बीमारी में महिला या तो बिना योनि के पैदा होती है या फिर उसकी योनि अवविकसित होती है। इसलिए वह गर्भधारण करने में सक्षम नहीं होती। लेकिन बेटी की इस समस्या का समाधान तबस्सुम की 48 वर्षीय मां ने अपना गर्भाशय दान देकर कर दिया। डॉटर्स डे के दिन एक मां ने अपनी बेटी को अपना यूटरस देकर उसके जीवन को मातृत्व के सुख से भर दिया।डॉक्टरों ने बयान में कहा कि ट्रांसप्लांट के अगले डेढ़ महीनों में नियमित मासिक धर्म शुरू होने की उम्मीद है और संभवत: अगले 4-5 महीनों में गर्भधारण हो सकता है। एक अनुमान के अनुसार भारत की लगभग 15 प्रतिशत महिला आबादी में बांझपन से संबंधित समस्याएं हैं और 5000 में से 1 महिला में गर्भाशय नहीं है।

पिछला:इस वित्त वर्ष में अब तक 24,792 करोड़ रुपये के कर रिफंड जारी किये गये: आयकर विभाग
अगला:2011 विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ सचिन को आउट देने का नहीं मलाल – अम्पायर इयान गाउल्ड
संबंधित आलेख